प्रेस रिव्यू: मानव ढाल बनाने वाले मेजर गोगोई से महिला को लेकर पूछताछ

  • 24 मई 2018
मेजर गोगोई इमेज कॉपीरइट Twitter

जम्मू-कश्मीर में पिछले साल जीप पर एक शख़्स को बांधने वाले मेजर लीतुल गोगोई से बुधवार को राज्य की पुलिस ने श्रीनगर के एक होटल में स्थानीय महिला और पुरुष को लेकर पूछताछ की.

इंडियन एक्सप्रेस में छपी ख़बर के अनुसार, होटल स्टाफ़ के साथ हुई हाथापई के बाद गोगोई से पुलिस स्टेशन में पूछताछ की गई. होटल स्टाफ़ ने स्थानीय महिला को होटल में आने से मना कर दिया था.

आईजीपी कश्मीर एसपी पाणी ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं और एसपी नॉर्थ सिटी सज्जाद अहमद शाह को जांच अधिकारी बनाया है.

शाह ने एक्सप्रेस को बताया कि लीतुल गोगोई के नाम से होटल ग्रांड ममता में एक कमरा बुक किया गया था, जब दोनों होटल आए तो स्टाफ़ ने उन्हें अंदर नहीं आने दिया क्योंकि होटल का कहना है कि वह स्थानीय लड़की को होटल में आने की अनुमति नहीं दे सकते हैं.

उन्होंने आगे बताया, "होटल के रिसेप्शन पर इसको लेकर विवाद हो गया और होटल स्टाफ़ ने पुलिस बुला ली. होटल गई पुलिस उन्हें (गोगोई, महिला और अन्य व्यक्ति) को यहां ले आई. जांच के दौरान हमने कुछ नहीं पाया. लड़की बालिग है और 18 से 19 के आयु के बीच की है. पूरे सत्यापन के बाद हमने उसे जाने दिया."

पुलिस ने कहा कि गोगोई को उनकी यूनिट के सुपुर्द कर दिया गया है.

पिछले साल जम्मू-कश्मीर में श्रीनगर लोकसभा सीट पर उप-चुनाव के दौरान बडगाम में मेजर गोगोई ने फ़ारूक़ अहमद डार नामक आम नागरिक को मानव ढाल के रूप में जीप के बोनट पर बांधकर कई जगहों पर परेड कराई थी. इसके लिए उनकी आलोचना हुई थी लेकिन सेना ने उन्हें सम्मानित किया था.

'मेजर गोगोई का सम्मान जल्दबाज़ी, मीडिया में लाना ठीक नहीं'

देशभक्ति के छौंक से 'बागी-2' की रिकॉर्डतोड़ कमाई?

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption योगी आदित्यनाथ ने दिए जांच के आदेश

बीजेपी नेताओं से बिटकॉइन में मांगी गई फ़िरौती

उत्तर प्रदेश में 14 बीजेपी विधायकों और पूर्व विधायकों समेत कुल 16 राजनेताओं ने वॉट्सअप के ज़रिए फ़िरौत मांगे जाने के मैसेज मिलने की बात कही है. इस मामले के सामने आने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जांच के आदेश दे दिए हैं.

अंग्रेज़ी अख़बार हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक़, इस सप्ताह आए वॉट्सअप मैसेजों में वसूली करने वाले शख़्स का दावा है कि वह खाड़ी देश से यह सब कुछ कर रहा है.

राजस्थान में एक अन्य बीजेपी नेता को भी रविवार और सोमवार को जबरन वसूली के मैसेज और फ़ोन कॉल आए. राज्य की पुलिस इस मामले की जांच कर रही है.

एक वरिष्ठ पुलिस अफ़सर ने कहा कि उत्तर प्रदेश के राजनेताओं को कथित रूप से बहरीन स्थित गैंगस्टर अली बाबा बुदेश की ओर से मैसेज आए हैं. उनको धमकी दी गई है कि वे अगर 10-10 लाख रुपये नहीं देते हैं तो उनके परिजनों को नुकसान पहुंचाया जाएगा.

मैसेज में मांग की गई है कि यह फ़िरौती क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन में दी जाए.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

जम्मू में 80 हज़ार लोगों ने छोड़ा घर

जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर बुधवार को हुए संघर्ष विराम उल्लंघन में एक बच्चे समेत पांच लोगों की मौत हो गई. ये मौतें जम्मू, कठुआ और सांबा ज़िलों में हुई हैं.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया में बताया गया है कि इस घटना के बाद इलाक़े में भारी प्रदर्शन हुए हैं और पाकिस्तान की ओर से की गई बमबारी के कारण तीन ज़िलों के कम से कम 80 हज़ार लोग अपने-अपने घर छोड़ने पर मजबूर हुए हैं.

घर छोड़कर आए इन लोगों में से कम से कम तीन हज़ार लोग राहत शिविरों में हैं.

जम्मू क्षेत्र में सीमा पर लगातार नौ दिनों से पाकिस्तान की ओर से फ़ायरिंग जारी है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मुस्लिम तुष्टिकरण के आरोप के कारण कांग्रेस पिछड़ी

कांग्रेस नेता सलमान ख़ुर्शीद ने कहा है कि मुस्लिम तुष्टिकरण के आरोपों के कारण उनकी पार्टी 44 सीटों पर सिमट गई. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने बहुत अच्छी सरकार दी थी.

दैनिक भास्कर को दिए इंटरव्यू में सलमान ने अपने पुराने बयान पर भी सफ़ाई दी. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के हाथ ख़ून से रंगे हुए बयान को रिपोर्ट किया गया जबकि उन्होंने कहा कि यह भी कहा था कि कांग्रेस के दामन पर मुस्लिमों के ख़ून के दाग़ थे.

इस बयान के बाद भी कांग्रेस के महाधिवेशन में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनके बयान का सम्मान किया था. इस पर उन्होंने कहा कि उन्हें गर्व है कि उनकी पार्टी ने उनका साथ दिया जबकि कोई ओर पार्टी इस पर संकोच करती.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

बारिश के लिए गुजरात सरकार के यज्ञ

गर्मी जैसे-जैसे बढ़ती जा रही है, वैसे-वैसे पानी की कमी भी बढ़ती जाएगी. इस संकट से निपटने के लिए गुजरात सरकार 'दैवीय हस्तक्षेप' का सहारा लेने पर विचार कर चुकी है.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया के अनुसार, विजय रुपाणी की बीजेपी सरकार 31 मई को 33 ज़िलों में 41 'पर्जनय यज्ञ' कराएगी ताकि भगवान इंद्र और वरुण को ख़ुश किया जा सके और अच्छा मानसून हो.

इसी यज्ञ के साथ गुजरात सरकार के एक महीने लंबे 'सुजलाम सुफ़लाम जल अभियान' का समापन भी होगा.

इस यज्ञ का फ़ैसला बुधवार को कैबिनेट मीटिंग में लिया गया था. उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा है कि अच्छे मानसून के लिए यह यज्ञ होगा और इसके बाद प्रसाद बांटा जाएगा और इस यज्ञ में मुख्यमंत्री समेत सभी मंत्री शामिल होंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए