कर्नाटक: सिर्फ़ 55 घंटे ही मुख्यमंत्री रह सके येदियुरप्पा

  • 19 मई 2018
येदियुरप्पा इमेज कॉपीरइट Getty Images

विश्वासमत से पहले ही बीएस येदियुरप्पा के इस्तीफे के साथ 15 मई को विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद कर्नाटक में शुरू हुआ सियासी ड्रामा खत्म हो गया है.

15 मई को आए चुनाव नतीजों के साथ बीजेपी कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी बनी लेकिन वो बहुमत का आंकड़ा छू नहीं सकी. 222 में से बीजेपी को 104 सीटों पर ही जीत मिली. लेकिन राज्यपाल वजूभाई वाला ने साधारण बहुमत से 8 सीटें कम होने के बावजूद बीजेपी के येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री की शपथ दिला दी थी.

राज्यपाल ने येदियुरप्पा को विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए 15 दिनों का वक़्त दिया था. लेकिन इसके ख़िलाफ़ कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया और आधी रात को इस मामले की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. जिसके बाद शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि येदियुरप्पा को 19 मई को शाम चार बजे ही बहुमत साबित करना होगा.

कांग्रेस ने अमित शाह को उनके

कर्नाटक में बाज़ी पलटने वाला 'हीरो' कौन?

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption कर्नाटक विधानसभा में इस्तीफे से पहले येदियुरप्पा

इसके बाद राज्यपाल ने बीजेपी विधायक केजी बोपैया को कर्नाटक विधानसभा का प्रो-टेम स्पीकर बनाया लेकिन कांग्रेस इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ भी सुप्रीम कोर्ट गई. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने फ़ैसला दिया कि केजी बोपैया कर्नाटक विधानसभा के प्रो-टेम स्पीकर बने रहेंगे.

शाम साढ़े तीन बजे जब लंच के बाद सदन की कार्रवाई शुरू हुई तो येदियुरप्पा ने 15 मिनट का भाषण दिया जिसके अंत में बिना शक्ति परीक्षण उन्होंने इस्तीफा दे दिया.

पढ़िए पूरा घटनाक्रम

इमेज कॉपीरइट Getty Images

कर्नाटक में पूरे दिन क्या क्या हुआः

04.28PM-गुलाम नबी आज़ादः येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद कांग्रेस और जेडीएस सरकार बनाने का दावा पेश करेगी.

04.26PM-गुलाम नबी आज़ादः कांग्रेस और जेडीएस को तोड़ना चाहती थी बीजेपी. क्या क्या कोशिश नहीं किए. लेकिन केंद्र सरकार, बीजेपी नेताओं के सभी प्रलोभनों को नकारते हुए हमारे सभी विधायक साथ बने रहे.

04.24PM-गुलाम नबी आज़ादः इस मामले में त्वरित कार्यवाही के लिए हम सुप्रीम कोर्ट को धन्यवाद देते हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद जश्न मनाते कांग्रेस और जेडीएस के विधायक

04.23PM-गुलाम नबी आज़ादः हमारे कुछ विधायकों को अगवा कर लिया गया. उन्हें भारतीय जनता पार्टी ने बंधक बना कर रखा. लेकिन वो किसी तरह सदन में पहुंचने में कामयाब हुए. वो पार्टी के साथ बने रहे. कांग्रेस, जेडीएस के किसी भी विधायक ने दल बदलने की कोशिश नहीं की. बीजेपी के 104 की तुलना में हमारे पास 117 विधायक हैं.

04.21PM-गुलाम नबी आज़ादः हम कांग्रेस और जेडीएस के साथ ही बीएसपी उम्मीदवार समेत सभी निर्दलीय विधायकों को बधाई देना चाहता हूं जिन्होंने केंद्र सरकार और उनके लोगों के द्वारा दिए गए सभी प्रलोभनों को नकारते हुए एकजुट रहे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption इस्तीफा देने के बाद सदन से बाहर जाते येदियुरप्पा

04.05 PM-अपने 20 मिनट के भाषण के साथ ही येदियुरप्पा ने इस्तीफा दिया.

04.01 PM- येदियुरप्पा ने कहा, "जनता ने हमें 113 सीटें नहीं दी. अगर वह ऐसी करती तो राज्य में स्थिति बदल जाती, दूसरी तस्वीर होती. राज्य को ईमानदार नेताओं की ज़रूरत है. मेरे सामने आज अग्निपरीक्षा है. मैं फिर से जीत के आऊंगा. हम 150 से ज़्यादा सीटें जीतेंगे. राज्य के हर क्षेत्र में जाऊंगा और जीतकर आऊंगा. राज्य में जल्द चुनाव होगा."

03.59PM- येदियुरप्पा ने कहा, "कर्नाटक के किसान आंसू बहा रहे हैं. करीब 3,700 किसानों ने खुदकुशी की. जब तक जिंदा रहूंगा किसानों के हित के लिए काम करता रहूंगा."

03.57PM- येदियुरप्पा ने कहा, "मैं किसानों को बचाना चाहता हूं. हमने मौके पर जाकर किसानों की मदद की."

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption इस्तीफा से पहले विधानसभा को संबोधित करते येदियुरप्पा

03.57PM- येदियुरप्पा ने कहा, "पिछली सरकार से नाराज़ लोगों ने उनके ख़िलाफ़ वोट दिया. गरीब किसानों को बेहतर जीवन मिलना चाहिए."

03.50PM- येदियुरप्पा ने कहा, "मैं जनसेवा के लिए अपना जीवन समर्पित करना चाहता हूं."

03.45 PM- येदियुरप्पा ने विधानसभा में बोलना शुरू किया

03.32 PM- लंच के बाद कर्नाटक विधानसभा की कार्यवाही शुरू

03.24 PM- आईटी, ईडी, आईबी के ग़लत इस्तेमाल करके विधायकों को अगवा कर रखा गयाः बी के हरि प्रसाद, कर्नाटक के कांग्रेस प्रभारी

02.59 PM-आनंद सिंह और प्रताप गौड़ा पाटील हमारे लिए वोट करेंगेः कांग्रेस नेता डी. शिवकुमार

इमेज कॉपीरइट Getty Images

02.27PM- विधायक आनंद सिंह और प्रताप गौड़ा पाटील विधानसभा पहुंचे.

02.07PM- कांग्रेस के दो ग़ायब विधायक आनंद सिंह और प्रताप गौड़ा पाटील के बेंगलुरु के गोल्ड फिंच होटल से निकलने की ख़बर.

01.42PM- हमारे दो विधायक नहीं भी आए तो येदियुरप्पा को शक्ति परीक्षण में हार का सामना करना पड़ेगा और इस्तीफ़े के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं होगा- जेडीएस महासचिव, दानिश अली

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption कर्नाटक का सियासी ड्रामा

01.23PM- केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि कांग्रेस ने येदियुरप्पा के नाम पर फ़र्ज़ी ऑडियो जारी किया है.

01.21PM- कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक ऑडियो ट्वीट किया है. कांग्रेस का दावा है कि इस ऑडियो में येदियुरप्पा की आवाज़ है और वो उसके विधायक को ख़रीदने की कोशिश कर रहे हैं. ये रहा वो ट्वीट-

01.10PM- कांग्रेस विधायक बीसी पाटील ने आरोप लगाया कि विधायकों की पत्नियों के पास फ़ोन किया जा रहा ताकि वो येदियुरप्पा का समर्थन करें.

01.08PM- कांग्रेस विधायक बीसी पाटील ने आरोप लगाया कि उन्हें बीजेपी ने मंत्री पद और 15 करोड़ रुपये का लालच दिया.

01.00PM- प्रो-टेम स्पीकर केजी बोपैया की भूमिका संदिग्ध रही है और उन पर सुप्रीम कोर्ट ने भी 2011 में टिप्पणी की थी. ऐसे में हमारा शक ग़लत नहीं था. कुमारस्वामी कर्नाटक के अगले मुख्यमंत्री होंगे- वीरप्पा मोइली

इमेज कॉपीरइट Getty Images

12.52PM- बीजेपी का असली चेहरा पूरी दुनिया के सामने जगज़ाहिर हो गया है. बीजेपी को पता है उसके पास 104 विधायक ही हैं. ये अब भी विधायकों को ख़रीदने की कोशिश कर रहे हैं पर हमारे विधायक पूरी तरह से पार्टी के साथ हैं. हमारे दो विधायक अभी नहीं हैं, लेकिन वो समर्थन हमें ही करेंगे- कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली

12.46PM- जेडीएस महासचिव दानिश अली ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फ़ैसला उनके ख़िलाफ़ नहीं है. प्रो-टेम स्पीकर ही शक्ति परीक्षण कराएंगे, लेकिन सब कुछ कोर्ट की निगरानी में होगा और बोपैया अब कोई ग़लती नहीं करेंगे.

12.26PM- सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि विधानसभा में नियम के हिसाब से शक्ति परीक्षण होगा. ज़ाहिर ने नियम के मुताबिक़ होगा तो मत विभाजन भी होगा- कपिल सिब्बल

12.23PM- जब सुप्रीम कोर्ट ने लाइव प्रसारण की बात कह दी तो फिर प्रो-टेम स्पीकर को हटाने की बात ख़त्म हो गई थी- कपिल सिब्बल

12.21PM- शक्ति परीक्षण के लाइव प्रसारण की बात आई और हम तैयार हो गए. हमारी मांग थी पारदर्शिता की थी और उसे कोर्ट ने गंभीरता से देखा- कपिल सिब्बल

12.19PM- सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर आप दूसरा स्पीकर चाहते हैं तो वर्तमान स्पीकर को नोटिस देना पड़ेगा और आज जो शक्ति परीक्षण होना है वो नहीं हो पाएगा. पर हम चाहते थे कि आज का शक्ति परीक्षण टले नहीं. इसलिए हमने पारदर्शिता की बात रखी- कपिल सिब्बल

Image caption कर्नाटक विधानसभा के बाहर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था

12.10PM- जेडीएस के महासचिव दानिश अली का कहना है कि वो सदन के पटल पर मतविभाजन की मांग करेंगे.

12.09PM- मत विभाजन की मांग कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में नहीं की थी. विधानसभा में ध्वनिमत से हो सकता है शक्ति परीक्षण.

12.03PM- प्रो-टेम स्पीकर पर सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले को कांग्रेस और बीजेपी दोनों बता रहीं अपनी-अपनी जीत.

11.59AM- टीवी रिपोर्ट्स के अनुसार कांग्रेस विधायक आनंद सिंह अब तक विधानसभा नहीं पहुंचे हैं.

11.50AM- प्रो-टेम स्पीकर केजी बोपैया विधायकों को शपथ दिला रहे हैं.

11.49AM- विधानसभा में कांग्रेस के एक और जेडीएस के दो विधायक अब तक नहीं पहुंचे हैं.

11.30AM- बीजेपी के वक़ील मुकुल रोहतगी ने कहा कि कांग्रेस की सभी मांगों को सुप्रीम कोर्ट ने ख़ारिज कर दिया है. कांग्रेस की मांग थी कि आरवी देशपांडे को प्रो-टेम स्पीकर बनाया जाए. उन्होंने कहा कि विधानसभा में मतविभाजन की भी बात नहीं मानी गई है.

11.26 AM- कांग्रेस की दलीलों पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि प्रोटेम स्पीकर पर कोई नोटिस दिया जाता है तो शनिवार को शक्ति परीक्षण नहीं हो पाएगा. कांग्रेस शक्ति परीक्षण में देरी के लिए तैयार नहीं हुई.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

11.25AM- सुप्रीम कोर्ट ने शक्ति परीक्षण के दौरान सभी नियमों का पालन करने का निर्देश दिया है.

11.23AM- कर्नाटक विधानसभा में शक्ति परीक्षण में कांग्रेस और जेडीएस की जीत तय है और बीजेपी की हार होगी- अभिषेक मनु सिंघवी.

11.21AM- कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने अपने फ़ैसले में शक्ति परीक्षण को लाइव टेलिकास्ट करने के लिए कहा है.

11.10AM- येदियुरप्पा विधानसभा में ले रहे हैं शपथ.

11.09AM- कपिल सिब्बल का कहना है कि प्रो-टेम स्पीकर का इतिहास दाग़दार रहा है.

11.07AM- कर्नाटक विधानसभा में शक्ति परीक्षण का लाइव टेलिकास्ट किया जा सकता है.

11.06AM- कर्नाटक विधानसभा की कार्यवाही शुरू हुई.

कर्नाटक: येदियुरप्पा को कल चार बजे बहुमत साबित करना होगा

11.05AM- अगर सुप्रीम कोर्ट ने प्रो-टेम स्पीकर को नोटिस दिया तो शक्ति परीक्षण में देरी हो सकती है.

11.02AM- प्रो-टेम स्पीकर की नियुक्ति की वैधता पर सुप्रीम कोर्ट के तीन जजों की बेंच कर रही है सुनवाई.

11.00AM- कर्नाटक विधानसभा में विधायकों का पहुंचना शुरू हुआ.

10.54AM- पीएम मोदी और अमित शाह को येदियुरप्पा से पद छोड़ने के लिए कहना चाहिए- वीरप्पा मोइली.

10.52AM- विधायकों की संख्या कांग्रेस और जेडीएस के साथ है. इसलिए बीजेपी को पीछे हट जाना चाहिए- कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

10.49AM- कर्नाटक में विधानसभा की कार्यवाही की तैयारी हुई शुरू.

10.44AM- सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस की दलील है कि सबसे वरिष्ठतम विधायक ही बनता है प्रो-टेम स्पीकर.

कर्नाटकः कौन हैं प्रोटेम स्पीकर केजी बोपैया

10.42AM- सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू हुई. कपिल सिब्बल कर रहे हैं कांग्रेस की दलीलों का बचाव.

10.41 AM- 2011 में सुप्रीम कोर्ट ने बोपैया पर कड़ी टिप्पणी थी. बोपैया ने 11 विधायकों को अयोग्य घोषित किया था और इसी आधार पर येदियुरप्पा को बहुमत मिला था.

10.38AM- कर्नाटक विधानसभा में आरवी देशपांडे सबसे सीनियर विधायक हैं और कांग्रेस प्रो-टेम स्पीकर का पद देशपांडे को देने की मांग कर रही है.

10.36AM- कर्नाटक विधानसभा में पार्टीवार सीटों की स्थिति-

बीजेपी- 104, कांग्रेस- 78, जनता दल सेक्युलर- 37, बहुजन समाज पार्टी- 1, निर्दलीय- 1, केपीजेपी-1

कर्नाटक में आज फ़ैसले का दिन: इन पांच तरीक़ों से सरकार बचा सकती है बीजेपी

कर्नाटक: सियासी ड्रामे में क्यों अहम हो गया है प्रो-टेम स्पीकर का पद?

इमेज कॉपीरइट Getty Images

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने के बाद बीजेपी के बीएस येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाने से बना गतिरोध शनिवार देर शाम तक थम सकता है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शनिवार यानी 19 मई शाम चार बजे येदियुरप्पा को विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना है.

येदियुरप्पा के नेतृत्व वाली सरकार के पास 222 सीटों वाली विधानसभा में 104 विधायक हैं जो कि साधारण बहुमत से आठ विधायक कम हैं.

कुमारस्वामी : भाजपा के दोस्त से कांग्रेस की दोस्ती तक

ग्राउंड रिपोर्ट: कर्नाटक में 'ऑपरेशन MLA बचाओ' की हक़ीक़त

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए