'बिल्लियों की तरह लड़ रहे थे सीबीआई के टॉप बॉस': आज की पाँच बड़ी ख़बरें

  • 6 दिसंबर 2018
सीबीआई इमेज कॉपीरइट PTI

सीबीआई पर मचे घमासान पर केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में अपना पक्ष रखते हुए कहा कि जांच एजेंसी के दोनों टॉप बॉस बिल्लियों की तरह लड़ रहे थे.

केंद्र ने कहा कि सीबीआई के दो टॉप अफसरों आलोक वर्मा और राकेश अस्थाना के बीच छिड़ी जंग में दखल देना ज़रूरी था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption राकेश अस्थाना के साथ आलोक वर्मा (कुर्सी पर बैठे हुए)

चीफ़ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस के एम जोसफ़ की पीठ के सामने इस मामले में अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल केंद्र की ओर से पैरवी कर रहे थे.

उन्होंने कहा कि इन अधिकारियों के झगड़े से जांच एजेंसी की छवि और प्रतिष्ठा पर असर पड़ रहा था और इस वजह से देश की प्रतिष्ठित जांच एजेंसी की स्थिति बेहद हास्यास्पद हो गई थी.

बाबरी विध्वंस दिवस पर कई आयोजन, अलर्ट घोषित

इमेज कॉपीरइट AFP

अयोध्या में बाबरी मस्जिद ढांचा ढहाए जाने की तारीख 6 दिसंबर को कई हिंदू संगठनों ने आयोजनों का ऐलान किया है. बाबरी एक्शन कमेटी के यौम-ए-ग़म और विश्व हिंदू परिषद के विजय दिवस सहित अन्य संगठनों द्वारा कार्यक्रम करने के ऐलान को लेकर प्रशासन ने समूचे ज़िले में अलर्ट घोषित कर दिया है.

6 दिसंबर को विभिन्न संगठन विजय दिवस, शौर्य दिवस, यौमे ग़म दिवस और अन्य कार्यक्रमों के मद्देनज़र प्रशासन ने पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के इंतज़ाम किए हैं.

राम जन्मभूमि की ओर जाने वाले मार्गों पर बैरियर कर पहरेदारी सख्त कर दी गई है और गहन जांच और तलाशी अभियान चल रहा है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

दोनों सदनों के अध्यक्षों ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

11 दिसंबर से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र में कामकाज सुचारू रूप से चलने को लेकर लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन और राज्यसभा अध्यक्ष एम. वेंकैया नायडू ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है.

इसके अलावा सरकार ने भी 10 दिसंबर को एक सर्वदलीय बैठक बुलाई है.

इन बैठकों का उद्देश्य ऐसे मुद्दों पर सर्वसम्मति बनाना है जिनके शीतकालीन सत्र में उठाए जाने की संभावना है.

गौरतलब है कि विपक्ष के पास लोकसभा चुनाव से पहले सरकार को सदन में घेरने का यह आखिरी मौक़ा होगा और उसके पास सरकार से जवाब मांगने के लिए रफ़ाएल डील, किसानों के संकट का मसला और सीबीआई जैसे कई अहम मुद्दे हैं.

इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption कोलकाता हाई कोर्ट

रथ यात्रा की अनुमति के लिए कोर्ट पहुंची भाजपा

भारतीय जनता पार्टी ने पश्चिम बंगाल में रथ यात्रा निकालने के इजाज़त देने के लिए कलकत्ता हाई कोर्ट की शरण ली है.

भाजपा ने यह दावा किया है कि पश्चिम बंगाल प्रशासन ने राज्य में 7 दिसंबर से तीन रैलियां निकालने की इजाजत मांगनेवाले उसके आवेदनों पर अभी तक कोई जवाब नहीं दिया है.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह इसी दिन राज्य में तीन 'रथ यात्राओं' पर आधारित पार्टी की 'लोकतंत्र बचाओ रैली' की शुरुआत करने वाले हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption मेन्ग वानज़ाउ

हुआवेई के प्रमुख वित्त अधिकारी कनाडा में गिरफ़्तार

चीन की तकनीकी कंपनी हुआवेई की प्रमुख वित्त अधिकारी को अमरीका के कहने पर कनाडा में गिरफ़्तार कर लिया गया है.

कनाडा के दूरसंचार विभाग ने कहा कि चीनी दूरसंचार कंपनी की डिप्टी चेयरमैन मेन्ग वानज़ाउ को 1 दिसंबर को वैंकुवर में गिरफ़्तार किया गया है.

विभाग ने यह भी कहा कि हुआवेई के संस्थापक की बेटी मेन्ग की अमरीका की तरफ से प्रत्यर्पण की मांग की जा रही है.

हुआवेई ने कहा कि आरोपों के बारे में बहुत कम जानकारी थी और "मेन्ग की किसी भी ग़लतियों से अवगत नहीं थे."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार