आज की पांच बड़ी ख़बरें: विदेशों में भारतीय बैंकों के 70 ब्रांच पर लगेंगे ताले

  • 23 जुलाई 2018
बैंक इमेज कॉपीरइट Getty Images

भारत के सरकारी बैंकों के विदेशों में कुल 216 शाखाओं में से 70 शाखाएं इस साल के अंत तक बंद होने जा रही हैं. 70 शाखाओं के आलावा विदेशों में इन बैंकों की अन्य सेवाएं भी बंद होंगी.

वित्त मंत्रालय के सीनियर अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि की है. भारतीय स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, इंडियन ओवरसीज़ बैंक, आईडीबीआई बैंक और बैंक ऑफ़ इंडिया विदेशों से अपनी सेवाओं में भारी कटौती करेंगे.

यह क़दम खर्चों को कम करने और पूंजी बचाने के लिए किया जा रहा है. खाड़ी के देशों में भी ये बैंक उन ब्रांचों को बंद करेंगी जिनसे पर्याप्त राजस्व हासिल नहीं हो रहा है.

'आत्मप्रशंसा और जुमले वाली सरकार'

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने रविवार को कांग्रेस कार्यकारी समिति की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि आत्मप्रशंसा और जुमला ठोस नीतियों के विकल्प नहीं हो सकते.

मनमोहन सिंह ने केंद्र की वर्तमान सरकार की नीतियों को लेकर निशाना साधा. पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी को यह ज़िम्मेदारी उठानी है कि वो भारत की सद्भावना और आर्थिक तरक्की को पटरी पर लाएं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

बिहार से बरसात ने मुंह मोड़ा

बिहार के कुल 38 ज़िलों में से 35 ज़िले सूखे की चपेट में आ गए हैं. जुलाई के तीन हफ़्तों में 48 फ़ीसदी कम बारिश हुई है. बिहार में केवल 19 फ़ीसदी ही धान की रोपाई हो पाई है.

राज्य सरकार इस महीने के अंत तक बारिश का इंतज़ार कर रही है. अगर इस महीने के अंत तक बारिश नहीं हुई तो प्रदेश सरकार बिहार को सूखाग्रस्त राज्य घोषित कर सकती है. बांका, मधुबनी और पश्चिम चंपारण में ही औसत बारिश हो पाई है.

इमेज कॉपीरइट @INCIndia

गठबंधन की ज़िम्मेदारी राहुल पर

कांग्रेस कार्यसमिति ने राहुल गांधी को समान विचारधारा वाली राजनीतिक पार्टियों से गठबंधन करने की ज़िम्मेदारी दी है. रविवार को कांग्रेस की नई कार्यसमिति की पहली बैठक हुई.

इस कार्यसमिति में यह फ़ैसला लिया गया कि 2019 के आम चुनाव में बीजेपी को हराने के लिए राहुल गांधी गठबंधन पर फ़ैसला लें. कार्यसमिति की बैठक के बाद कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी ने कहा कि गठबंधन के लिए एक टीम गठित की जाएगी.

इस बैठक में मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनावों की रणनीतियों पर भी बात हुई.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान में चुनाव प्रचार होगा आज ख़त्म

पाकिस्तान में 25 जुलाई को होने वाले वाले आम चुनाव के लिए आज चुनाव प्रचार का आख़िरी दिन है. वहीं, चुनाव से ठीक तीन दिन पहले पाकिस्तान मुस्लिम लीग के नेता हनीफ़ अब्बासी को उम्रक़ैद की सज़ा सुनाई गई.

रावलपिंडी की एक अदालत ने उन्हें एक प्रतिबंधित दवा के दुरुपयोग से जुड़े मामले में यह सज़ा सुनाई है. अब्बासी को एक मज़बूत उम्मीदवार के तौर पर देखा जा रहा था.

अदालत के फ़ैसले के बाद अब्बासी के समर्थक उनके चुनावी क्षेत्र में मतदान की तारीख़ आगे बढ़ाने की मांग कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए