प्रेस रिव्यू: 'श्री मोदी' नहीं कहा तो जवान की सात दिन की तनख़्वाह काटी

  • 7 मार्च 2018
बीएसएफ़ का जवान इमेज कॉपीरइट TAUSEEF MUSTAFA/AFP/Getty Images

टाइम्स ऑफ़ इंडिया में छपी एक ख़बर के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के सामने 'श्री' न लगाने के कारण सीमा सुरक्षा बल के एक जवान के सात दिन की तनख़्वाह काट दी गई है.

मामला 21 फ़रवरी का है जब बंगाल के नदिया के महातपुर में मौजूद बीएसएफ़ की 15वीं बटालियन के मुख्यालय में परेड चल रही थी. परेड के दौरान जवान संजीव कुमार ने रिपोर्ट देते वक्त 'मोदी के कार्यक्रम' का इस्तेमाल किया.

संजीव कुमार को बीएसएफ़ एक्ट की धारा 40 के अनुसार 'दोषी' पाया गया और सज़ा के तौर पर उनकी सात दिन की तनख़्वाह काटी गई.

इमेज कॉपीरइट ARUN SANKAR/AFP/Getty Images

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के मुताबिक़ पहली बार दिल्ली पुलिस अपनी स्पेशल वेपन्स एंड टैकलिंग टीम (स्वाट) में 40 महिलाओं को शामिल करने जा रही है. फिलहाल इस टीम में 200 पुरूष हैं.

स्वाट टीम का इस्तेमाल चरमपंथरोधी अभियानों के लिए किया जाता है.

एक स्वाट कमांडो के पास आधुनिक हथियार और सुरक्षा तकनीक होती है और ख़तरे का अलार्म बजने पर उन्हें कुछ ही सैंकेड के भीतर हमले के लिए तैयार होना पड़ता है.

महिलाओं की भागीदारी से सेना होगी मज़बूत?

अब सऊदी अरब की सेना में होंगी महिलाएं

इमेज कॉपीरइट Getty Images

हिंदुस्तान टाइम्स में छपी रिपोर्ट में लिखा है कि केंद्र सरकार बैंक खातों के साथ आधार नंबर लिंक करने की समयसीमा को 31 मार्च तक बढ़ा सकती है.

सुप्रीम कोर्ट में आधार की अनिवार्यता पर चल रही सुनवाई के दौरान एटॉर्नी जनरल केके वेनुगोपाल ने कोर्ट से कहा कि अगर 31 मार्च तक आधार पर कोर्ट का फैसला नहीं आता है तो सरकार इस समयसीमा को बढ़ा सकती है.

उन्होंने कहा कि हम पहले भी समयसीमा का बढ़ा चुके हैं और आगे भी बढ़ा सकते हैं, देखते हैं कि अदालत की कार्रवाई कहां पहुंचती है.

वर्चुअल आईडी से बचेगी 'आधार' की प्रतिष्ठा?

छत्तीसगढ़ में आधार नहीं तो ज़मानत के बाद भी रिहाई नहीं

इमेज कॉपीरइट Getty Images

'महात्मा गांधी हत्याकांड की फिर से जांच नहीं'

इंडियन एक्सप्रेस में छपी एक ख़बर के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट ने यह साफ़ कर दिया है कि वह महात्मा गांधी हत्याकांड की जांच नहीं कराएगी और ना इस मामले में पहले के फ़ैसले को दुरूस्त करेगी.

सुप्रीम कोर्ट ने इस हत्याकांड की जांच नए सिरे से कराने के लिए दायर याचिका पर सुनवाई पूरी कर ली. न्यायालय ने स्पष्ट किया कि वह भावनाओं से प्रभावित नहीं होगा.

कोर्ट ने कहा कि इस मुकदमे की फिर से सुनवाई कराने के लिए दायर याचिका अकादमिक शोध पर आधारित है और यह सालों पहले हुए किसी मामले को खोलने का आधार नहीं बन सकती.

गांधी की हत्या में नाथूराम गोडसे ने कोर्ट में यूं रखा था पक्ष

महात्मा गांधी ने ईसाई बनने से क्यों इनकार किया था?

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption आईसीसीआईसी बैंक की सीईओ चंदा कोचर

पीएनबी घोटाले में 35 बैंकों के प्रमुखों से होगी पूछताछ

अमर उजाला की ख़बर के मुताबिक़ पीएनबी घोटाले में सीरीयस फ्रॉड इन्वेसटिगेशन ऑफिस (एसएफआईओ) क़रीब 35 बैंकों के प्रमुख अधिकारियों से पूछताछ करेगा.

एसएफआईओ ने आईसीआईसीआई बैंक की सीईओ चंदा कोचर व एक्सिस बैंक की प्रमुख शिखा शर्मा के लिए समन जारी किये हैं.

मेहुल चोकसी को 5280 करोड़ रुपये के वर्किंग कैपिटल लोन देने के संबंध में बैंक के शीर्ष अफसरों को समन जारी किये गए हैं. यह लोन कुल 31 बैंकों ने मिलकर दिया था.

इस मामले में सीबीआई ने गीताजंलि के वाइस प्रेसिडेंट विपुल चितालिया को गिरफ्तार कर लिया है.

पकौड़ा, पीएनबी घोटाला और 2019 का हड़बड़िया विश्लेषण

जितना बड़ा फ्रॉड, उससे ज़्यादा निवेशकों को चपत

इमेज कॉपीरइट EPA

राजनाथ ने त्रिपुरा हिंसा मामले में गवर्नर को किया फोन

जनसत्ता अख़बार के मुताबिक़ त्रिपुरा में लेनिन की मू्र्ति गिराए जाने और छिटपुट हिंसा की खबरों के बीच गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को राज्य के राज्यपाल और डीजीपी से बात की और नई सरकार के कामकाज संभालने तक राज्य में शांति सुनिश्चित करने का कहा है.

शनिवार को चुनाव परिणामों की घोषणा के बाद त्रिपुरा के विभिन्न हिस्सों में प्रतिद्वंद्वी राजनीतिक समूहों के बीच हिंसा की खबरें सामने आई थी.

एक बुलडोज़र से दक्षिण त्रिपुरा के बेलोनिया और सबरूम में सोमवार को वामपंथ के अगुवा माने जाने वाले लेनिन की दो मूर्तियां ढहा दी गईं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए