कश्मीर में तीन चरमपंथियों और छह प्रदर्शनकारियों की मौत

  • 15 दिसंबर 2018
सांकेतिक तस्वीर इमेज कॉपीरइट AFP

भारत प्रशासित कश्मीर के पुलवामा ज़िले में एक मुठभेड़ में तीन चरमपंथियों की मौत हो गई है. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक घेरे गए चरमपंथियों को भागने में मदद करने का प्रयास कर रहे छह प्रदर्शनकारियों की भी मौत हुई है.

इन मौतों के बाद पुलवामा और नजदीकी स्थानों पर लोग सड़कों पर उतर आए और भारतीय सेना और पुलिस के ख़िलाफ़ जमकर प्रदर्शन किया.

मुठभेड़ स्थलों के पास आम नागरिकों के मारे जाने की इस साल कई घटनाएँ हुई हैं. इस साल अब तक ऐसी घटनाओं में 45 से अधिक लोगों की मौत हुई ही, जिसमें दो महिलाएं भी शामिल हैं.

मुठभेड़ स्थल के पास जमा होने का ट्रेंड 2016 में शीर्ष चरमपंथी नेता बुरहान वानी की मौत के बाद शुरू हुआ है.

अधिकारियों का कहना है कि हालात इस साल और बदतर हुए हैं और पुलिस की चेतावनियों के बावजूद लोग घटनास्थल से नहीं हटते और उस मकान या जगह के पास जमा हो जाते हैं, जिस जगह को सेना और पुलिस ने चरमपंथियों के ख़िलाफ़ अभियान के दौरान घेरा हुआ होता है.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
कश्मीर में पुलिसकर्मियों की मुश्किलें

पुलिस के मुताबिक इस साल 'ऑपरेशन ऑल आउट' में अब तक 240 चरमपंथी मारे गए हैं. अधिकारियों का ये भी दावा है कि अब भी लगभग 230 चरमपंथी घाटी में अलग-अलग स्थानों पर सक्रिय हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार