कर्नाटक: येदियुरप्पा को कल चार बजे बहुमत साबित करना होगा

  • 18 मई 2018
बीएस येदियुरप्पा इमेज कॉपीरइट AFP/Getty Images

सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार शाम चार बजे कर्नाटक की भाजपा सरकार को बहुमत साबित करने को कहा है.

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला था, लेकिन भारतीय जनता पार्टी 104 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनी थी.

लेकिन चुनाव के बाद कांग्रेस ने जेडीएस के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया था. कांग्रेस को 78 और जेडीएस को 37 सीटें मिली थी.

लेकिन राज्यपाल ने बीएस येदियुरप्पा को सरकार बनाने का न्यौता दिया. इसके बाद कांग्रेस और जेडीएस ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया.

सुप्रीम कोर्ट ने येदियुरप्पा के शपथ लेने पर रोक तो नहीं लगाई लेकिन सुनवाई जारी रखने का फ़ैसला किया.

अब सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि येदियुरप्पा विधानसभा में शनिवार शाम चार बजे तक अपना बहुमत साबित करें.

येदियुरप्पा ने कहा है कि उन्हें सौ फीसदी भरोसा है कि वो सदन में पूर्ण बहुमत साबित कर सकेंगे.

इमेज कॉपीरइट AFP/Getty Images

कांग्रेस नेता और पार्टी की तरफ से वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, "सुप्रीम कोर्ट ने एक ऐतिहासिक आंतरिक आदेश दिया है. आदेश के अंतर्गत कई महत्वपूर्ण आदेश दिए गए हैं. फ्लोर टेस्ट कल ही होगा. इसके लिए जल्द ही प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया जाएगा."

उन्होंने बताया कि येदियुरप्पा के वकील से कोर्ट ने कहा कि कल तक वो कोई नीतिगत निर्णय नहीं लेंगे.

अभिषेक मनु सिंघवी ने ये भी कहा कि राज्यपाल के काम करने के तरीके के सिलसिले में 10 सप्ताह बाद कोर्ट में सुनावाई करेगी कि क्या राज्यपाल किसी ऐसी पार्टी को दे सकती है जो अल्पमत में हैं.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने ये मुद्दा उठाया है कि किस आधार पर राज्यपाल ऐसा फ़ैसला ले सकते हैं.

उन्होंने ये भी बताया कि कोर्ट ने कहा है कि विश्वास मत से पहले एंग्लो इंडियन सदस्य को मनोनीत नहीं किया जा सकता है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा, "आज का फ़ैसला ये साबित करता है कि राज्यपाल विजुभाई वाला का फ़ैसला असंवैधानिक था. कानूनी तौर पर भाजपा को रोक दिया गया है. अब वो अपना बहुमत साबित करने के लिए पैसे और ताकत का इस्तेमाल करेंगे."

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आज़ाद ने प्रेस कान्फ्रेंस कर कहा, "आप हमें इस वक्त मौक़ा देते तो हम बहुमत साबित कर देते. लेकिन ये दुर्भाग्यजनक है कि भाजपा बहुमत साबित नहीं कर सकती थी लेकिन राज्यपाल ने उन्हें ये मौक़ा दिया."

उन्होंने कहा, "आज तक ऐसा कभी नहीं हुआ कि किसी राज्यपाल ने किसी पार्टी को बहुमत साबित करने के लिए दो सप्ताह का समय दिया हो."

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट कर इसे "संविधान और गणतंत्र की जीत बताया."

कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष दिनेश गुंडु राव ने कहा, "सुप्रीम कोर्ट ने कल 4 बजे विश्वास मत साबित करने के लिए कहा है. ये राज्यपाल के फ़ैसले के उलट है और भाजपा के लिए अपमानजनक है."

लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा है कि उनके सभी विधायक उनके साथ हैं.

बीबीसी संवाददाता नितिन श्रीवास्तव के सवाल के उत्तर में उन्होंने कहा कि भाजपा कुछ भी दावा करे कांग्रेस के नेता पार्टी का साथ हैं.

भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट कर कहा है कि भाजपा को भरोसा है कि वो सदन में अपना बहुमत साबित कर देगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए