कश्मीर में सुरक्षाबलों की गोलीबारी में तीन की मौत

  • 7 जुलाई 2018
अंदलीब का जनाज़ा इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption सुरक्षाबलों की गोलीबारी में एक 16 साल की लड़की की भी मौत हो गई है

पुलिस के मुताबिक भारत प्रशासित कश्मीर के कुलगाम ज़िले में शनिवार को हुए प्रदर्शनों में तीन लोगों की मौत हो गई है जिनमें एक युवती भी शामिल है.

कश्मीर में चरमपंथी नेता बुरहान वानी की मौत की दूसरी बरसी पर सुरक्षा के कड़े इंतेज़ाम किए गए हैं. बुरहान वानी 08 जुलाई 2016 को सुरक्षाबलों के हाथों एनकाउंटर में मारे गए थे.

उनकी मौत के बाद कश्मीर घाटी में व्यापक प्रदर्शन हुए थे और सुरक्षाबलों को चरमपंथियों के ख़िलाफ़ कड़े अभियान चलाने पड़े हैं.

कश्मीर में नए चरमपंथी लड़ाकों के ख़िलाफ़ अभियानों के दौरान अक्सर आम लोग प्रदर्शन करते हैं. इस दौरान सुरक्षाबलों के गोली से कई प्रदर्शनकारी मारे जा चुके हैं.

चश्मदीदों के मुताबिक़ शनिवार को जब कुलगाम में सुरक्षाबलों ने नाकेबंदी की तो स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन किया.

कुलगाम के रहने वाले जावेद ने बीबीसी से कहा, "प्रदर्शनकारियों ने सेना के काफ़िले पर पत्थर फेंके जिसके बाद सैनिकों ने भीड़ पर गोली चला दी."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

घायलों को स्थानीय अस्पताल ले जाया गया जहां एक सोलह वर्षीय लड़की समेत तीन लोगों को मृत घोषित कर दिया है.

स्थानीय अस्पताल के अधिकारियों ने बीबीसी को बताया है कि कम से कम नौ लोगों को गोली लगी है. अस्पताल से जुड़े डॉ. एजाज़ ने बीबीसी से इन मौतों की पुष्टि की है.

कुलगाम और आसपास के इलाक़ों में सुरक्षा के विशेष प्रबंध किए गए हैं. इसके अलावा समूची कश्मीर घाटी में सैन्यबल सतर्क हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption प्रदर्शनकारियों के जनाज़ों में भारी भीड़ शामिल रही

स्थानीय लोगों के प्रदर्शन रोकने के लिए प्रदेश में रेल सेवाएं और इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं. बुरहान वानी के गृह नगर त्राल को पूरी तरह सील कर दिया गया है. त्राल में मार्च का आह्वान करने वाले अलगाववादी नेताओं को नज़रबंद कर दिया गया है.

इसी बीच, अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी को दिल्ली की तिहाड़ जेल लाया गया है जहां राष्ट्रीय जांच एजेंसी उनसे पूछताछ कर रही है. उनकी गिरफ़्तारी के विरोध में अलगाववादियों ने शनिवार को बंद का आह्वान किया है.

शनिवार को भी कश्मीर बंद का भी ऐलान किया गया है.

इसी सप्ताह, भारत के गृह मंत्री राजनाथ सिंह, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने कश्मीर घाटी की यात्रा करके सुरक्षा इंतेज़ामों का जायज़ा लिया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)