लोकसभा उपचुनावः गोरखपुर और फूलपुर सीट पर समाजवादी पार्टी की जीत

  • 14 मार्च 2018
समाजवादी पार्टी इमेज कॉपीरइट Getty Images

उत्तर प्रदेश की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर समाजवादी पार्टी को जीत हासिल हुई है.

समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी प्रवीण कुमार निषाद ने 21,961 वोट से भारतीय जनता पार्टी के उपेंद्र दत्त शुक्ल को हरा दिया है.

चुनाव आयोग के मुताबिक़, समाजवादी पार्टी को 4,56,437 वोट मिले और भारतीय जनता पार्टी को 4,34,476 मिले.

गोरखपुर में उलटफ़ेर?

इससे पहले आज सुबह कुमार हर्ष के मुतबिक़ व्हाट्सएप पर शेयर की जा रही कई तरह की सूचनाओं और अफ़वाहों को रोकने के लिए ज़िलाधिकारी राजीव रौतेला ने कहा है कि मीडिया सिर्फ़ अधिकारिक आंकड़े ही साझा करे.

इमेज कॉपीरइट KUMAAR HARSH

दूसरी ओर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के छोड़ने से खाली हुई फूलपुर लोकसभा सीट पर समाजवादी पार्टी ने जीत हासिल कर ली है.

स्थानीय संवाददाता समीरात्मज मिश्र के मुताबिक़ समाजवादी पार्टी उम्मीदवार नागेंद्र सिंह पटेल 59,213 वोट से जीते हैं.

भारतीय जनता पार्टी के कौशलेंद्र सिंह पटेल को हार का सामना करना पड़ा है.

सपा को 3,42,796 और भाजपा को 2,83,183 वोट मिलें.

फूलपुर में सपा जीती

इमेज कॉपीरइट Akhilesh Yadav Twitter

फूलपूर में समाजवादी उम्मीदवार की लगातार बढ़ रही बढ़त के बाद समाजवादी पार्टी और बहुजन समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता मिलकर जश्न मना रहे हैं और 'बुआ भतीजा ज़िंदाबाद' के नारे लग रहे हैं.

उत्तर प्रदेश में हो रहे उपचुनावों में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाजवादी पार्टी ने मिलकर चुनाव लड़ा है.

अररिया पर राजद का कब्जा बरकरार

अररिया लोकसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल के प्रत्याशी सरफराज आलम ने जीत दर्ज की है.

बिहार के उप मुख्य चुनाव अधिकारी बैजूनाथ कुमार सिंह ने बीबीसी को बताया कि सरफराज ने भारतीय जतना पार्टी के उम्मीदवार प्रदीप सिंह को करीब बासठ हजार मतों से पराजित किया.

यह लोकसभा सीट सरफराज आलम के पिता मोहम्मद तस्लीमुद्दीन की मौत से खाली हुई थी.

वहीं राज्य में हुए दो विधानसभा सीटों में से एक जहानाबाद राजद तो दूसरी भभुआ भाजपा के खाते में गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए