चारा घोटाले के चौथे मामले में भी लालू दोषी क़रार

  • 19 मार्च 2018
लालू इमेज कॉपीरइट Getty Images

रांची के सीबीआई कोर्ट ने चारा घोटाला के चौथे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव को दोषी क़रार दिया है.

वहीं एक और पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा को कोर्ट ने रिहा कर दिया है. इसके साथ ही विमलकांत दास झा, एमसी सुवर्णों, अधीप चंद और ध्रुव भगत को भी बरी कर दिया गया है.

अन्य अभियुक्तों में अरुण सिंह, विमलकांत, ओपी दिवाकर, पंकज मोहन, आनंद कुमार सिंह, नंद किशोर, महेंद्र सिंह वेदी और अजित कुमार वर्मा दोषी क़रार दिए गए हैं. लालू की सज़ा पर 21, 22 और 23 मार्च को बहस होगी. इसमें कुल 19 लोगों को दोषी क़रार दिया गया है और 12 लोगों को बरी किया गया है.

इमेज कॉपीरइट AFP

सभी पर दुमका कोषागार से अवैध निकासी के आरोप थे. लालू पर कुल पांच मामले हैं, जिनमें से तीन में उन्हें सज़ा सुनाई जा चुकी है. वहीं चौथे मामले में रांची की सीबीआई कोर्ट ने सोमवार को फैसला सुनाया.

पहले तीन मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद से लालू यादव रांची के बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं. असल में यह घपला बिहार सरकार के ख़ज़ाने से ग़लत ढंग से पैसे निकालने का है. कई सालों में करोड़ों की रक़म पशुपालन विभाग के अधिकारियों और ठेकेदारों ने राजनीतिक मिली-भगत के साथ निकाली.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे