राजस्थान के चुनावी नतीजे: वसुंधरा राजे, सचिन पायलट और अशोक गहलोत जीते

  • 11 दिसंबर 2018
राजस्थान विधानसभा चुनाव इमेज कॉपीरइट Getty Images

राजस्थान विधानसभा चुनावों में कांग्रेस स्पष्ट बहुमत की ओर बढ़ती दिख रही है. यहां इतिहास दोहराया जा रहा है, पांच साल बाद कांग्रेस फिर से सत्ता में वापसी करती दिख रही है.

17:35 बजे: फिलहाल कांग्रेस 98 सीटों और बीजेपी 74 सीटों पर आगे है.

चुनाव आयोग ने 124 सीटों पर नतीजे घोषित कर दिए गए हैं. कांग्रेस के खाते में 64 सीटें गई हैं, जबकि बीजेपी 44 सीटें जीत गई है.

राज्य में कांग्रेस की बढ़त से उत्साहित पार्टी के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने कहा कि कांग्रेस मुक्त भारत की बात करने वाले खुद मुक्त हो जाएंगे.

17:20 बजे: हालांकि दोनों पार्टियों के वोट शेयर का अंतर बेहद कम है. राजस्थान में बीजेपी को 38.7% वोट मिले हैं, जबकि कांग्रेस को 39.2% वोट हासिल हुए हैं.

16:02बजे: कांग्रेस प्रदेश अध्येक्ष सचिन पायलट ने बताया कि बुधवार सुबह कांग्रेस विधायक दल की बैठक होगी.

16:00बजे: बीजेपी नेता और राजस्थान के सामाजिक न्याय मंत्री अरुण चतुर्वेदी जयपुर की सिविल लाइन्स सीट से हार गए हैं.

15:35 बजे: राजस्थान में कांग्रेस 97 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है, जबकि बीजेपी 75 सीटों पर आगे है.

14:15 बजे :सूबे की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने चुनावी मैदान जीत लिया है. वो झालरापाटन सीट से बीजेपी की उम्मीदवार थी.

दूसरी तरफ चुनावों में कांग्रेस का चेहरा रहे अशोक गहलोत और सचिन पायलट ने भी जीत हासिल कर ली है. गहलोत सरदारपुरा सीट से चुनावी मैदान में थे. वहीं टोंक से सचिन पायलट जोर आजमाइश कर रहे थे.

जीत हासिल करने के बाद सचिन पायलट ने जनता का शुक्रिया अदा किया. उन्होंने ट्वीटर पर लिखा: "टोंक में मुझे ऐतिहासिक बहुमत से जिताने के लिए जनता का तहेदिल से शुक्रिया. हम सब मिलकर टोंक और राजस्थान का कायाकल्प कर एक विकसित प्रदेश की नींव रखेंगे जिसमें समाज के हर वर्ग की उन्नति होगी."

13:50बजे :कांग्रेस स्पष्ट बहुमत की ओर बढ़ती दिख रही है. सचिन पायलट ने कहा है कि वो सभी गैर-कांग्रेसी दलों से संपर्क में हैं, जिन्होंने भाजपा के ख़िलाफ़ जीत हासिल की है.

मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा, "हम एक स्पष्ट बहुमत की तरफ बढ़ रहे हैं. हमलोग बहुमत की सरकार बनाने जा रहे हैं. भाजपा को छोड़कर गैर-कांग्रेसी दल, जिसने जीत हासिल की है, उनसे हम संपर्क में हैं."

"पहले भी हमने ऐसे दलों के साथ मिलकर काम किया था. इन लोगों ने भाजपा के ख़िलाफ़ जीत हासिल की है और हम उनका साथ चाहते हैं. मुझे विश्वास है कि कांग्रेस को पूर्ण बहुमत मिलेगा. उसके बावजूद हम एक अच्छा माहौल बनाना चाहते हैं और सभी जीतने वालों को साथ लेकर चलना चाहते हैं."

उन्होंने कहा कि भाजपा हार के बावजूद तोड़फोड़ की कोशिश में है. पिछले कई चुनावों में उसने ऐसा किया है, लेकिन इस बार राजस्थान में हम ऐसी स्थिति उत्पन्न नहीं होने देंगे.

13:21 बजे : कांग्रेस ने दो सीटों पर जीत से खाता खोला है. परबतसर से रामनिवास गावड़िया और कामा से ज़ाहिदा ख़ान चुनाव जीत चुकी हैं.

13:11 बजे : लेकिन पहली जीत भाजपा के नाम रही. पिंडवारा से समां राम गरासिया और शाहपुरा से कैलाश चंद्र मेघावल ने चुनावों में पहली जीत दर्ज की है.

12:30 बजे : न सिर्फ राजस्थान में, बल्कि अन्य राज्यों में भी कांग्रेस बेहतर प्रदर्शन कर रही है. दिल्ली स्थित पार्टी के मुख्यालय में भी जश्न का माहौल है.

दिल्ली में शकील अहमद ने बीबीसी से कहा कि हर राज्य में जहां भी भाजपा का शासन है, वो वहां चुनाव हार रही है. भाजपा के सीटों की संख्या पिछले चुनावों के मुकाबले काफी घटी है.

शकील अहमद ने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2013 में ही चुनाव हार जाते. देश के कॉर्पोरेट्स ने उनकी हवा बनाई थी. पिछले साढ़े चार सालों में लोगों को नरेंद्र मोदी से निराशा हाथ लगी है. यह उसी का नतीजा है कि तीनों भाजपा शासित राज्यों में वो अपना सत्ता खो रही है."

12:05 बजे :कांग्रेस का आलाकमान दिल्ली से राजस्थान पहुंच चुका है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आलाकमान मुख्यमंत्री के चेहरे पर फ़ैसला बुधवार को करेगा. दोपहर 12.05 बजे तक कांग्रेस 100 के आंकड़ों के पार रही. वहीं भाजपा 73 सीटों पर आगे रही. बीएसपी और अन्य पार्टियां 24 सीटों पर आगे रही.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

11:35 बजे : जीत की तरफ बढ़ते कदम को देखते हुए कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने इस सफलता के लिए राज्य की जनता को धन्यवाद कहा है. उन्होंने कहा कि यह पार्टी के नेताओं के संघर्ष की जीत है.

मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा, "जो रोड मैप हमलोगों ने तैयार किया, राहुल गांधी ने जो कैंपेने किया, राज्य की जनता ने उसे पसंद किया है. कांग्रेस की तरफ लोगों की उम्मीदे हैं."

"मैं धन्यवाद देना चाहता हूं कांग्रेस के सभी नेताओं को जिन्होंने मेरा सहयोग किया. हम जीत की तरफ अग्रसर हैं. प्रदेश की जनता जो चाहती थी, वो हो रहा है. सफलता का श्रेय कांग्रेस के सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं को जाता है."

11:10 बजे :रुझानों में बढ़त को देखते हुए कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्थान में सरकार कांग्रेस की ही बनेगी. उन्होंने मीडिया को बताया, "निश्चिंत रहिए सरकार कांग्रेस की ही बनेगी. मुख्यमंत्री पद पर फ़ैसला आलाकमान करेगा."

इस समय तक कांग्रेस 102 सीटों पर आगे चल रही है. रुझान के आंकड़े अब स्थिर होने लगे हैं. भाजपा 79 सीटों पर आगे है. बीएसपी तीन, स्वतंत्र उम्मीदवार नौ और दूसरी पार्टियां सात सीटों पर आगे चल रही हैं.

10:40बजे :रुझानों में कांग्रेस ने 100 का आंकड़ा पार कर लिया है. सुबह 10.40 बजे तक कांग्रेस 101 सीटों पर आगे चल रही थी. भाजपा इस समय तक 81 सीटों पर आगे थी. बीएसपी शुरुआत से तीन सीटों पर आगे है.

100 का आंकड़ा पार करते ही पार्टी के कार्यकर्ताओं में आत्मविश्वास बढ़ता नजर आ रहा है. पार्टी के प्रदेश कार्यालय में कांग्रेस का झंडा लहराया जा रहा है.

10:15बजे :झालरापाटन सीट से वसुंधरा राजे आगे चल रही हैं. सरदारपुरा सीट पर अशोक गहलोत भी रूझानों में आगे हैं. इस समय तक कांग्रेस 97 और भाजपा 80 पर आगे चल रही है.

10:00बजे :रुझानों में कांग्रेस की बढ़त बरकरार है. प्रदेश कार्यालय में कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाना शुरू कर दिया है. सुबह 10 बजे तक कांग्रेस 96 सीटों पर आगे चल रही थी, वहीं भाजपा 78 सीटों पर.

09:40बजे :कांग्रेस एक बार फिर आगे बढ़ती हुई दिख रही है. कांग्रेस 89 सीटों पर आगे चल रही है, वहीं भाजपा 76 पर. बीएसपी 03 और अन्य 08 सीटों पर आगे हैं.

कांग्रेस की बढ़त के बाद भाजपा प्रदेश कार्यालय में सन्नाटा छा गया है. हमारे संवाददाता नितिन श्रीवास्तव भाजपा प्रदेश कार्यालय में मौजूद हैं. उन्होंने ये तस्वीर ट्वीट की है.

09:30 बजे : ताजा रुझानों के मुताबिक़ इस समय तक भाजपा 75 सीटों पर आगे चल रही है, कांग्रेस 86 पर. बीएसपी सहित अन्य 10 सीटों पर आगे हैं.

09:15 बजे : रुझानों में भाजपा और कांग्रेस अब करीब आने लगी है. भाजपा 64 और कांग्रेस 68 सीटों पर आगे चल रही है. वहीं अब बासपा तीन और अन्य 05 सीटों पर आगे है.

09:00 बजे : रुझानों में कांग्रेस तेज़ी से आगे बढ़ रही है. पार्टी 64 सीटों पर आगे है. वहीं भाजपा 52 सीटों पर. बीएसपी शुरुआत में दो सीटों पर आगे चल रही थी, लेकिन वो फिर एक सीट पर पीछे होता दिख रही है.

08:50 बजे : शुरुआती रुझानों में कांग्रेस आगे चल रही है. सुबह 8.50 बजे तक कांग्रेस 43 और भाजपा 30 सीटों पर आगे चल रही थी. वहीं यहां बासपा भी दो सीटों पर आगे चल रही है.

कांग्रेस के समर्थकों ने स्थानीय अख़बार में विज्ञापन देकर सचिन पायलट को अग्रिम शुभकामनाएं दी है. विज्ञापन में समर्थकों ने अशोक गहलोत को साल 2019 के लोकसभा चुनावों पर ध्यान केंद्रित करने को कहा है.

विज्ञापन में अशोक गहलोत के बारे में लिखा है, "आप भीष्म पितामह की तरह सचिन पायलट के संरक्षक की भूमिका निभाएं."

राज्य में कुल 200 सीटों में से 199 सीटों के लिए सात दिसंबर को वोट डाले गए थे. यहां भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस आमने सामने हैं.

सूबे के चुनावी मैदान में कुल 2274 उम्मीदवार थे, जिनकी भाग्य का फ़ैसला आज होगा.

1998 के बाद से राजस्थान में कोई भी सरकार दूसरे कार्यकाल के लिए नहीं चुनी गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार