मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रज़ाक गिरफ़्तार

  • 3 जुलाई 2018
मलेशिया इमेज कॉपीरइट Reuters

मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रज़ाक को भ्रष्टाचार के मामले में मंगलवार को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

नजीब पर सरकारी ख़ज़ाने से 70 करोड़ डॉलर के ग़बन के आरोप हैं. इस साल मई महीने में चुनाव हारने के बाद से ही नजीब जांच के दायरे में थे.

हालांकि नजीब भ्रष्टाचार के आरोपों को सिरे से ख़ारिज करते रहे हैं. पुलिस की तरफ़ से जारी बयान में बताया गया है कि नजीब को उनके आवास से स्थानीय समय दिन में ढाई बजे गिरफ़्तार किया गया.

नजीब पर कुआलालंपुर के हाई कोर्ट में आरोप तय किए गए हैं. नजीब की संपत्ति से जुड़े कई ठिकानों पर हाल के हफ़्तों में छापेमारी की गई थी.

पुलिस का कहना है कि नजीब के ठिकानों से 27.3 करोड़ डॉलर के लग्ज़री सामान ज़ब्त किए गए हैं. कहा जा रहा है कि मलेशिया के इतिहास में इतनी बड़ी रक़म की ज़ब्ती नहीं हुई है.

20 साल की सज़ा संभव

ज़ब्त सामानों में सबसे बड़ा हिस्सा ज्वैलरी का है. इनमें सबसे महंगा 16 लाख डॉलर का आभूषण हार है.

नजीब को देश से बाहर जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. नजीब पर भ्रष्टाचार के आरोप वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के बाद लगे थे.

वॉल स्ट्रीट जर्नल ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि सरकारी ख़ज़ाने के 70 करोड़ डॉलर नजीब के पर्सनल अकाउंट में हैं. भ्रष्टाचार के मामले में नजीब की पत्नी रोसमाह मनसोर समेत उनके परिवार के कई सदस्यों से पूछताछ हुई है.

मलेशियाई मीडिया के अनुसार 64 साल के नजीब को 20 साल की क़ैद की सज़ा हो सकती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे