व्यंग्य: कुरुक्षेत्र सर्जिकल स्ट्राइक पर हुई एक ब्रेनस्टॉर्म!

  • 18 अप्रैल 2018
इमेज कॉपीरइट iStock

काल: 8वीं और 9वीं सदी ईसा पूर्व

जगह: कुरुक्षेत्र का मैदान

समय: सुबह के साढ़े छह बजे

रणक्षेत्र के दो छोरों पर कौरवों और पाण्डवों के कैंप हैं.

कैंपों के चारों तरफ़ लैंडमाइंस का जाल बिछा है और टावरों पर सेमी-ऑटोमैटिक गन वाले गार्ड्स मुस्तैद हैं.

इमेज कॉपीरइट iStock

कौरवों का कैंप

एक प्रस्तावित सर्जिकल स्ट्राइक पर ब्रेनस्टॉर्म जारी है.

आईपैड पर उंगलियाँ फेरते हुए भीष्म पितामह: "ताज़ा जीपीएस तस्वीरों से लगता है आज दोपहर में पाण्डव हमारी सेना के दक्षिणी छोर पर हमला करेंगे. हमें तुरंत ही थर्मल इमेजिंग डिवाइस सक्रिय कर देनी चाहिए और लेसर मिसाइलों को तैयार रखना चाहिए."

गुरु द्रोण ने अपने एंड्रॉयड मोबाइल से निगाह उठाई: "पितामह, पांडवों की सेना में मेरे मुखबिर ने अज्ञात हैंडल से ट्वीट किया है कि आज शायद अर्जुन और अभिमन्यु जंग करने न उतरें. उन्होंने देर रात नेटफ़्लिक्स का सब्सक्रिप्शन लिया है और 'सेविंग प्राइवेट रायन', 'प्लाटून' और 'डनकर्क' फिल्में डाउनलोड कर चुके हैं."

गुरु कृपाचार्य अब तक बगल में बैठ कर इंटरनेट एलसीडी स्क्रीन पर किम जोंग-उन की स्पीच सुन रहे थे: "ट्विटर हैक होता रहता है इसलिए मुझे उसमें यक़ीन नहीं. मेरे ख़बरी ने अभी-अभी पाण्डवों के कैंप की तस्वीरें और वीडियो व्हॉट्सऐप की हैं जो किसी नर्व एजेंट अटैक की ओर इशारा करते हैं. मेरे ख़्याल से हमें अंधेरा होने का इंतज़ार करना चाहिए. रात होते ही मरीन्स के दो जत्थे, ब्लैक-हॉक हेलीकॉप्टरों से वहां उतार दो. वीपीएन टेक्नॉलजी से लाइव ट्रांसमिशन भी चलता रहेगा."

इंटरनेट का आविष्कार महाभारत काल में हुआ था

इमेज कॉपीरइट iStock

महारथी कर्ण ब्रेनस्टॉर्म में थोड़ा लेट पहुंचे हैं: "सॉरी गाइज़, जिम की ट्रेडमिल का टाइमर ख़राब था. वैसे, मैंने कल ही सीरिया में जारी जंग का फ़ुटेज देखा. लगता है केमिकल हथियार फिर से फ़ैशन में आ गए हैं. क्या पता, अर्जुन के गाण्डीव की तोड़ भी वही हो."

राजकुमारदु:शासन टीवी पर 'भाभीजी घर पर हैं" देख रहे हैं: "आप लोग आदरणीय हैं और मैं अनुज. बस एक रिक्वेस्ट मान लीजिए कि सर्जिकल स्ट्राइक शाम सात के पहले निबटा लीजिए. आज रात नाइटक्लब में डीजे पर्ल का शो है जिसे मैं मिस नहीं कर सकता. रहा सवाल प्लान का, तो मैंने वॉर सिमुलेशन की दो पीडीएफ़ फ़ाइल्स का मेल kaurav.thinktank@hastinapur.net पर सुबह भेज दिया है.

राजकुमार दुर्योधन इस बीच एक फ़ेसबुक लाइव देख रहे थे: "जो भी फ़ैसला हो मुझे तुरंत पावरप्वॉइंट पर भेजें. साथ भी पाण्डव सेना की 3D तस्वीरें भी चाहिए. बहराल, मुझे ऑप्टिकल फ़ाइबर नेटवर्क पर बहुत गुस्सा आ रहा है जो यहाँ कुरुक्षेत्र में 3G तक नहीं देता. इतनी देर से कोशिश में लगा हूँ कि पिता धृतराष्ट्र और माता गांधारी से फ़ेसटाइम कर लूं, पर लग ही नहीं रहा. हस्तिनापुर में उनकी बगल में बैठे संजय दूसरे फ़ोन पर बता रहे हैं वहां ब्रॉडबैंड अच्छी स्पीड में चल रहा है."

महाभारत से क्या सीख सकते हैं

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार