प्रेस रिव्यूः नोएडा कथित फ़र्जी मुठभेड़ में दारोगा गिरफ़्तार

  • 5 फरवरी 2018
इमेज कॉपीरइट Getty Images

नवभारत टाइम्स के मुताबिक दिल्ली से सटे नोएडा में फ़र्जी मुठभेड़ मामले में एक दारोगा को गिरफ्तार कर लिया गया है.

ख़बर में बताया गया है नोएडा सेक्टर 122 में शनिवार रात को हुए कथित एनकाउंटर पर सवाल उठ रहे हैं. आरोप हैं कि इस घटना में ट्रेनी दारोगा ने प्रमोशन पाने के लिए एक जिम ट्रेनर को गोली मार दी थी.

ट्रेनर के परिवार ने आरोप लगाया है कि दरोगा ने जितेंद्र के गले में गोली मारी और उनके साथी सुनील के पैर में गोली लगी है.

आरोप है कि गोली मारने के बाद पुलिस घायल युवक को गाड़ी में 45 मिनट तक यहां-वहां घुमाती रही और बाद में सेक्टर 62 के फोर्टिस अस्पताल में उसे छोड़ दिया. हालांकि पुलिस ने एनकाउंटर से इनकार किया है और इसे आपसी रंजिश का मामला बताया है.

पुलिस उप महानिरीक्षक लव कुमार ने कहा, "दारोगा को गिरफ़्तार किया गया है और तीन अन्य सिपाहियों को निलंबित कर दिया गया है. ये मामला एनकाउंटर का नहीं बल्कि आपसी झगड़े का लग रहा है."

पिछले साल विदेशों में बस गए 7000 भारतीय करोड़पति

वर्ष 2017 में 7,000 भारतीय करोड़पति विदेशों में जाकर बस गए. नई दुनिया ने इस खबर को पहले पन्ने पर प्रमुखता से प्रकाशित किया है.

अखबार लिखता है कि बीते साल 7000 सुपर रिच लोगों ने देश छोड़ दिया. यह संख्या साल 2016 में भारत की नागरिकता छोड़कर दूसरे देशों में बसने वाले धन कुबेरों के मुक़ाबले 16 फ़ीसदी ज़्यादा है.

इस मामले में भारत चीन के बाद दूसरे स्थान पर है. न्यू वर्ल्ड वेल्थ की रिपोर्ट के मुताबिक साल 2016 में 6000, और 2015 में 4000 अति धनवान (हाई नेटवर्थ इंडिविजुअल्स) लोगों ने देश छोड़ा था.

वहीं, चीन में साल 2017 में 10 हज़ार करोड़पतियों ने अपना ठिकाना बदल लिया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

टीडीपी नई छोड़ेगी एनडीए का साथ

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) फ़िलहाल एनडीए से अलग नहीं होगी.

लेकिन वह संसद के भीतर और बाहर इस बात का विरोध करेंगे कि आम बजट में आंध्र प्रदेश का ख्याल नहीं रखा गया. रविवार को अमरावती में आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू के घर पर हुई बैठक में यह फ़ैसला लिया गया.

दक्षिण भारत में तेलुगु देशम बीजेपी की सबसे बड़ा सहयोगी पार्टी है. वह इस बात से ख़ासी नाराज है कि 1 फरवरी को पेश किए गए बजट में आंध्र प्रदेश को पूरी तरह नजरअंदाज कर दिया गया. लोकसभा में टीडीपी के 16 सदस्य हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

एनआरआई से शादी करने वाली महिलाएं परेशान

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक एनआरआई से शादी करने वाली महिलाओं को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

एक रिपोर्ट के अनुसार एनआरआई से शादी कर चुकी महिलाओं में से औसतन हर आठ घंटे में एक महिला अपने घर मदद के लिए फोन करती हैं.

खबर के अनुसार एनआरआई युवकों से शादी करने वाली महिलाएं अपने साथ होने वाले बुरे बर्ताव और पति द्वारा उन्हें छोड़ देने की वजह से अपने घर मदद के लिए फोन करती हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

विदेश मंत्रालय को प्राप्त शिकायतों के अनुसार 1 जनवरी 2015 से 30 नवंबर 2017 के बीच 1064 दिनों में विदेश मंत्रालय में इस तरह की 3,328 शिकायतें दर्ज की गईं. इसमें रोजाना औसतन तीन कॉल शामिल हैं

शिकायत दर्ज करवाने वाली अधिकतर महिलाएं पंजाब, आंध्र प्रदेश-तेलंगाना और गुजरात से हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए