प्रेस रिव्यू- मेजर गोगोई दोषी हुए तो ऐसी सज़ा देंगे जो उदाहरण होगी: सेना प्रमुख

  • 26 मई 2018
मेजर लीतुल गोगोई इमेज कॉपीरइट TWITTER

भारत प्रशासित कश्मीर के श्रीनगर के एक होटल में विवाद के बाद सेना ने शुक्रवार को मेजर लीतुल गोगोई के ख़िलाफ़ कोर्ट ऑफ़ इन्क्वॉयरी का आदेश दे दिया है. गोगोई कथित तौर पर एक युवती और पुरुष के साथ होटल में पहुंचे थे.

पहलगाम गए सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत के हवाले से इंडियन एक्सप्रेस ने लिखा है कि अगर गोगोई किसी भी अपराध के दोषी पाए गए तो उन्हें ऐसी सज़ा मिलेगी जो एक मिसाल बनेगी.

सेना के अधिकारी ने बताया कि इस मामले में कोर्ट ऑफ़ इन्क्वॉयरी के आदेश दिए जा चुके हैं और इसके समाप्त होने पर उचित कार्रवाई की जाएगी. हालांकि, अधिकारी ने इसकी जानकारी नहीं दी कि इस इन्क्वॉयरी की रिपोर्ट कब तक जमा करनी है.

मेजर गोगोई पिछले साल तब चर्चा में आए थे जब उन्होंने बडगाम में एक शख़्स को मानव ढाल के रूप में सेना की जीप से बांध दिया था. इसके बाद उन्हें सेना ने पुरस्कार भी दिया था.

ख़बर के मुताबिक हाल में गोगोई एक स्थानीय युवती और पुरुष के साथ होटल में गए थे, जहां स्टाफ़ ने युवती को होटल में आने की अनुमति नहीं दी थी. विवाद बढ़ने पर पुलिस तीनों को थाने ले गई थी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवार घोषित हो सकती हैं मायावती

बहुजन समाज पार्टी की शनिवार को होने वाली राष्ट्रीय कार्यकारी समिति में पार्टी प्रमुख मायावती को 2019 के लिए प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार चुना जा सकता है.

अंग्रेज़ी अख़बार हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक़, राष्ट्रीय कार्यकारी समिति में मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान विधानसभा के आगामी चुनावों के लिए कांग्रेस के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन पर भी बात होगी.

नाम न बताने की शर्त पर एक वरिष्ठ बसपा नेता ने कहा, "2019 के लोकसभा चुनावों के लिए चुनाव पूर्व गठबंधन को मंज़ूरी के अलावा कार्यकारी समिति मायावती को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित कर सकती है."

समिति की बैठक से एक दिन पहले शुक्रवार को बसपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया पर मायावती को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करने को लेकर अभियान भी चलाया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

राहुल की रैली में भीड़ लाओ, टिकट पाओ

कांग्रेस ने पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए 'प्रतियोगिता' रखी है कि जो छह जून को मंदसौर में होने वाली पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की रैली में सबसे अधिक भीड़ जुटाएगा आने वाले मध्य प्रदेश विधानसभा चुनावों में उसे ही टिकट मिलेगा.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया के अनुसार, कांग्रेस सचिव और मध्य प्रदेश के प्रभारी संजय कपूर ने गुरुवार को मंदसौर, रतलाम, नीमच और उज्जैन से आए पार्टी नेताओं के सामने यह घोषणा की थी.

उन्होंने कहा, "अपनी शक्ति दिखाओ. जो राहुलजी की रैली के लिए ज़्यादा लोग लाएगा, वो टिकट पाएगा. जो असफल होंगे वो समझेंगे कि उन्होंने क्यों नहीं किया."

पार्टी नेता राहुल की रैली के लिए रणनीति बनाने के लिए एकजुट हुए थे. यह रैली पिछले साल मंदसौर में पुलिस फ़ायरिंग में मारे गए किसानों को श्रद्धांजलि देने के लिए की जा रही है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

रोहिंग्या मुद्दे पर बांग्लादेश ने मांगी भारत से मदद

भारत दौरे पर आईं बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने कहा है कि रोहिंग्या मुद्दे पर उनका देश भारत की मदद चाहता है.

जनसत्ता में छपी ख़बर के अनुसार, हसीना ने कहा है कि उनका देश चाहता है कि रोहिंग्या शरणार्थी जल्द अपने देश म्यांमार लौट जाएं और इसके लिए म्यांमार पर दबाव बनाने में भारत सरकार अहम भूमिका निभा सकती है.

पश्चिम बंगाल के शांति निकेतन में विश्व भारती विश्वविद्यालय के 49वें दीक्षांत समारोह में उन्होंने कहा कि रोहिंग्या शरणार्थियों को उन्होंने इंसानियत के नाते जगह दी है और वह चाहती हैं कि वे अपने देश लौट जाएं.

उन्होंने आगे कहा कि भारत म्यांमार से उनकी बातचीत करवाने में मदद करे ताकि वे रोहिंग्या शरणार्थियों को वापस अपने देश ले जा सकें.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इन राज्यों में हिंदू होंगे अल्पसंख्यक?

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग सात राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में हिंदुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा देने की मांग पर 14 जून को सुनवाई करेगा.

पंजाब केसरी के अनुसार, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, मिज़ोरम, मणिपुर, नगालैंड, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और एक केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप में हिंदुओं को अल्पसंख्यक वर्ग का दर्जा दिए जाने की मांग की गई है.

इस मांग को लेकर वकील अश्विनी उपाध्याय सुप्रीम कोर्ट गए थे. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें इसके लिए अल्पसंख्यक आयोग जाने को कहा था.

आयोग के अध्यक्ष सैयद ग़यूरुल हसन रिज़वी ने बताया कि इस मामले की सुनवाई के लिए तीन सदस्यीय उप समिति का गठन किया गया था जो 14 जून को इस पर सुनवाई करेगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए