पांच बड़ी ख़बरें: एसिड अटैक पीड़िता को ताउम्र पेंशन

  • 18 जुलाई 2018
इमेज कॉपीरइट Getty Images

बिहार में एसिड अटैक और रेप पीड़ित को सरकार तीन से सात लाख रुपए तक का मुआवज़ा देगी.

शारीरिक शोषण और मानव व्यापार के पीड़ितों के पुर्नवास के लिए भी मुआवज़े का प्रावधान किया गया है.

अगर कोई महिला तेज़ाब हमले में आंख की रोशनी खो चुकी हो और चेहरे का 80 प्रतिशत हिस्सा जख्मी हो तो सरकार की तरफ से उसे ताउम्र 10 हज़ार रुपए पेंशन मिलेगी.

संसद का मॉनसून सत्र आज से

संसद का मॉनसून सत्र बुधवार से शुरू हो रहा है. 22 दिनों तक चलने वाले इस सत्र में सरकार कई महत्वपूर्ण विधेयक पेश कर सकती है.

इनमें से बच्चों से रेप पर फांसी, तीन तलाक़ और ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा संबंधित बिल शामिल हैं.

इससे एक दिन पहले लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन की अध्यक्षता में मंगलवार को सर्वदलीय बैठक हुई.

बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार ने कहा कि सर्वदलीय बैठक सकारात्मक रही और वे उम्मीद करते हैं कि मॉनसून सत्र में सदन सुचारू ढंग से काम करेगा.

ग्रेटर नोएडाः दो इमारतें ढहीं, दो शव निकाले जाने की पुष्टि

देश की राजधानी दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में दो इमारतें ढह जाने से कुछ लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है. अब तक मलबे से दो शव निकाले जाने की पुष्टि हो चुकी है.

शाहबेरी गांव में यह हादसा रात आठ से साढ़े आठ बजे के क़रीब हुआ. ढहने वाली इमारतों में से एक निर्माणाधीन थी जबकि दूसरी वाली दो साल पहले बनकर तैयार हुई थी.

अभी तक आधिकारिक आंकड़ा नहीं मिल पाया है कि यहां कितने लोग रहते थे और कितने लोग मलबे के नीचे दबे हो सकते हैं.

मौक़े पर मौजूद प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि मलबे के नीचे दबे हुए लोगों की संख्या 10 से भी कम हो सकती है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

राहुल गांधी के ख़िलाफ बोलने वाले नेता पर गिरी गाज

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख ने राष्‍ट्रीय संयोजक जय प्रकाश सिंह को पार्टी के सभी पदों से हटा दिया है. मायावती ने कहा कि उन्हें जय प्रकाश सिंह के भाषण के बारे में पता चला था कि उन्‍होंने पार्टी की विचारधारा के विरुद्ध बात की है और विरोधी पार्टी के नेतृत्व पर निजी टिप्पणियां की हैं.

यह उनकी व्यक्तिगत राय है, जिससे पार्टी सहमत नहीं है. ऐसे में उन्हें तत्काल प्रभाव से सभी पदों से हटाया जाता है.

जय प्रकाश सिंह ने सोमवार को कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को लेकर कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी की थी.

इमेज कॉपीरइट EPA

अमरीकी चुनाव में कथित रूसी दख़ल पर दिए बयान से पलटे ट्रंप

अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप अपने एक दिन पुराने बयान से पलट गए हैं. अब उनका कहना है कि वो अमरीका की खुफ़िया एजेंसियों के रूस के 2016 चुनावों में हस्तक्षेप करने के दावे को मानते हैं.

उन्होंने कहा कि सोमवार को दिए उनके बयान का मतलब था कि उन्हें रूस द्वारा हस्तक्षेप ना करने का कोई कारण नज़र नहीं आता

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ शिखर वार्ता के दौरान ट्रंप ने अमरीकी ख़ुफ़िया एजेंसियों से विपरीत यह कहा था कि रूस के पास अमरीकी चुनाव में हस्तक्षेप करने का कोई का कोई कारण नहीं है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए