प्रेस रिव्यू: 12 साल तक की बच्चियों से दुष्कर्म पर फांसी की सज़ा पर विचार

  • 14 अप्रैल 2018
इमेज कॉपीरइट Getty Images

'दैनिक जागरण' के पहले पन्ने पर छपी ख़बर के अनुसार केंद्र सरकार बच्चियों से बलात्कार के मामले में कानून को और कठोर करने पर विचार कर रही है.

इसके तहत 12 साल की उम्र की बच्चियों से दुष्कर्म के दोषियों को फांसी की सज़ा का प्रावधान किया जा सकता है.

अख़बार के अनुसार केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा है कि सरकार बाल यौन उत्पीड़न संरक्षण कानून पॉक्सो में संशोधन लाएगी.

सूत्रों के हवाले से अख़बार लिखता है कि संशोंधन का मसौदा आने वाले एक डेढ़ सप्ताह में तैयार हो जाएगा जिसके बाद क़ानून मंत्रालय की हरी झंडी मिलने के बाद ये क़ानून की शक्ल ले लेगा.

इमेज कॉपीरइट Thinkstock

'हिंदुस्तान टाइम्स' में छपी एक ख़बर के अनुसार दिल्ली में आईआईटी के एक छात्र ने होस्टल में अपने कमरे में फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली है. शुक्रवार को 21 साल के इस छात्र ने सीलिंग फैन से खुद को फांसी लगा ली.

पुलिस अधिकारी के हवाले से छात्र ने एक आत्महत्या करने से पहले सुइसाइड नोट लिखा जिसमें उन्होंने लिखा कि उनके दो चचेरे भाई, जो उनसे बड़े हैं बचपन से लगातार उनका यौन शोषण कर रहे थे. दिल्ली आने से पहले तक उनका शोषण किया गया है, इस कारण वो अपनी ज़िंदगी से तंग आ गए हैं और आत्महत्या कर रहे हैं.

अपने सुइसाइड नोट में उन्होंने लिखा है कि बच्चों का यौन शोषण करने वालों के लिए कड़ी सज़ा का प्रावधान होना चहिए.

अख़बार के अनुसार मृत छात्र के भाई ने बताया है कि चार दिन पहले भी उन्होंने नींद की गोलियां खा कर आत्महत्या करने की कोशिश की थी लेकिन उन्हें बचा लिया गया था.

इमेज कॉपीरइट INDRANIL MUKHERJEE/AFP/Getty Images

'द हिंदू' में छपी एक ख़बर के अनुसार उत्तर भारत में गर्मी ने अभी पूरी तरह से दस्तक भी नहीं दी है और यहां के जलाशय सूखते जा रहे हैं.

अख़बार के अनुसार सेंट्रल वॉटर कमीशन ने कहा है कि हिलाचल प्रदेश, पंजाब और राजस्थान के इलाकों में फिलहाल कुल साढ़े तीन अरब क्यूबिक मीटर पानी मौजूद है जो मौजूदा क्षमता से 20 फीसदी कम है.

बीते साल इस वक्त जलाशयों में 23 फीसदी तक अधिक पानी था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

'नवभारत टाइम्स' में छपी एक ख़बर के अनुसार अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने कहा है कि आधार जैसे पहचान कार्यक्रम के क्रियान्वयन के लिए भारत को गोपनीयता और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक क़दम उठाने चाहिए.

अख़बार के अनुसार आईएमएफ़ ने अपने डिजिटल सरकार और वित्तीय निगरानी रिपोर्ट में कहा है कि बायोमेट्रिक पहचान और इलेक्ट्रॉनिक भुगतान ने एलपीजी छूट की खामियों को कम करने में मदद की है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि आधार के पक्षधर कहते हैं कि इसमें सभी जानकारी एन्क्रिप्ट कर के रखी गई है और सुरक्षित है, फिर भी पर्याप्त सुरक्षा प्रावधानों के अभाव में प्रणाली में अनाधिकृत हस्तक्षेप का खतरा है.

इमेज कॉपीरइट Patric Soderstrom/AFP/Getty Images
Image caption स्वीडन की वायु सेना का जेएएस 39 ग्राईपेन लड़ाकू विमान

'जनसत्ता' में छपी एक ख़बर के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 अप्रैल को स्वीडन की दो दिन की यात्रा पर जाएंगे. इस दौरान भारतीय वायुसेना के लिए लड़ाकू विमानों की आपूर्ति के लिए एक अहम सौदे को अंतिम रूप दिया जाएगा.

अख़बार के अनुसार 15 अरब डॉलर के सौदे के लिए भारतीय कंपनी अडानी और स्वीडन की लड़ाकू विमान बनाने वाली कंपनी साब समझौते पर दस्तखत करेंगे. इस दोनों कंपनियों का साझा उपक्रम भारत में होगा जो भारतीय वायुसेना के लिए ग्राईपेन बहुद्देशीय लड़ाकू विमान बनाएगा.

इमेज कॉपीरइट PA

सब कुछ ठीक रहा तो आज़ादी के 75वें साल में यानी 15 अगस्त 2022 को भारत में पहली बुलेट ट्रेन चलेगी. ये ख़बर छापी है अख़बार 'इंडियन एक्सप्रेस' ने.

अख़बार लिखता है कि इस पहली बुलेट ट्रेन में अहमदाबाद से मुंबई पहुंचने के लिए इकोनॉमी क्लास की टिकट का किराया 3000 रुपये तक हो सकता है. हर बीस मिनट पर दूसरी ट्रेन चलाई जाएगी.

छोटे रास्तों पर किराया और कम हो सकता है जैसे कि बांद्रा कुरला कॉम्प्लेक्स से ठाणे तक का किराया 250 रुपये हो सकता है.

इसमें काम करने के लिए ज़रूरी ट्रेनिंग के लिए करीब 360 कर्मचारियों को जापान भेजा जाएगा. इस साल के आख़िर में इस परियोजना पर काम शुरु हो जाएगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए