लालू यादव को आख़िर कौन सी बीमारी है

लालू प्रसाद यादव, राजद, रिम्स, एम्स इमेज कॉपीरइट DESHAKALYAN CHOWDHURY/AFP/GETTY IMAGES

राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव बेहतर इलाज के लिए दिल्ली में हैं.

इससे पहले उनका इलाज रांची के राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) में चल रहा था. बाद में उन्हें दिल्ली स्थित एम्स रेफ़र कर दिया गया.

बुधवार की शाम राजधानी एक्सप्रेस से कड़ी सुरक्षा के बीच वे दिल्ली के लिए रवाना हुए और सुबह दिल्ली पहुंचे.

हालांकि स्टेशन पर उतरने के साथ ही उहोंने मीडिया से कहा ''हमको बंद करके, भाजपा बिहार में आग लगाए हुई है.''

इमेज कॉपीरइट Niraj sinha

अस्पताल में इलाज

चारा घोटाला में लालू जेल की सजा काट रहे हैं और 17 मार्च को तबीयत बिगड़ने पर उन्हें रांची के अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान रांची के प्रभारी निदेशक डॉ आरके श्रीवास्तव ने बताया है कि मेडिकल बोर्ड के कहने पर उन्हें उच्च चिकित्सा संस्थान में इलाज के लिए जेल प्रशासन को पत्र लिखा गया था.

लालू किन बीमारियों से जूझ रहे हैं, इस बारे में उन्होंने बीबीसी को बताया- वे अनियंत्रित डायबिटीज़ से पीड़ित थे. साथ ही वे क्रेटनीन, प्रोस्टेट, किडनी में पथरी, यूरिक एसिड, हाइपर यूरिसीमिया, पेरेनियल इंफेक्शन जैसी बीमारियों का भी सामना कर रहे थे.

इमेज कॉपीरइट Wasim Akram

डॉक्टर श्रीवास्तवने बताया कि इलाज के दौरान इसकी भी जानकारी मिली है कि लालू हृदय रोग से भी पीड़ित रहे हैं और कुछ अरसे पहले उनका वॉल्व भी बदला गया है.

पिछले 17 मार्च को जब जेल से उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था, तो सीने में भारीपन की शिकायत के साथ वो एक फोड़े से भी परेशान थे.

इमेज कॉपीरइट niraj sinha

एम्स रेफ़र

इसके बाद डॉक्टरों की टीम इस नतीजे पर पहुंची कि उन्हें एम्स या अन्य हायर सेंटर में भेजा जाए, ताकि नेफ्रोलॉजिस्ट , डॉयबोटोलॉजिस्ट सरीखे विशेषज्ञों से बेहतर इलाज कराया जा सके. क्योंकि लालू की किडनी पर भी तेजी से असर पड़ रहा है.

एक सवाल के जवाब में निदेशक ने बताया कि रिम्स में नेफ्रोलॉजिस्ट नहीं है. साथ ही बिल्कुल अलग से डायबिटीज के विशेषज्ञ भी नहीं हैं.

रिम्स में इलाज सही चल रहा था लेकिन बीमारियों की बढ़ती जटिलता को देखते हुए उन्हें एम्स ले जाने की सिफ़ारिश की गई.

इमेज कॉपीरइट Wasim Akram

इधर लालू को रांची से इलाज के लिए दिल्ली ले जाए जाने के लिए सरकार से अनमुति मिलने में देरी होने पर राजद के कई आला नेताओं ने पहले ही नाराज़गी जताई थी.

बिहार में राजद के विधायक और लालू प्रसाद के बेहद करीबी भोला यादव ने मीडिया से कहा भी है कि उच्च चिकित्सा संस्थान भेजे जाने की अनुमति देने में सरकार देर करती ही रही, अलबत्ता निजी खर्चे पर भी जहाज से दिल्ली जाने की भी लालू जी की कोशिश को नज़रअंदाज़ किया गया.

इमेज कॉपीरइट Wasim Akram

गौरतलब है कि लालू प्रसाद पिछले साल 23 दिसंबर से जेल में बंद हैं. और इस दरम्यान वे लगातार मुश्किलों का सामना करते रहे हैं. फिलहाल वे घोटाले से जुड़े चार मामलों में सज़ायाफ्ता हैं. पिछले 24 मार्च को दुमका कोषागार से जुड़े मामले में उन्हें सबसे बड़ी 14 साल की सजा सुनाई गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)