नरेंद्र मोदी भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ नहीं हैं, ख़ुद ही भ्रष्टाचार हैं: राहुल गांधी

  • 22 फरवरी 2018
राहुल गांधी इमेज कॉपीरइट AFP

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बड़ा हमला बोला है. उन्होंने मोदी को 'भ्रष्टाचार का औजार' बताया है.

मेघालय के शिलॉन्ग में संवाददाताओं से बात करते हुए बुधवार को उन्होंने कहा, "कांग्रेस पार्टी यह बात लंबे वक्त से कह रही है कि नरेंद्र मोदी भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ नहीं हैं, वो ख़ुद भ्रष्टाचार हैं. वो भ्रष्टाचार के औजार हैं."

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जनता के पैसे को कुछ लोगों में बांटने के आरोप लगाया है.

उन्होंने कहा, "पूरे देश का पैसा बैंकों में है. बैंकों में जमा लोगों के 22 हज़ार करोड़ रुपए नीरव मोदी के पास चले गए. एक के बाद एक ऐसे घोटले सामने आ रहे हैं."

राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी को ट्विटर पर भी घेरा है. उन्होंने 'मन की बात' को एक तरफा संवाद बताया है.

उन्होंने नरेंद्र मोदी के मन की बात के लिए आइडिया सुझाने वाले ट्वीट का स्क्रीनशॉट डालते हुए लिखा है, "लोगों से सुझाव क्यों मांग रहे हैं जब आप जानते हैं कि हर भारतीय आपसे क्या सुनना चाहते हैं?"

उन्होंने नरेंद्र मोदी से नीरव मोदी, राफेल डील पर मन की बात करने की सुनाने को कही है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मेघालय में एक रैली में राहुल गांधी ने कहा कि एक जादूगर की तरह नरेंद्र मोदी 8 दिसंबर 2016 को नोटबंदी की. लोगों को पैसे बैंक में रखने को मजबूर किया.

उन्होंने आगे कहा, "देश के लोग नोट बदलने के लिए लाइनों में खड़े दिखे और भ्रष्टाचारी बैंक के पिछले दरवाजे से काले धन को सफ़ेद किया. परिणाम यह हुआ कि वो (नरेंद्र मोदी) जनता से पैसे लेकर बैंकों में रख लिए और नीरव मोदी आकर पैसे लेकर निकल लिए."

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी परीक्षा कैसे दे, इस पर बच्चों को एक घंटे 45 मिनट समझा सकते हैं पर वो देश की जनता को यह बताने के लिए एक मिनट का समय नहीं निकाल सकते हैं कि उनके पैसे के साथ क्या होगा और नीरव मोदी कैसे पैसे लेकर भाग गए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए