प्रेस रिव्यू: 'देश का बंटवारा करने वाले जिन्ना का महिमामंडन बर्दाश्त नहीं'

  • 4 मई 2018
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी इमेज कॉपीरइट TABISH/BBC
Image caption अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में छात्र विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं

अमर उजाला में ही पहले पन्ने पर एएमयू में जिन्ना की तस्वीर को लेकर शुरू हुए विवाद के बरकरार रहने की ख़बर छपी है.

ख़बर में कहा गया है कि भाजपा सांसद, पुलिस अफ़सरों, संघ औऱ हिंदू मंच कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ तहरीर दर्ज की गई है.

ख़बर के साथ सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का बयान भी छपा है.

बयान में योगी कह रहे हैं, "जिन्ना ने हमारे देश का बंटवारा किया. हम किस तरह से जिन्ना की उपलब्धियों का बखान कर सकते हैं? देश में जिन्ना का महिमामंडन बर्दास्त नहीं किया जाएगा. जांच की रिपोर्ट आते ही एक्शन लिया जाएगा."

बारिश-तूफ़ान ने ली कई जानें

इमेज कॉपीरइट A Yadav
Image caption तेज़ आंधी से बिजली के खंभे और पेड़ बड़ी तादाद में उखड़ गए हैं

दिल्ली से छपने वाले सभी अख़बारों में आंधी और बारिश से उत्तर भारत में हुई तबाही की ख़बरें प्रमुखता से छपी हैं.

दैनिक जागरण से सुर्ख़ी लगाई है - कई राज्यों में आंधी-बारिश का कहर, 127 की गई जान.

अमर उजाला ने इसी ख़बर को प्रमुखता से छापते हुए लिखा है कि अकेले आगरा में 50 लोगों की जान गई है और भारी मात्रा जानवर भी मारे गए हैं.

इस तूफ़ान पर एक विस्तृत रिपोर्ट अंग्रेज़ी दैनिक द हिंदुस्तान टाइम्स के अंदर के पन्ने पर है. इसमें एक मानचित्र के ज़रिए तूफ़ान आने की वजहें समझाने की कोशिश की गई है.

मथुरा में पकड़ा कसौली का संदिग्ध

इमेज कॉपीरइट PANKAJ SHARMA/BBC

द स्टेट्समैन की ख़बर के अनुसार हिमाचल प्रदेश में कसौली की असिसटेंट टाउन प्लानर शैल बाला की गोली मारकर हत्या करने का संदिग्ध विजय ठाकुर मथुरा में पकड़ा गया है.

गौरतलब है जिस समय शैल बाला को गोली लगी थी वो सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करवाने के लिए कसौली में अवैध निर्माण हटवा रही थीं.

पुलिस का कहना है कि संदिग्ध के पास से कोई हथियार बरामद नहीं हुआ है.

परीक्षा में कड़ा, कृपाण

इमेज कॉपीरइट Getty Images

दैनिक भास्कर में ख़बर छपी है कि मेडिकल कॉलेजों में दाखिले की परीक्षा नीट में सिख उम्मीदवारों को कड़ा, कृपाण लेकर परीक्षा केंद्र में जाने की छूट होगी.

दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा है कि देश में ऐसा कोई कानून नहीं है जो इन दोनों धार्मिक प्रतीकों पर रोक लगाता हो.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे