AAP vs IAS : विधायक गिरफ़्तार, जानिए किसने क्या कहा?

  • 21 फरवरी 2018
अरविंद केजरीवाल इमेज कॉपीरइट Getty Images

दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश से हाथापाई करने के आरोप में आम आदमी पार्टी के विधायक प्रकाश जरवाल को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

इस मामले में दिल्ली पुलिस एक अन्य विधायक की तलाश कर रही है. पुलिस ने बताया कि गिरफ़्तार विधायक से पूछताछ की जा रही है.

अंशु प्रकाश ने आरोप लगाया है कि 'आप' के दो विधायकों ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की मौजूदगी में उन्हें पीटा.

आम आदमी पार्टी ने इन आरोपों को वेबुनियाद बताया है. पार्टी के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने बिना सबूत के विधायक की गिरफ़्तारी की है.

उन्होंने ट्वीट किया है, "दिल्ली पुलिस ने बिना कोई सबूत विधायक को गिरफ़्तार किया है. उन आईएएस अफ़सरों का क्या जो कैमरे में मंत्री को पीटते देखते जा सकते हैं? मंत्री के एफ़आईआर और वीडियो सबूत के बावजूद गिरफ़्तारी नहीं हुई है."

उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि जब उन्हें पीटा गया था तो वे मेडिकल जांच के लिए अस्पताल क्यों नहीं गए थे.

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी इस घटना पर प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने ट्वीट करके कहा है, "दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव के साथ हुए घटनाक्रम से गहरा दुख पहुंचा है. प्रशासनिक सेवाओं के लोगों को निडरता और गरिमा से काम करने देना चाहिए."

उधर, प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय माकन ने आम आदमी पार्टी पर नीरव मोदी के मुद्दे से ध्यान भटकाने का आरोप लगाया है.

उन्होंने ट्वीट किया है, "आम आदमी पार्टी की साधारण रणनीति है. दिल्ली के मुख्य सचिव को रात 12 बजे बुलाओ. उन्हें विधायकों से पिटवाओ और नीरव मोदी से ध्यान भटका कर भाजपा की मदद करो."

मामले के बाद मंगलवार को चीफ़ सेक्रेटरी के समर्थन में दिल्ली एडमिनिस्ट्रेटिव सब-ऑर्डिनेट सर्विसेज़ (दास कैडर) एसोसिएशन और आईएएस एसोसिएशन ने हड़ताल पर जाने की घोषणा कर दी थी. इन लोगों ने विधायक को गिरफ़्तार किए जाने तक हड़ताल जारी रखने की बात कही थी.

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक़ घटना सोमवार रात की है और अंशु प्रकाश ने उपराज्यपाल के घर जाकर इसकी शिकायत की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए