राजस्थान में गहलोत या पायलट, फ़ैसला आज: पांच बड़ी ख़बरें

  • 14 दिसंबर 2018
गहलोत और पायलट इमेज कॉपीरइट Getty Images

राजस्थान में अगला मुख्यमंत्री कौन होगा, इसे लेकर कांग्रेस पार्टी हाईकमान में माथापच्ची जारी है. गुरुवार को पार्टी के शीर्ष नेता इसे लेकर विचार विमर्श करते रहे, लेकिन किसी नतीजे पर नहीं पहुँच सके.

कहा जा रहा है कि शुक्रवार को इस बात का फ़ैसला होने की उम्मीद है कि राजस्थान में अगला मुख्यमंत्री कौन होगा. सचिन पायलट राजस्थान प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष हैं, जबकि गहलोत दो बार राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी नेताओं में गिने जाते हैं.

कांग्रेस राजस्थान में पाँच साल बाद सत्ता में लौट रही है.

पर्थ में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीता

इमेज कॉपीरइट AFP

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पर्थ में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट में मेजबान टीम ने टॉस जीता है और पहले बल्लेबाज़ी का फ़ैसला किया है.

भारत ने पहला टेस्ट जीता था और चार मैचों की सिरीज़ में 1-0 से आगे है.

पर्थ के विकेट तेज़ गेंदबाज़ों के लिए मददगार माना जाता है. इस मैच में टीम इंडिया ने उमेश यादव को शामिल किया है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी अब दो दिन में संभव

मोबाइल नंबर अब दो दिनों में पोर्ट किया जा सकेगा. दूरसंचार नियामक एजेंसी ट्राई ने गुरुवार को नए नियम जारी किए, जिसमें पोर्ट की समयसीमा को सात दिन से घटाकर दो दिन कर दिया गया है.

अब ग्राहकों के आवेदन के 48 घंटे के भीतर टेलिकॉम कंपनियों को नंबर पोर्ट करना होगा.

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी के तहत ग्राहक बिना अपना मोबाइल नंबर बदले सर्विस प्रोवाइडर बदल सकता है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

निर्भया मामलाः दोषियों को तत्काल फांसी नहीं

सुप्रीम कोर्ट ने निर्भया मामले के दोषियों को तत्काल फांसी दिए जाने वाली याचिका को खारिज कर दी है.

याचिका में दोषियों की मौत की सजा पर तत्काल अमल करने का निर्देश देने की अपील की थी.

साल 2012 में चलती बस में छह लोगों ने 23 साल की एक छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार किया था और गंभीर रूप से घायल कर दिया था.

इसके बाद छात्रा की मौत 29 दिसंबर को सिंगापुर के एक अस्पताल में हो गई थी.

इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीकाः रूस की जासूसी के आरोप में कोर्ट का फ़ैसला

अमरीका में रूस की जासूसी करने के आरोप में एक महिला को अदालत ने दोषी पाया गया है.

मारिया बुटिना नाम की महिला पर आरोप है कि उन्होंने नेशनल राइफल एसोसिएशन में घुसने की कोशिश की ताकि रूस को लेकर अमरीकी नीतियों को प्रभावित किया जा सके.

ये लॉबी ग्रुप डोनल्ड ट्रंप और रिपब्लिकन नेताओं का क़रीबी माना जाता है. कहा जा रहा है कि मारिया ने रिपब्लिकन पार्टी से संबंध रूसी सरकार के कहने पर बढ़ाए थे.

मारिया जुलाई महीने से वर्जिनिया जेल में कैद हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार