प्रेस रिव्यू: नरेंद्र मोदी को 'द लाई लामा' बताने वाले पोस्टर की जांच

नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट TOLGA AKMEN/AFP/Getty Images

दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विवादित पोस्टर लगने के बाद पुलिस इस मामले की जांच कर रही है.

दिल्ली के कुछ इलाक़ों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर के ऊपर 'द लाई लामा' लिखे पोस्टर देखे गए थे.

अंग्रेज़ी अख़बार 'द टेलीग्राफ़' की एक रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने अज्ञात लोगों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

इन पोस्टरों की तस्वीरें गुरुवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं थीं. पुलिस का कहना है कि शिकायत मिलने पर एफ़आईआर दर्ज की गई है.

हालांकि पुलिस ने शिकायतकर्ता की पहचान सार्वजनिक नहीं की है.

ये पोस्टर ऐसे समय में लगे हैं जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर्नाटक चुनाव अभियान में दिए भाषण के दौरान 'झूठे तथ्य' पेश करने के लिए आलोचना का सामना कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Indian Navy

मालदीव में भारतीय युद्धपोत

भारत मालदीव के विशेष आर्थिक क्षेत्र की निगरानी के लिए अपने युद्धपोत भेज रहा है.

मालदीव भारत के साथ मिलकर अपने विशेष आर्थिक क्षेत्र की साझा निगरानी करेगा.

'द टाइम्स ऑफ़ इंडिया' की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय नौसेना के विशेष बल मरीन कमांडो विंग के दो अधिकारी और आठ नौसैनिक इस समय मालदीव के माफिलहाफूशी में मालदीव के नौसैनिकों को प्रशिक्षण दे रहे हैं.

इसे भारत और मालदीव के बीच रिश्तों के बेहतर होने के संकेत के रूप में भी देखा जा रहा है.

हाल के महीनों में भारत और मालदीव के रिश्तों में कड़वाहट आई थी.

इमेज कॉपीरइट JK INFORMATION

सेना का विरोध

'द इंडियन एक्सप्रेस' की एक रिपोर्ट के मुताबिक जम्मू और कश्मीर के मौजूदा विधानसभा अध्यक्ष निर्मल सिंह समेत कई नेताओं ने नगरोटा में सेना के हथियार डिपो के बगल में ज़मीन ख़रीदी हैं.

सेना ने इन ज़मीनों की ख़रीद को अवैध बताते हुए सुरक्षा के लिए ख़तरा बताया है.

साल 2014 में ख़रीदे गए दो हज़ार वर्ग मीटर के प्लॉट पर निर्मल सिंह ने निर्माण कार्य शुरू कराया है जिसका सेना ने विरोध किया है.

सेना ने 19 मार्च 2008 को निर्मल सिंह के नाम लिखे पत्र में उनके नए बन रहे घर को अवैध बताते हुए इससे हथियार डीपो और वहां रह रहे जवानों को ख़तरा बताया है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

फेसबुक की हेल्पलाइन

फेसबुक ने शुक्रवार को बताया है कि उसने भारत में नेताओं और राजनीतिक पार्टियों की मदद के लिए एक हेल्पलाइन शुरू की है.

हाल के दिनों में निजता को लेकर विवाद में फंसी फेसबुक भारत में चुनावों की ईमानदारी को लेकर एक माइक्रोसाइट भी बनाने जा रही है.

'द टाइम्स ऑफ़ इंडिया' की रिपोर्ट के मुताबिक इस हेल्पलाइन पर नेता और पार्टियां धमकियां मिलने की स्थिति में शिकायत कर सकेंगी.

फेसबुक ने राजनीति से जुड़े लोगों के अकाउंट की सुरक्षा के लिए एक गाइड भी जारी की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)