अक्षय तृतीया पर सोना खरीदना होगा खरा सौदा?

  • 18 अप्रैल 2018
सोने के गहने इमेज कॉपीरइट iStock

दुनिया में गोल्ड के दूसरे सबसे बड़े आयातक भारत में अप्रैल के महीने में अक्षय तृतीया त्योहार की वजह से सोने की मांग में बढ़त देखी जाती है.

लेकिन अगर आंकड़ों पर नज़र डालें तो इस साल की अक्षय तृतीया पर सोने की कीमतें सबसे ज़्यादा बढ़ सकती हैं.

बीते 11 अप्रैल को 24 कैरेट सोने की कीमत 31,524 रुपये प्रति दस ग्राम का आंकड़ा पार कर गई थी.

हालांकि, 17 अप्रैल को सोने की कीमत में थोड़ी गिरावट देखी गई. लेकिन विशेषज्ञों के मुताबिक़ खरीदार लगातार सोना खरीदना जारी रखेंगे.

सोना पांच साल में सबसे सस्ता हुआ

बिटक्वाइन के आगे पहली बार सोने की चमक फीकी

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सोने के दाम क्यों बढ़ रहे हैं?

कमोडिटीज़ एंड करेंसी रिसर्च फर्म निर्मल बंग के प्रमुख कुणाल शाह कहते हैं, "मौद्रिक नीति को लेकर अनिश्चितता, भूराजनीतिक संकट से जुड़ी अनिश्चितताएं और पश्चिमी अर्थव्यवस्थाओं में महंगाई के बढ़ने से जुड़ी आशंकाओं के चलते मार्च 2018 के अंत तक सोना वैश्विक स्तर पर $1450 पर खरीदा जाएगा लेकिन मार्च 2019 से पहले ये $1600 का स्तर छू लेगा."

सोने को हमेशा ही निवेश के लिहाज से एक बढ़िया विकल्प माना जाता है. ये वैश्विक अनिश्चितताओं का साल है, अमरीका चीन के साथ ट्रेड वॉर करने की धमकी दे रहा है, सीरिया में तनाव बढ़ रहा है.

ऐसे में निवेशक अपना पैसा किसी अन्य जगह पर लगाने को लेकर सतर्कता बरत रहे हैं. और इस तरह वे सोने में निवेश करने का फ़ैसला कर रहे हैं जिससे दुनिया भर में सोने की कीमतें बढ़ रही हैं. इससे भारत जैसे देश भी प्रभावित होंगे.

अजीबोगरीब तरीके से होती है सोने की तस्करी

इमेज कॉपीरइट Getty Images

भारत में कैसी है सोने की स्थिति

भारत में नोटबंदी और जीएसटी आने के बाद सोने की मांग कम हुई थी.

मार्च में सोने का आयात $2.4 बिलियन पर पिछले साल के मुक़ाबले 40 फीसदी तक घट गया था.

इसकी वजह से इस इंडस्ट्री पर बुरा असर पड़ा था. लेकिन उम्मीद जताई जा रही है कि अब सोने की मांग में उछाल आ सकता है.

क्योंकि बेहतर मॉनसून के चलते किसानों की आमदनी बेहतर हुई है जिससे इस त्योहारों के मौसम में सोने की मांग बढ़ सकती है.

इस देश में सोने की कुल मांग का दो-तिहाई हिस्सा ग्रामीण भारत से आता है.

इमेज कॉपीरइट iStock

अक्षय तृतीया के अवसर पर

बीते कुछ सालों में अगर सोने की कीमतों पर नज़र डालें तो पता चलता है कि ये 2018 इस लिहाज़ से सबसे महंगा साल हो सकता है.

साल 2010 में जब अक्षय तृतीया 16 मई को पड़ा था तब आप दस 24 ग्राम कैरेट सोना 18,167 रुपये प्रति दस ग्राम की दर में खरीद सकते थे.

लेकिन बीते साल ये दाम बढ़कर 29,890 रुपये प्रति दस ग्राम की दर हो गया.

  • 28 अप्रैल, 2017 - 28,861 रुपये
  • 9 मई, 2016 - 29,860 रुपये
  • 21 अप्रैल, 2015- 26,938 रुपये
  • 2 मई, 2014- 28,865 रुपये
  • 13 मई, 2013 -26,829 रुपये
  • 24 अप्रैल, 2012- 28,852 रुपये
  • 6 मई, 2011- 21,736 रुपये
  • 16 मई, 2010- 18,167 रुपये

साभार: Goldpriceindia.com (कीमत प्रति दस ग्राम में)

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सोना खरीदने का सही समय

इसमें अच्छी बात ये है कि अगर आपने पहले सोना खरीदा होता तो आपको अपनी संपत्ति में बढ़त देखने को मिलती.

ऐसे में सवाल ये है कि क्या ये सोना खरीदने का सही समय है. इस मसले पर विशेषज्ञ बंटे हुए हैं.

कॉमट्रेंड्ज़ रिसर्च के निदेशक ग्नानसेकर त्यागराजन बताते हैं, "30 हज़ार रुपये के आंकड़े पर लोगों के बीच सोना बेचने की धारणा होती है लेकिन अब कीमतें स्थिर हो रही हैं."

"मेरा मानना है कि इस साल के अंत तक सोने की कीमतें ऊपर चढ़ेंगी. इसलिए इस अक्षय तृतीया पर सोना खरीदना ठीक हो सकता है क्योंकि अब यहां से कीमतें ऊपर ही जाएंगी."

वहीं, एसएमसी ग्लोबल सिक्योरिटीज़ की वंदना भारती ने बीबीसी को बताया है, "इस समय बाजार का माहौल अलग है, ऐसे में मैं कुछ महीने इंतज़ार करने की सलाह देती हूं, सितंबर और अक्टूबर खरीदारी के लिए बेहतर समय हो सकता क्योंकि कीमतों में 5-6 फीसदी की गिरावट हो सकती है."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार