प्रेस रिव्यू: भारत प्रशासित कश्मीर में चरमपंथियों के जनाज़े पर लगाम की तैयारी?

  • 27 फरवरी 2018
कश्मीर इमेज कॉपीरइट TAUSEEF MUSTAFA/AFP/Getty Images

भारत प्रशासित कश्मीर घाटी में चरमपंथियों के जनाज़े में इकट्ठा होने वाली भीड़ को रोकने के लिए जम्मू और कश्मीर की पुलिस को कदम उठाने के लिए कहा गया है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक़ जम्मू और कश्मीर पुलिस की खुफ़िया शाखा ने राज्य पुलिस को ये निर्देश दिया है.

अख़बार ने सीआईडी (क्रिमिनल इन्वेस्टिगेशन डिपार्टमेंट) के इंस्पेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस की तरफ़ से पुलिस महानिदेशक को भेजी गई एक खुफ़िया रिपोर्ट के हवाले से कहा है, "मुठभेड़ में मारे गए चरमपंथियों के जनाज़े नए रंगरूटों की भर्ती के लिए ज़मीन तैयार करते हैं."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

श्रीदेवी केस

दिल्ली से छपने वाले लगभग हर अख़बार ने मंगलवार को लगातार दूसरे दिन भी फ़िल्म अभिनेत्री श्रीदेवी की दुबई में मौत से जुड़ी ख़बरें पहले पन्ने पर छापी हैं.

सभी अख़बारों में ये ख़बर प्रमुखता से छपी है कि श्रीदेवी की मौत कार्डिएक अरेस्ट से नहीं बल्कि ऐक्सीडेंटल ड्राउनिंग यानी डूबने की वजह से हुई है.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट कहती है कि दुबई पुलिस श्रीदेवी की मौत की परिस्थितियों की जांच कर रही है.

सोमवार को पुलिस ने होटल स्टाफ़ और उनके पति बोनी कपूर से पूछताछ की.

अख़बार ने पुलिस सूत्रों के हवाले से लिखा है कि मंगलवार को पूछताछ पूरी होने के बाद ही उनके पार्थिव शरीर को ले जाने की इजाज़त दी जाएगी.

इमेज कॉपीरइट HOSHANG HASHIMI/AFP/Getty Images
Image caption पिछले हफ़्ते 23 फ़रवरी को अफ़ग़ानिस्तान में तापी गैस पाइपलाइन परियोजना के उद्घाटन के मौके पर विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर हेरात गए थे

भारत-पाक बातचीत

हिंदुस्तान टाइम्स ने पहले सफ़े पर ख़बर छापी है कि भारत और पाकिस्तान के विदेश सचिव इस सप्ताह काबुल में मुलाक़ात करेंगे.

अख़बार सूत्रों के हवाले से लिखता है कि भारत के विदेश सचिव विजय गोखले और पाकिस्तान की तहमीना जंजुआ एक बहुपक्षीय कांफ़्रेस के दौरान बातचीत करेंगे.

अगर ऐसा होता है तो ये बैंकॉक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों के बैठक के बाद, दोनों देशों के बीच पहली द्वीपक्षीय वार्ता होगी.

इमेज कॉपीरइट TAUSEEF MUSTAFA/AFP/Getty Images

भारत प्रशासित कश्मीर में चरमपंथियों ने अपने एक क़ैद साथी को छुड़ाने के लिए पुलिस स्टेशन पर हथगोला फेंका.

अंग्रेज़ी अख़बार डेक्कन हेरल्ड लिखता है कि इसके बाद मुश्ताक़ चोपान नाम के मिलिटेंट ने बुरक़ा पहनकर निकलने की कोशिश की, लेकिन वो मारा गया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

जीएसटी पर बैठक

दैनिक जागरण के मुताबिक जीएसटी के विवादित प्रावधानों पर अमल फिर टल सकता है.

अख़बार लिखता है कि जीएसटी काउंसिल दस मार्च को होने वाली बैठक में ऐसे किसी प्रस्ताव पर विचार कर सकती है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

अन्ना फिर धरने पर

नवभारत टाइम्स के अंदर के पन्नों पर छपी एक ख़बर के मुताबिक समाजसेवी अन्ना हज़ारे 23 मार्च एक बार फिर दिल्ली के रामलीला मैदान में धरने पर बैठने वाले हैं.

अन्ना ने लखनऊ में अख़बार को बताया है कि मौजूदा सरकार ने भ्रष्टाचार के दरवाज़े और खोल दिए हैं.

छोटी वित्तीय कंपनियों से भी ख़तरा

द ट्रिब्यून ने पहले पन्ने पर ख़बर छापी है कि केंद्र सरकार की फ़ाइनेंशियल इंटेलीजेंस यूनिट ने साढ़े नौ हज़ार नॉन बैंकिंग फ़ाइनेंशियल कंपनियों सूची बनाई है.

इन सभी कंपनियों को हाई रिस्क वित्तिय संस्थान करार दिया गया है. एफ़आईयू केंद्रीय वित्त मंत्रालय के अंतर्गत आने वाली संस्था है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए