प्रेस रिव्यूः 'कश्मीर में चरमपंथ की ओर बढ़ता रुझान'

  • 28 अक्तूबर 2018
चरमपंथ इमेज कॉपीरइट Getty Images

हिंदुस्तान टाइम्स ने एक खबर प्रकाशित की है जिसमें बताया गया है कि कश्मीर में स्थानीय युवाओं का चरमपंथ की ओर रुझान बढ़ा है.

अख़बार के अनुसार सुरक्षा एजेंसियों ने केंद्र को एक रिपोर्ट पेश की है जिसमें बताया गया है कि इस साल 26 अक्टूबर तक जम्मू कश्मीर से करीब 164 युवा चरमपंथी समूहों में शामिल हुए हैं.

यह आंकड़ा पिछले साल के मुकाबले काफी ज्यादा है. इसके साथ ही सर्दियों में यह आंकड़ा और बढ़ने की आशंका है. खबर में बताया गया है कि साल 2015 में 66 युवा इन समूहों से जुड़े थे जबकि साल 2016 में 88 युवकों ने चरमपंथ का रास्ता अपनाया था.

इस साल भी फरवरी मार्च में यह आंकड़ा नीचे गिरा था जून जुलाई और अगस्त में अचानक इसमें वृद्धि हुई है.

'देश किसी भी संस्था और सरकार से ऊपर'

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि देश किसी भी संस्था और सरकार से ऊपर है.

इंडियन एक्सप्रेस में प्रकाशित समाचार में बताया गया है कि वित्त मंत्री का यह बयान इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह बयान सीबीआई मामले पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय और आरबीआई के डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने कहा था कि सरकार के हस्तक्षेप से आरबीआई की स्वायत्तता ख़तरे में पड़ रही है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

प्रदूषण फैलाने पर होगी एफ़आईआर

त्योहारों का मौसम शुरू हो चुका है और अगले महीने दीवाली मनाई जाएगी, ऐसे में दिल्ली एनसीआर की हवा और ज्यादा जहरीले होने की आशंका है. इसे देखते हुए सरकार ने प्रदूषण फैलाने वालों के खिलाफ एफआईआर करने और प्रदूषण रोकने में नाकाम एजेंसियों के अफसरों पर कार्रवाई करने का फैसला किया है.

हिंदुस्तान अखबार में प्रकाशित इस समाचार में बताया गया है कि दिल्ली में 1 से 10 नवंबर तक सभी तरह के निर्माण कार्य पर रोक लगा दी गई है. प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों का चालान करने के निर्देश हैं साथ ही दिल्ली में डीजल वाले जेनरेटर पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है.

साथ ही प्रदूषण फैलाने को पहले चेतावनी दी जाएगी और दो दिन में सुधान न होने पर मुकदमा दर्ज करवाया जाएगा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

'कहीं कांग्रेस को कहना ना पड़े 'मी टू''

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने 'मी टू' अभियान के नाम पर कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों पर निशाना साधा है.

दैनिक जागरण में प्रकाशित समाचार के अनुसार राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस के साथ जो भी गया उसे मिटने से कोई नहीं बचा पाया.

गृह मंत्री ने क्षेत्रीय पार्टियों को चेताते हुए कहा कि बाद में ऐसे हालात न हो जाएं कि सारी विपक्षी पार्टियां गठबंधन कर लें और कांग्रेस से धोखा खाकर मी टू अभियान चालने के लिए मजबूर हो जाएं.

राजनाथ सिंह हैदराबाद में भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे