प्रेस रिव्यू: जेटली ने इंदिरा गांधी की हिटलर से तुलना की

इंदिरा गांधी

इमेज स्रोत, Getty Images

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की तुलना हिटलर से की है.

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी एक खबर के मुताबिक इमरजेंसी की 43वीं वर्षगांठ पर एक ब्लॉग में अरुण जेटली ने ये बात लिखी. उन्होंने ये भी लिखा कि हिटलर और इंदिरा गांधी दोनों ने ही कभी संविधान की परवाह नहीं की.

प्रधानमंत्री ने अरुण जेटली के इस ब्लॉग को पढ़ने की अपील लोगों से की. उन्होंने ट्वीट किया, "अरुण जेटली ने आपातकाल के काले दिनों, व्यक्तिगत स्वतंत्रता के हनन के बारे में लिखा है. उन्होंने बताया कि आपातकाल के उस दौर ने कैसे हमारे संविधान के मूल्यों पर सीधा हमला किया था."

इमेज स्रोत, Getty Images

चंदा कोचर की बढ़ी मुसीबतें

सेबी ने कहा है कि वह आईसीआईसीआई बैंक और उसकी सीईओ चंदा कोचर के ख़िलाफ़ क़ानूनी कार्रवाई के पक्ष में है.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार इस मामले में अपनी प्रारंभिक जांच के आधार पर सेबी का कहना है कि कोचर ने अपने पति और वीडियोकॉन समूह के बीच व्यावसायिक रिश्तों में 'हितों के टकराव' को लेकर जानकारी छिपाई, जिससे डिसक्लोजर के नियमों का उल्लंघन हुआ.

नियमों के उल्लंघन के चलते आईसीआईसीआई बैंक पर 25 करोड़ रुपए तक की और सीईओ चंदा कोचर पर एक करोड़ रुपए तक की पेनल्टी लगाई जा सकती है.

पेड़ों की कटाई पर रोक

दिल्ली की छह पॉश कॉलोनियों के पुनर्विकास के लिए हज़ारों पेड़ काटने की योजना पर हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है.

नवभारत टाइम्स में प्रकाशित ख़बर में बताया गया है कि कोर्ट ने ये रोक चार जुलाई तक लगाई है.

दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मामले पर कड़ा रुख अख्तियार किया है. अखबार लिखता है, कोर्ट ने सवाल किया कि क्या मौजूदा हालात में दिल्ली इतने पेड़ों की कटाई झेल पाएगी?

इन पेड़ों की कटाई के विरोध में स्थानीय लोग भी कई दिनों से प्रदर्शन कर रहे थे.

इमेज स्रोत, Getty Images

अमरनाथ यात्रा पर खतरा

अमरनाथ यात्रा पर चरमपंथी हमले की आशंका जताई जा रही है. जनसत्ता अखबार में प्रकाशित समाचार के अनुसार खुफ़िया एजेंसी ने ये अलर्ट जारी किया है.

इस अलर्ट के मद्देनज़र रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, सेना प्रमुख बिपिन रावत और जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल एन एन वोहरा ने बालटाल आधार शिविर जाकर सुरक्षा इंतज़ामों का जायज़ा लिया.

अमरनाथ यात्रा 28 जून को शुरू होने जा रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)