छत्तीसगढ़ पुलिस का दावा- मुठभेड़ में 10 माओवादी मारे गए

  • 2 मार्च 2018
छत्तीसगढ़ में मुठभेड़ इमेज कॉपीरइट Alok Putul/BBC

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में पुलिस ने एक मुठभेड़ में कम से कम दस माओवादियों के मारे जाने का दावा किया है. पुलिस ने कहा है कि मारे गए माओवादियों की संख्या अभी और बढ़ सकती है.

पुलिस ने मारे गए माओवादियों से भारी मात्रा में हथियार भी बरामद करने का दावा भी किया है.

इस मुठभेड़ में पुलिस के 'ग्रेहाउंड' दस्ते के एक जवान की भी मौत हुई है.

इलाके के डीआईजी पुलिस सुंदरराज पी ने बीबीसी को बताया, "उसुर थाना क्षेत्र के पुजारीपारा में छत्तीसगढ़ और तेलंगाना के सुरक्षाबलों की एक टीम माओवादियों के ख़िलाफ़ ऑपरेशन चला रही थी, वहीं यह मुठभेड़ हुई है. मुठभेड़ के बाद हमने दस माओवादियों के शव बरामद किए हैं."

'कमर टूट जाएगी माओवादियों की'

Image caption प्रतीकात्मक तस्वीर

सुंदरराज पी ने कहा कि अभी इलाके में तलाशी अभियान जारी है. उन्होंने मारे गए माओवादियों की संख्या और बढ़ने की संभावना जताई है.

पुलिस का कहना है कि इस मुठभेड़ में मारे गए माओवादियों की पहचान की कोशिश चल रही है. मारे गए लोगों में माओवादी संगठन के कुछ बड़े नेता भी हो सकते हैं.

पुलिस इस मुठभेड़ को अपनी बड़ी क़ामयाबी मान कर चल रही है क्योंकि पिछले साल भर में एक साथ इतनी बड़ी संख्या में माओवादियों के मारे जाने की घटनाएं कम ही सामने आई हैं.

Image caption प्रतीकात्मक तस्वीर

बीजापुर इलाके में माओवादियों ने पिछले महीने भर में कई हिंसक घटनाओं को अंजाम दिया था.

सड़क निर्माण में लगे कई वाहनों को आग लगा दी गई थी, जिससे इलाके में सरकार द्वारा चलाया जा रहा सड़क निर्माण कार्य ठप पड़ गया था.

इसके अलावा राज्य के धमतरी, गरियाबंद और राजनांदगांव इलाके में भी माओवादी संगठन के विस्तार और नई कमेटियों के गठन की ख़बर आई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे