श्रीनगर: चरमपंथी हमला, छह की मौत

  • 5 मार्च 2018
सेना इमेज कॉपीरइट Reuters/Danish Ismail

भारत प्रशासित कश्मीर के शोपियां में रविवार देर रात चरमपंथी हमला हुआ.

हमले में दो चरमपंथी की मौत हुई है जबकि चार युवकों के शव मिले हैं. ये हमला श्रीनगर से करीब 60 किलोमीटर दूर दक्षिण कश्मीर के शोपियां के पहनू गांव की है.

आर्मी प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि जॉइंट मोबाइल व्हीकल चेकपोस्ट पर पहनू गांव के इलाके में कुछ चरमपंथियों ने हमला किया. ये लोग गाड़ी पर सवार थे.

सेना ने ये भी दावा किया कि हमला होने पर सेना ने भी जवाब में गोलीबारी शुरू की, जिसमें एक चरमपंथी मारा गया. चरमपंथी के पास से हथियार भी बरामद किए गए हैं.

उन्होंने आगे बताया कि गाड़ी में चरमपंथियों के तीन ग्राउंड वर्कर भी सवार थे, जो गाड़ी में मृत पाए गए हैं. चौथे युवक का शव सोमवार सुबह बरामद किया गया है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

राजनीतिक प्रतिक्रियाएं

कश्मीर के अलगाववादी नेताओ ने हमले में मारे गये चार युवकों का आम नागरिक बताया है.

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने शोपियां में मारे गए चार आम नौजवानों की मौत पर अफ़सोस जाहिर किया.

उन्होंने कहा, "शोपियां में क्रॉस फायरिंग में मारे गए कई आम नागरिकों की मौत से मुझे गहरी तकलीफ पहुंची है. मैं उनके परिवारवालों से हमदर्दी की इज़हार करती हूँ."

हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के चेयरमैन मीरवाइज मूलवी उम्र फ़ारुख ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर लिखा है, "शोपियां में कोहराम. सेना ने आम नागरिकों को मार गिराया. ये सब लोग गाड़ी में सवार थे. कश्मीर के लोग सुरक्षाबलों की इस बर्बरता की निंदा करते हैं और कल कश्मीर में मुकम्मल बंद किया जाएगा."

वहीं, पुलिस का कहना है कि वो इस घटना की जांच कर रही है. इस बीच पुलिस ने बताया है कि सोमवार सुबह लश्कर के एक चरमपंथी की लाश हूपोरा शोपियां में मिली है.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
किस हाल में हैं मारे गए सैनिकों के परिवारवाले?

कश्मीर बंद

पुलिस के मुताबिक़ मारे गए चरमपंथी की पहचान आशिक़ हुसैन बट के रूप में हुई है.

शुरुआती जांच से पता चलता है कि मृतक चरमपंथी शोपियां में हाल में हुई घटनाओं से जुड़ा हुआ है.

इस बीच जम्मू और कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के चीफ यासीन मालिक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है.

शोपियां में मारे गए चार आम लोगों की मौत के ख़िलाफ़ अलगावादियों के आह्वान पर कश्मीर में कारोबारी प्रतिष्ठान बंद रहे और सड़कों पर ट्रैफ़िक न के बराबर रहा.

कश्मीर के कई इलाकों से शोपियां में मारे गए चार आम लोगों की मौत के ख़िलाफ़ प्रदर्शनों की ख़बरें हैं.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
एक कश्मीरी छात्र की आवाज़

परीक्षा रद्द

मारे गए तीनों युवाओं की पहचान सुहैल खलील, मोहम्मद शहीद खान और शाहनवाज अहमद के रूप में की गई है.

जम्मू और कश्मीर पब्लिक सर्विस कमीशन ने सोमवार को होने वाली केएएस की परीक्षा को टाल दिया है.

इसके साथ ही प्रशासन ने श्रीनगर के कई इलाकों में आम लोगों के बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगाने का फैसला लिया है.

वहीं रेल सेवा को सोमवार दिन में स्थगित कर दिया गया है और इंटरनेट की सेवा भी कर दी गई है.

बीते हफ़्ते शोपियां में ही सेना की फायरिंग में तीन प्रदर्शनकारी मारे गए थे.

सेना ने उस समय कहा था कि उनकी टुकड़ी पर भीड़ ने पथराव किया था. इसलिए सेना को आत्मसुरक्षा के लिए गोली चलानी पड़ी.

पुलिस ने इस मामले में सेना के एक मेजर और उनके जवानों के खिलाफ़ मामला दर्ज किया था. घटना के बाद सरकार ने मामले की जांच के आदेश दिए थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे