बीबीसी की ख़बरें अब गुजराती टीवी पर

  • 16 जुलाई 2018
बीबीसी गुजराती

सोमवार से बीबीसी की गुजराती सेवा के टीवी न्यूज़ बुलेटिन का प्रसारण जीएसटीवी (गुजरात समाचार टेलीविज़न) पर शुरू हो गया है.

30 मिनट का ये बुलेटिन 'बीबीसी समाचार' सोमवार से शुक्रवार शाम 8 बजे जीएसटीवी पर प्रसारित होगा.

इस बुलेटिन में अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय समाचारों के अलावा विविध सामाजिक, भौगोलिक और सामुदायिक चरित्र वाले गुजरात के दैनिक जीवन के अलग-अलग पहलू नज़र आएंगे.

आमतौर पर शाम को चाय के साथ चर्चा पसंद करने वाले गुजरातियों के लिए बीबीसी न सिर्फ़ प्रभावशाली कहानियां लेकर आएगी बल्कि नया नज़रिया भी पेश करेगी.

गुजरात के एक ओर जहां समुद्र है वहीं दूसरे छोर पर रेगिस्तान भी है. अहमदाबाद की हिंदू-इस्लामी और जैन वास्तुकला इसे विश्व विरासत वाला शहर बनाती है. लेकिन समुदायों का विरोधाभासी सहअसतित्व इसे भारत का सबसे अलग तरह की पहचान के मुहल्लों वाला शहर भी बनाता है.

गुजरात में महिलाओं की सबसे कामयाम सहकारी समितियां हैं, लेकिन यहां लिंग अनुपात गंभीर चिंता का विषय भी है. कुछ गांव तो ऐसे है जहां एक हज़ार पुरुषों पर चार सौ महिलाएं भी नहीं हैं.

Image caption लक्ष्मी विलास पैलेस, वडोदरा

बीबीसी गुजराती सेवा इन्हीं विरोधाभासों और विभाजनों को समझने और ज़िम्मेदार पत्रकारिता वाली पैनी रिपोर्टिंग के ज़रिए उसे सामने लाने के लिए प्रतिबद्ध रहेगी.

हमारा बीबीसी गुजराती बुलेटिन स्पष्ट, निष्पक्ष और प्रभावशाली पत्रकारिता के नए दौर की शुरुआत करेगा.

'बीबीसी समाचार' में बीबीसी का राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तैयार किया जा रहा सर्वश्रेष्ठ कंटेंट आपको देखने को मिलेगा

इमेज कॉपीरइट IndiaPictures
Image caption मोहनदास गांधी विद्यालय, राजकोट

इसमें भारतीय और अंतरराष्ट्रीय कहानियां तो होंगी ही, ट्रेंडिंग टॉपिक होंगे और खेल, मनोरंज, व्यापार, स्वास्थ्य, शिक्षा और महिलाओं के मुद्दों से जुड़ी ख़बरें भी होंगी.

Image caption कच्छ इलाके की महिला

बीबीसी की गुजराती सेवा की शुरुआत 2 अक्तूबर 2017 को हुई थी. इसी दिन भारत में बीबीसी ने तीन और भाषाओं तेलुगू, मराठी और पंजाबी में वेबसाइटें शुरू की थीं.

भारत में बीबीसी की सेवाएं पहले से ही हिंदी, उर्दू, तमिल, बांग्ला और अंग्रेज़ी में उपलब्ध थीं.

अब बीबीसी भारत में नौ भाषाओं में समाचार और विश्लेषण पेश कर रही है.

बीते साल तक गुजरात के लोगों को बीबीसी के समाचार हिंदी या अंग्रेज़ी में ही उपलब्ध हो पाते थे. अब गुजराती भाषा में भी बीबीसी के विश्वसनीय और सटीक समाचार उपलब्ध हैं.

गुजरात में महात्मा गांधी, झावरचंद मेघानी, दादाभाई नौरोजी, इंदुलाल याग्निक और हाजी मोहम्मद अल्लारक्खा जैसे पत्रकार हुए हैं.

बीबीसी की गुजराती सेवा को अभी दस महीने ही हुए हैं और इस छोटे समय में ही हमने अपनी अलग जगह बना ली है. युवा हमारी सेवा को ख़ासकर पसंद कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे