'उसने मुझे 'किस' करना चाहा और फिर...'

  • 31 जनवरी 2018
गोवा इमेज कॉपीरइट Getty Images

शनिवार को गोवा में एक अमरीकी पर्यटक के साथ छेड़छाड़ हुई थी. अब पुलिस ने इस मामले में एक मोटरसाइकिल टैक्सी ड्राइवर को गिरफ़्तार किया है.

महिला द्वारा फ़ेसबुक पर तस्वीर पोस्ट करने के बाद इसिडोर फर्नांडीज को पुलिस ने हिरासत में लिया है. इस पोस्ट में अमरीकी महिला ने छेड़छाड़ के कथित वाक़ये के बारे में बताया है.

महिला ने लिखा है कि पहले ड्राइवर ने किस (चुंबन) के लिए कहा. जब महिला ने किस से इनकार कर दिया तो ड्राइवर ने अपनी पैंट में महिला से हाथ डलवाने की कोशिश की. फ़ेसबुक पर महिला ने अपनी पोस्ट को लोगों से शेयर करने का अनुरोध किया था.

उस महिला ने लिखा था कि 'इसे ज़्यादा से ज़्यादा लोग शेयर करें ताकि कोई और लड़की इस तरह के जोख़िम में न पड़े.'

सोमवार रात को महिला ने फ़ेसबुक पर पोस्ट डाली थी. उन्होंने लिखा है कि फर्नांडीज की टैक्सी को डिनर के लिए किराए पर लिया था. अपनी पोस्ट में उन्होंने फर्नांडीज के बारे में लिखा है, ''वो दोस्त की तरह बात कर रहा था. वो जिस तरह से बात कर रहा था उससे बिल्कुल एहसास नहीं हुआ कि नुक़सान भी पहुंचा सकता है.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

उन्होंने अपने एफ़बी पोस्ट में लिखा है, ''उसने कहा कि वो डिनर करने तक इंतजार करेगा और वापस होटल छोड़ देगा. जब मैं उसके साथ वापस होटल जाने लगी तो उसने दुर्व्यवहार करना शुरू कर दिया. वो जबरन मेरा हाथ अपनी शर्ट के भीतर ले गया. वो लगातार कह रहा था कि ख़ुद को प्रोफ़ेशनल रखो. फिर वो मेरा हाथ अपनी पैंट के पास ले गया.''

महिला ने दावा किया है, ''वो किसी और रूट से लेकर जा रहा था. उसने कहा कि इस रूट से कम समय लगेगा. अचानक से उसने टैक्सी रोक दी. मैं कुछ समझ पाती कि उसका लिंग मेरे हाथ में था. मैंने उस पर कुछ पैसे फेंके और व्यस्त सड़क की तरफ़ भागी.''

हाल के महीनों में यौन उत्पीड़न से जुड़े अनुभवों को लेकर दुनिया भर की महिलाओं ने बोलना शुरू किया है. यौन उत्पीड़न को लेकर अपने अनुभव साझा करने का #metoo अभियान दुनिया भर में चला. हाल ही में एक बॉलीवुड अभिनेत्री ने प्लेन में पैसेंजर पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे