जडेजा की पत्नी के साथ 'मारपीट' और नंबर प्लेट पर विवाद

  • 22 मई 2018
रीवा सोलंकी इमेज कॉपीरइट DARSHAN THAKKER
Image caption घटना के समय रवींद्र की सास और बेटी भी कार में थी

क्रिकेटर रवींद्र जडेजा की पत्नी रीवा सोलंकी के साथ हुई कथित मारपीट का मामला चर्चा में है. इस मामले में एक पुलिसकर्मी को सस्पेंड कर दिया गया है.

एक एक्सीडेंट के बाद कथित रूप में मारपीट की ये घटना हुई थी. रवींद्र जडेजा की पत्नी ने आरोप लगाया है कि जिस पुलिस कांस्टेबल ने उनके साथ मारपीट की थी, उसने उनके साथ दुर्व्यवहार भी किया.

ये घटना ज़िला पुलिस मुख्यालय से 200 मीटर की दूरी पर हुई. ज़िला पुलिस प्रमुख ने उस पुलिसकर्मी को तत्काल रूप से सस्पेंड कर दिया.

पुलिसकर्मी की गिरफ़्तारी भी हुई लेकिन बाद में अदालत ने उन्हें ज़मानत पर रिहा कर दिया.

लेकिन रीवा सोलंकी जिस कार से सफर कर रही थीं, उसकी नंबर प्लेट चर्चा में है.

कैसे हुई घटना?

पुलिस में दर्ज शिकायत के मुताबिक़ "रीवा जामनगर के शरु सेक्शन विस्तार में बीएमडब्ल्यू कार GJ 03 HR 9366 चलाकर अपनी मां और बेटी के साथ जा रही थीं. तब शाम के सात बजे उनकी कार पुलिस कांस्टेबल की बाइक के साथ टकरा गई."

इस घटना के बाद रीवा और संजय करंगिया के बीच बहस हुई और संजय ने रीवा को कथित तौर पर गालियां दी, थप्पड़ मारे और रीवा का सिर गाड़ी के शीशे पर दो-तीन बार पटका. इससे उनके सिर पर चोटें भी आई हैं.

इमेज कॉपीरइट DARSHAN THAKKER
Image caption आरोपी पुलिसकर्मी संजय करंगिया

इस मामले में रीवा की मां प्रफुल्ला सोलंकी ने शिकायत दर्ज की है. उसके मुताबिक, "पुलिस कांस्टेबल ने रीवा को खुद की तरफ खींच कर उनके साथ ग़लत व्यवहार किया."

घटना के वक्त आस-पास खड़े लोगों ने दखल देकर मामले को शांत किया. कथित हमले में रीवा को चोटें आईं थी, लेकिन फिलहाल उनकी हालत ठीक है.

नबंर प्लेट चर्चा में?

रवींद्र के घर वाले जिस कार से सफर कर रहे थे, उसकी नंबर प्लेट नियम अनुसार नहीं थी.

इस बारे में जब जामनगर पुलिस अधीक्षक प्रदीप सेजुले को पूछा गया तो उन्होंने बताया, "छानबीन के दौरान इस बात को ध्यान में लिया जाएगा."

प्रदीप सेजुला का कहना है कि संजय करंगिया को सस्पेंड कर दिया गया है और उनके खिलाफ ठोस कार्रवाई कर नौकरी से निकालने की हमारी कोशिश है.

पुलिस ने इस केस में भारतीय दंड सहिंता की धारा (279, 323, 324, 354, 504) के अलावा मोटर व्हिकल एक्ट की धारा (177 और 184) के तहत मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की है.

इमेज कॉपीरइट DARSHAN THAKKER
Image caption घटना के वक्त रीवा यही कार चला रही थीं

रवींद्र शहर में नहीं थे?

क्रिकेटर रवींद्र जडेजा आईपीएल के 11वें सीज़न में व्यस्त हैं. पिछले रविवार को रवींद्र पुणे में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ खेले थे.

जून 2017 में उनकी बेटी (निध्याना) का जन्म हुआ था.

इमेज कॉपीरइट RAVINDRA JADEJA/INSTAGRAM

जडेजा के साथ जुड़े विवाद?

शादी के वक्त जडेजा के ससुर ने उन्हें ऑडी क्यू 7 गिफ्ट में दी थी. जिसकी नंबर प्लेट चर्चा में रही थी.

इमेज कॉपीरइट BIPIN TANKARIA
Image caption शादी में गिफ्ट की गई कार का नंबर GJ-11 BH 1212 था

रवींद्र जडेजा की बारात के समय हवा में फायरिंग की गई थी, उस समय पुलिस ने उस घटना पर कार्रवाई करने की बात कही थी.

अगस्त 2017 में रवींद्र जडेजा और उनकी पत्नी रीवा गिर अभ्यारण गए थे. वहां उन्होंने शेरों के साथ सेल्फी ली. ये सेल्फी उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी थी. तब नियम तोड़ने के लिए उनपर 20 हज़ार का जुर्माना लगाया गया था.

जनवरी 2017 में जडेजा और रीवा की कार की टक्कर एक स्कूटी से हो गई थी, जिसमें एक युवती को चोटें आईं थीं. बाद में जडेजा ही उन्हें अस्पताल लेकर गए थे.

इमेज कॉपीरइट BIPIN TANKARIA
Image caption शादी के समय की तस्वीर

क्या है HSRP (हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट) के नियम?

गुजरात सरकार के निर्देश अनुसार राज्य में हर गाड़ी रजिस्टर व्हिकल पर हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन होनी ज़रूरी है.

उसके लिए आरटीओ में वाहन के दस्तावेज़ और फीस देकर HSRP नंबर प्लेट ली जा सकती है.

इस तरह की नंबर प्लेट में अलग-अलग छह तरह के सिक्योरिटी फीचर्स होते हैं.

लोग नंबर प्लेट से कोई छेड़छाड़ ना करें, नंबर समान तरीके से लिखा गया हो, वाहन चालक नंबर प्लेट पर कोई चित्रकारी ना करे, उसके लिए केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्रालय, सेंट्रल मोटर व्हिकल रूल्स 1989 में सुधार कर पूरे देश में एक समान नंबर प्लेन लागू की प्रक्रिया पर काम कर रहा है.

देशभर में HSRP का सही से अमल हो इसके लिए सुप्रीम कोर्ट ने गाइडलाइंस जारी की है.

ये भी पढ़े...

सानिया, देशभक्ति का सवाल और प्रतिक्रियाएँ

'विदेश में शादी कर देशद्रोही हुए अनुष्का, कोहली'

कार्टून: विराट-अनुष्का देशद्रोही, और ये?

विराट ने मैच जीत कर अनुष्का को दिया बर्थडे गिफ़्ट

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे