प्रेस रिव्यू: कमाई के मामले में पीवी सिंधु दुनिया में सातवीं

पीवी सिंधु

इमेज स्रोत, AFP

बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु दुनिया की 7वीं सबसे ज़्यादा कमाई करने वाली महिला खिलाड़ी हैं.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक फोर्ब्स ने दुनिया में सबसे ज़्यादा कमाने वाली महिला खिलाड़ियों की सूची तैयार की है.

रियो ओलंपिक में भारत को रजत पदक दिलाने वाली पीवी सिंधु ने जून 2017 से जून 2018 के बीच 85 लाख डॉलर कमाए. इसमें इनाम में जीती राशि और विज्ञापन की फ़ीस भी शामिल है.

फ़ोर्ब्स की सूची में सबसे ऊपर टेनिस स्टार सेरेना विलियम्स का नाम है.

इमेज स्रोत, Reuters

चीन को पीछे छोड़ देगा भारत

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक जनसंख्या के मामले में भारत 2050 तक चीन को बहुत पीछे छोड़ देगा.

वाशिंगटन की एक ग़ैर सरकारी संस्था के पॉपुलेशन रेफरेंस ब्यूरो की ओर जारी की गई डेटा शीट के मुताबिक साल 2030 के मध्य तक भारत की आबादी चीन की कुल आबादी से 8 फ़ीसदी ज्यादा हो जाएगी.

जबकि 2050 के मध्य तक भारत चीन से 25 फीसदी आगे निकल जाएगा.

फिलहाल भारत की आबादी करीब 1.37 अरब और चीन की आबादी 1.39 अरब है.

इमेज स्रोत, AFP

इमेज कैप्शन,

सांकेतिक तस्वीर

बच्ची ने स्कूल में सीखे फायर सेफ्टी टिप्स से बचाया

मुंबई के परेल इलाके में स्थित एक बहुमंज़िला इमारत में अग्निकांड के दौरान एक बहादुर बच्ची जेन सदावर्ते ने गीले कपड़ों से अपने परिवार और कई पड़ोसियों की जान बचा ली.

हिंदुस्तान अखबार के मुताबिक बच्ची ने स्कूल में सिखाए गए फायर सेफ्टी टिप्स की मदद से इस बहादुरी के कारनामे को अंजाम दिया.

माटुंगा उपनगर के एक स्कूल में छठी की छात्रा जेन 17 मंज़िला क्रिस्टल टावर की 16वीं मंज़िल पर अपने माता-पिता और भाई के साथ रहती हैं.

जेन ने कहा, "हमें स्कूल में बताया गया था कि इस प्रकार की स्थिति में अपनी सांस को कंट्रोल करो, शांत रहो और स्थिति को देखो."

इमेज स्रोत, Getty Images

दहेज मामले में रिश्तेदारों को राहत

सुप्रीम कोर्ट ने एक अहम फैसले में कहा कि वैवाहिक विवादों और दहेज हत्या के मामलों में पति के रिश्तेदारों को तब तक नामजद नहीं किया जाना चाहिए जब तक उनकी इस अपराध में स्पष्ट भूमिका न हो.

सुप्रीम कोर्ट ने अदालतों को ऐसे मामलों में पति के दूर के रिश्तेदारों के ख़िलाफ़ कार्रवाई करने में भी सतर्क रहने के लिए आगाह किया.

शीर्ष अदालत की पीठ ने यह फैसला एक व्यक्ति के मामाओं की ओर से दायर याचिका को स्वीकार करते हुए दिया.

हाईकोर्ट ने एक वैवाहिक मामले में उनके खिलाफ आपराधिक कार्यवाही खत्म करने की उनकी अपील को ठुकरा दिया था. इसके बाद उन्होंने हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी.

अमर उजाला समेत कई अखबारों में ये खबर है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)