आज की पांच बड़ी ख़बरें: गे सेक्स अपराध या नहीं, सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई

  • 10 जुलाई 2018
Gay, homosexuality, symbolic image इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption सांकेतिक तस्वीर

सुप्रीम कोर्ट में पांच जजों की एक पीठ आज समलैंगिक सम्बन्धों को अपराध ठहराने वाली आईपीसी की धारा-377 पर सुनवाई करेगी. सुप्रीम कोर्ट ने साल 2013 में दिल्ली हाई कोर्ट के 2009 के फ़ैसले को पलटते हुए दो वयस्कों के बीच आपसी सहमति से बनाए सम्बन्धों को अपराध की श्रेणी में डाल दिया था.

इसके बाद सुप्रीम कोर्ट में 25 से ज़्यादा ऐसी याचिकाएं आईं जिनमें आईपीसी की धारा-377 को अमान्य करार देने की गुज़ारिश की गई थी. एलजीबीटी (लेस्बियन, गे, बाइसेक्शुअल और ट्रांसज़ेंडर) समाज के लोग धारा-377 को अपने मौलिक अधिकारों का हनन बताते हैं.

अगस्त, 2017 में सुप्रीम कोर्ट ने निजता के अधिकार पर फ़ैसला सुनाते हुए कहा था कि सेक्शुअल ओरिएंटेशन किसी व्यक्ति का निजी मामला है और सरकार इसमें दखल नहीं दे सकती.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

विदर्भ,कोंकण और गोवा में भारी बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग ने विदर्भ, कोंकण और गोवा में पांच दिन का अलर्ट जारी किया है.

मुंबई के कई इलाक़ों में शनिवार से भारी बारिश के मद्देनज़र ये अलर्ट जारी किया गया है. पिछले चार दिनों से गोवा में भी लगातार बारिश हो रही है. साल 1994 के बाद यह पहली बार है जब राज्य में इतनी बारिश हुई है.

नागुपर और ठाणे में भी पिछले दिन भारी बारिश हुई. मुंबई के मनखुर्द इलाक़े में बिजली गिरने से कुछ लोगों के मौत की ख़बर भी आई है.

दूसरी तरफ़ मुंबई के पास वसई में बारिश और बढ़े जलस्तर की से शनिवार को एक शख़्स की मौत हो गई. शख़्स की मौत चिंटोटी झरने में अचानक जलस्तर बढ़ने से डूबकर हुई. वहां अब भी 12 लोग फंसे हुए हैं और राहत और बचाव कार्य जारी है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

गरीबों का मुफ़्त इलाज करें अस्पताल: सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली के सभी प्राइवेट अस्पतालों से कहा है कि या तो वे गरीबों का मुफ़्त में इलाज करें या अपना लाइसेंस कैंसल किए जाने के लिए तैयार रहें. अदालत ने यह चेतावनी सरकार से छूट लेने वाले निजी अस्पतालों से ख़ास तौर पर है.

क़ानून के मुताबिक, इन अस्पतालों को गरीबी रेखा से नीचे के सभी लोगों का मुफ़्त में इलाज करना था. इससे पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने भी ऐसा ही फ़ैसला सुनाया था जिसे कई बड़े निजी अस्पतालों ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने भी अपने फ़ैसले में हाईकोर्ट की बात दुहराई है

इमेज कॉपीरइट AFP/Getty

ब्रेग्जिट को लेकर ब्रिटेन में उथल-पुथल

ब्रेग्जिट मामले पर ब्रिटेन के विदेश मंत्री बोरिस जॉनसन ने भी इस्तीफ़ा दे दिया है. इस इस्तीफे के साथ ही ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे ने अपनी सरकार के दो वरिष्ठ मंत्रियों को खो दिया है.

एक दिन पहले ही ब्रेग्जिट के मसले पर मुख्य वार्ताकार डेविड डेविस अपना इस्तीफा सौंप चुके हैं. इन इस्तीफों के साथ ब्रिटेन में राजनीतिक उथल-पुथल शुरू हो गई है.

2016 में थेरेसा मे सरकार ने जनमत संग्रह के ज़रिए यूरोपीय संघ से बाहर निकलने का फैसला लिया था. अब अलग होने के लिए ब्रिटेन के पास 9 महीने से भी कम समय बचा है. लेकिऩ यूरोपीय संघ और ब्रिटेन के संबंधों को लेकर टेरीज़ा मे की अपने मंत्रियों से सहमति नहीं बन पा रही है. मंत्रियों को आपत्ति है कि मौजूद योजना के तहत ब्रिटेन को बहुत कुछ देना पड़ सकता है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

फ़ुटबॉल वर्ल्ड कप सेमीफ़ाइनल: फ़्रांस और बेल्जियम का मुक़ाबला

फ़ीफ़ा वर्ल्ड कप में आज यूरोप की दो मज़बूत टीमें रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में आमने-सामने होंगी. बेल्जियम और फ़्रांस की फ़ुटबॉल टीमें आज 74वीं बार एक-दूसरे का मुकाबला करेंगे. फ़्रांस इससे पहले फ़ुटबॉल वर्ल्ड कप में बेल्जियम को दो बार हरा चुका है.

फ़्रांस की टीम ने उरुग्वे को हराकर सेमी-फ़ाइनल में जगह बनाई है. यह छठा मौका है जब फ़्रांस की टीम सेमी-फ़ाइनल मुक़ाबला खेल रही है. वहीं, बेल्जियम दूसरी बार फ़ीफ़ा वर्ल्ड कप के सेमीफ़ाइनल में खेलने उतरेगा.

ये भी पढ़ें:

थाईलैंड की गुफा से बाकी बच्चों को निकालने का अभियान जल्द होगा शुरू

ग्राउंड रिपोर्टः अभी 'नज़रबंद' है खूंटी गैंगरेप का सच

मॉडल ने गुड़िया को कराया स्तनपान, सोशल मीडिया पर हंगामा

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे