औंधे मुंह गिरा सेंसेक्स, पल में पांच लाख करोड़ स्वाहा

  • 6 फरवरी 2018
सांकेतिक तस्वीर इमेज कॉपीरइट PUNIT PARANJPE/AFP/Getty Images

अमरीकी शेयर बाज़ार में आई ऐतिहासिक गिरावट का असर मंगलवार को भारत में भी देखने को मिला.

हालांकि भारतीय शेयर बाज़ारों में गिरावट का सिलसिला साल 2018-19 के लिए रखे गए बजट प्रस्तावों के बाद से ही जारी है.

लेकिन मंगलवार को दिन का कारोबार शुरू होते ही सेंसेक्स 1250 अंक गिरकर 33,506 पर खुला

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक़ ये गिरावट इतनी बड़ी थी कि निवेशकों को इस बिकवाली से 5,40,000 करोड़ रुपये से भी ज़्यादा का नुक़सान हुआ है.

ये है डाउ जोंस के लुढ़कने की वजह

डाऊ जोंस में साल 2008 के बाद सबसे बड़ी गिरावट

इमेज कॉपीरइट PAL PILLAI/AFP/Getty Images

डाउ जोंस की गिरावट

इससे पहले अमरीकी शेयर बाज़ार डाऊ जोंस 1175 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुआ है जो साल 2008 के वित्तीय संकट के बाद एक दिन में आई सबसे अधिक गिरावट है.

डाऊ जोंस 4.6 प्रतिशत की गिरावट के साथ सोमवार को 24,345.75 अंकों पर बंद हुआ है.

एस एंड पी 500 स्टॉक इंडेक्स 3.8 प्रतिशत और नेस्डेक 3.7 प्रतिशत की गिरावट के साथ बंद हुए हैं.

बाज़ार में पिछले कुछ महीनों से बढ़त बनी हुई थी, जिसकी वजह से चिंता जताई जा रही थी कि शेयरों की कीमत अधिक आंकी जा रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक औरट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे