भारतीय रिज़र्व बैंक के नए गवर्नर शक्तिकांत दास कौन हैं

  • 11 दिसंबर 2018
शक्तिकांत दास इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption शक्तिकांत दास और उर्जित पटेल

शक्तिकांत दास को भारतीय रिज़र्व बैंक का नया गवर्नर बनाया गया है. शक्तिकांत दास 2015 से 2017 तक आर्थिक मामलों के सचिव रहे और पिछले साल ही इस पद से रिटायर हुए हैं. नवंबर 2016 में की गई नोटबंदी की योजना तैयार करने वाली टीम में उनकी भूमिका अहम बताई जाती है.

शक्तिकांत दास अभी 15वें वित्त आयोग के सदस्य हैं.

शक्तिकांत दास का आरबीआई गवर्नर का कार्यकाल तीन साल का होगा. वो उर्जित पटेल की जगह लेंगे. उर्जित पटेल ने सोमवार को गवर्नर पद से इस्तीफ़ा दे दिया था. अभी पटेल के कार्यकाल में नौ महीने शेष थे. पटेल ने इस्तीफ़े के पीछे निजी वजह बताई थी.

दास को वित्तमंत्री अरुण जेटली का ख़ास बताया जाता है. जेटली ने कई बार सार्वजनिक तौर पर उनके प्रशासनिक कार्यकौशल की तारीफ़ भी की है.

माना जाता है कि 8 नवंबर 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नोटबंदी का फ़ैसला आने से पहले जिस ख़ास टीम ने इस विषय पर काम किया था, उसमें शक्तिकांत दास ने अहम भूमिका निभाई थी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

नोटबंदी के आदेश के बाद तमाम छोटे-बड़े ऐलान लेकर शक्तिकांत दास मीडिया से मुख़ातिब होते रहे थे.

नोटबंदी के फ़ैसले की बारीकियां मीडिया को समझाने का काम भी दास ने ही किया.

26 फ़रवरी 1957 को ओडिया में जन्मे शक्तिकांत दास 1980 बैच के आईएएस अफ़सर हैं और तमिलनाडु काडर से हैं. रिटायर होने से पहले उन्होंने साल 2008 से केंद्र सरकार के लिए काम किया. करीब 35 साल लंबे करियर में टैक्स, इंडस्ट्री और फ़ाइनेंस संबंधित विभागों में वो कार्यरत रहे हैं.

मई 2017 में सरकार ने एक रुपये का नया नोट छापने का ऐलान किया था. ये नोट भारत सरकार की तरफ़ से जारी होना था और इस पर शक्तिकांत दास के हस्ताक्षर हुए थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार