पांच बड़ी ख़बरें: 'मोदी क्यों नहीं पहनते मुस्लिमों वाली जालीदार टोपी'

  • 7 अगस्त 2018
मोदी इमेज कॉपीरइट Getty Images

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और सवाल किया कि जब नरेंद्र मोदी अपनी यात्राओं के दौरान अलग-अलग अंदाज़ वाली टोपियां पहने हुए नज़र आते हैं, लेकिन वह हमेशा मुस्लिमों की जालीदार टोपी पहनने से इनकार क्यों करते हैं.

थरूर के इस बयान के बाद बीजेपी नेताओं ने कांग्रेस नेता शशि थरूर से अपने बयान के लिए माफ़ी मांगने को कहा है.

बीजेपी नेता राम माधव ने कहा है कि मुस्लिम टोपी के प्रति अपने प्रेम में शशि थरूर ये भी ध्यान नहीं रखते हैं कि वह नागालैंड की टोपी को अजीबोगरीब बोलकर उस संस्कृति का अपमान कर रहते हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

फ़ेसबुक और व्हाट्सऐप कैसे होगा ब्लॉक

भारत सरकार के दूरसंचार विभाग ने इंटरनेट सेवा देने वाली कंपनियों से पूछा है कि कुछ विशेष स्थितियों में फ़ेसबुक, व्हाट्सऐप, इंस्टाग्राम और टेलिग्राम जैसे ऐप्स को ब्लॉक कैसे किया जा सकता है.

दूरसंचार विभाग ने अपने पत्र में कहा है, "मिनिस्ट्री ऑफ़ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड आईटी तथा क़ानून व्यवस्था कायम रखने वाली संस्थाओं ने आईटी एक्ट सेक्शन 69A की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए मोबाइल ऐप्स इंस्टाग्राम, फ़ेसबुक, व्हाट्सऐप जैसे ऐप्स को ब्लॉक करने से जुड़े मुद्दे को उठाया है."

आईटी एक्ट का सेक्शन 69A उन शक्तियों की बात करता है जिनके इस्तेमाल से आम लोगों को कंप्यूटर से मिलने वाली किसी भी जानकारी को प्रतिबंधित किया जा सकता है.

इमेज कॉपीरइट EPA

अमरीका और ईरान के बीच तनाव

अमरीका ईरान के साथ 2015 में हुए परमाणु समझौते से हटने के बाद फिर से लगाए प्रतिबंधों को लागू करने जा रहा है. अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने इसकी घोषणा की है. इसके साथ ही ईरान के ऑटोमोबाइल सेक्टर, सोना और कीमती धातुओं में व्यापार पर भी प्रतिबंध लग जाएगा.

डोनल्ड ट्रंप का कहना है कि आर्थिक दबाव के कारण ईरान नए समझौते के लिए राज़ी हो जाएगा और अपनी 'नुक़सानदेह' गतिविधियां रोक देगा. वहीं, ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने इस क़दम को "मनोवैज्ञानिक युद्ध" क़रार दिया है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सऊदी अरब और कनाडा में हवाई सेवाएं निलंबित

सऊदी अरब ने कनाडा के शहर टोरंटो से हवाई संपर्क निलंबित कर दिया है.

इससे पहले सऊदी अरब ने रियाद में कनाडाई उच्चायुक्त को वापस उनके देश भेज दिया था और टोरंटो में मौजूद अपने राजदूत को भी बुला लिया था.

सऊदी अरब ने यह कदम कनाडा की उस अपील के बाद उठाया है जिसमें रियाद में गिरफ़्तार किए गए नागरिक अधिकार कार्यकर्ताओं की रिहाई की मांग की गई थी. लेकिन, सऊदी अरब ने इसे उनके आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप बताया है.

सऊदी के विदेश मंत्री आदिल अल-जुबैर ने कहा है कि देश उसके आंतरिक मामलों में कोई हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं करेगा.

वहीं, इस मामले पर कनाडा की विदेश मंत्री क्रिस्टिया फ्रीलैंड ने कहा कि हम लगातार महिला अधिकारों का समर्थन करते आए हैं और आगे भी ऐसा करेंगे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

देशभर में ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल

मोटर वाहन एक्ट 1988 के संशोधन विधेयक को लोकसभा में पेश किए जाने के विरोध में देश के तमाम ट्रांसपोर्टर आज यानी 7 अगस्त को हड़ताल पर जा रहे हैं.

ये हड़ताल भारत सड़क परिवहन महासंघ, सीआईटी, एचएमएस, एआईटीयूसी, आइएनटीयूसी, एलपीएप के संयुक्त आह्वान पर आयोजित होने जा रही है.

इस दौरान आरटीओ और एमवीआई दफ़्तरों के बंद रहने की संभावना है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)