पांच बड़ी ख़बरें: '50 साल तक भाजपा को कोई हरा नहीं सकता'

  • 10 सितंबर 2018
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह इमेज कॉपीरइट BJP TWITTER

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में कहा कि 2019 में लोकसभा चुनाव तो वह जीतेंगे ही और उसके बाद 50 सालों तक कोई उन्हें हरा नहीं पाएगा.

भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के आखिरी दिन रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह के संबोधन के बारे में केंद्रीय क़ानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मीडिया को जानकारी दी.

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि 'यह कोई अहंकार नहीं है, यह बात प्रदर्शन के आधार पर कही जा रही है.'

कार्यकारिणी में अमित शाह ने 2019 का चुनाव जीतने के लिए नौ करोड़ कार्यकर्ताओं से कहा कि वे 22 करोड़ परिवारों के घरों में जाएं और सरकार के साढ़े चार साल के कार्यों को प्रमुखता से रखें.

इमेज कॉपीरइट NALSA.GOV.IN
Image caption मुख्यन्यायाधीश दीपक मिश्रा

'सभी को है सम्मान के साथ मरने का अधिकार'

अगले महीने 2 अक्तूबर को रिटायर हो रहे सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा ने इच्छामृत्यु पर अहम टिप्पणी की है.

चीफ़ जस्टिस का कहना है कि क़ानूनी तौर पर कोई भी व्यक्ति आत्महत्या नहीं कर सकता, लेकिन किसी को भी सम्मान के साथ मरने का अधिकार है.

शनिवार को पुणे में 'संवैधानिक अधिकारों के संतुलन' विषय पर आयोजित कार्यक्रम में चीफ जस्टिस मिश्रा ने कहा, ''अगर कोई इंसान कभी न ठीक होने वाली बीमारी से पीड़ित है और वह इच्छामृत्यु चाहता है तो वह इसके लिए अपनी 'लिविंग विल' बना सकता है. हर व्यक्ति का अपना अधिकार है कि वह अंतिम सांस कब ले और इसके लिए उस पर किसी भी प्रकार का दबाव नहीं होना चाहिए.''

सीवर की सफ़ाई करने उतरे 5 मज़दूरों की मौत

राजधानी दिल्‍ली के मोती नगर इलाके में सीवर की सफ़ाई के दौरान पांच मजदूरों की मौत हो गई.

जानकारी के मुताबिक डीएलएफ़ निर्माणाधीन सोसाइटी में पांच कर्मचारी सफ़ाई के लिए सीवर में उतरे थे. एक सफ़ाईकर्मी ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया.

पांचों कर्मचारी सफ़ाई के दौरान बेहोश हो गए थे, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया था जहां सभी की मौत हो गई.

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption सांकेतिक तस्वीर

पेट्रोल-डीज़ल के बढ़ते दामों पर आज भारत बंद

पेट्रोल-डीज़ल के बढ़ते दामों के विरोध में कांग्रेस ने आज भारत बंद की कॉल दी है.

कांग्रेस का दावा है कि उन्हें 21 दलों का समर्थन हासिल है. बंद का समर्थन करने वाले दलों में सपा, बसपा, डीएमके समेत 21 दल हैं.

कर्नाटक सरकार ने बंद के चलते सभी शिक्षण संस्थानों में छुट्टी का एलान कर दिया है. सरकारी दफ़्तरों में भी छुट्टी रहेगी.

लेकिन दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार इस बंद में शामिल नहीं है.

इमेज कॉपीरइट AFP/getty images

'भूख से मरेंगे 5 लाख से ज़्यादा लोग'

सेव द चिल्ड्रन चैरिटी के मुताबिक संघर्षरत देशों में 5 लाख से ज़्यादा लड़के और लड़कियों की इस साल भूख से मौत हो जाएगी क्योंकि संघर्ष में शामिल पक्ष उनकी मदद रोक रहे हैं.

चैरिटी का कहना है कि संयुक्त राष्ट्र के आंकड़ों के अनुसार संघर्ष की मार झेल रहे देशों में सिर्फ़ पिछले साल में 1400 बार सहायता रोकी गई थी और साल 2012 के मुकाबले ये आंकड़े दोगुने हैं.

चैरिटी के मुख्य कार्यकारी केविन वॉटकिन्स का कहना है कि भूख को युद्ध का हथियार बनाना अब सामान्य हो गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए