नसीरुद्दीन शाह का लिटरेचर फेस्ट से कार्यक्रम रद्दः प्रेस रिव्यू

  • 22 दिसंबर 2018
नसीरुद्दीन शाह इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption नसीरुद्दीन शाह

हिंदूवादी संगठनों के विरोध के चलते पांचवे अजमेर लिटरेचर फ़ेस्टिवल-2018 से आयोजकों ने अभिनेता नसीरुद्दीन शाह का कार्यक्रम रद्द कर दिया है.

दैनिक भास्कर में प्रकाशित समाचार के अनुसार तीन दिन तक चलने वाले इस फेस्टिवल में नसीरुद्दीन शाह शुक्रवार को मुख्य वक्ता के तौर पर आने वाले थे, लेकिन वे विरोध के चलते नहीं आ सके.

नसीर के बुलंदशहर हिंसा पर दिए बयान को लेकर विवाद चल रहा है. उन्होंने कहा था, देश में पुलिस अफ़सर से ज़्यादा गाय की हत्या को महत्व दिया जा रहा है.

दी लिटरेरी सोसाइटी ऑफ़ इंडिया की ओर से आयोजित तीन दिवसीय साहित्यिक कार्यक्रम में लेखक, विचारक, पत्रकार और बुद्धिजीवी कई मुद्दों पर विचार विमर्श करेंगे.

राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लेने पर अलका लांबा का इस्तीफ़ा?

आप विधायक अलका लांबा के विधायक पद से इस्तीफा देने की ख़बर है. नवभारत टाइम्स में प्रकाशित समाचार के अनुसार लांबा ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को दिये गए 'भारत रत्न' सम्मान को वापस लेने की मांग संबंधी विधानसभा में पेश कथित प्रस्ताव का विरोध करते हुए शुक्रवार को कहा कि वह विधायक पद से इस्तीफ़ा देने जा रही हैं.

अलका लांबा ने ट्वीट कर कहा, ''आज दिल्ली विधानसभा में प्रस्ताव लाया गया कि पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री राजीव गांधी जी को दिया गया भारत रत्न वापस लिया जाना चाहिए, मुझे मेरे भाषण में इसका समर्थन करने के लिये कहा गया, जो मुझे मंजूर नहीं था, मैंने सदन से वॉकआउट किया. अब इसकी जो सजा मिलेगी मैं उसके लिये तैयार हूं.''

ख़बरों के मुताबिक आम आदमी पार्टी सिख दंगों पर चर्चा के दौरान राजीव गांधी को दिया गया भारत रत्न वापस लेने पर विचार कर रही थी.

दो हफ़्ते में खाली करना होगा हेराल्ड हाउस

नेशनल हेराल्ड मामले में कांग्रेस को झटका लगा है. इंडियन एक्सप्रेस में प्रकाशित समाचार में दिल्‍ली स्थित नेशनल हेराल्ड हाउस को खाली कराने से जुड़ी याचिका पर सुनवाई करते हुए दिल्ली हाई कोर्ट ने शुक्रवार को अपना फैसला सुना दिया है.

जस्टिस सुनील गौर की पीठ ने अपने फैसले में दो सप्ताह का समय देते हुए नेशनल हेराल्ड हाउस को खाली करने के लिए कहा है. ख़बर के मुताबिक ज़मीन और डिवेलेपमेंट से जुड़े केंद्र सरकार के दफ़्तर ने 30 अक्टूबर को हेराल्ड हाउस खाली करने का आदेश दिया था.

इमेज कॉपीरइट AFP

दलील दी गई थी कि प्रकाशक ने 10 साल से यहां प्रेस से जुड़ा कोई काम नहीं किया.

सेना भर्ती घोटाले में ब्रिगेडियर समेत 13 दोषी

सीबीआइ कोर्ट ने सेना भर्ती घोटाले में ब्रिगेडियर समेत 13 आरोपियों को दोषी करार दिया है.

दैनिक जागरण में प्रकाशित समाचार के अनुसार इस घोटाले में कुल 27 लोग आरोपित थे. एक अभियुक्त की मुकदमे के दौरान मौत हो चुकी है, दो आरोपित जुवेनाइल पाए गए थे, उनकी सुनवाई जुवेनाइल कोर्ट में चल रही है.

24 आरोपितों के ख़िलाफ़ अदालत में सुनवाई हुई.

कोर्ट ने ब्रिगेडियर जगजीत सिंह, उनकी पत्नी उषा वेदी, बेटी भारती, हवलदार वीरभान, सुबेदार मेजर हरीचंद, अभ्यर्थी राजकुमार गौतम, राम किशन, रवेंद्र कुमार, आजाद सिंह, परमजीत सिंह, नंद किशोर, आशुतोष पांडेय को भर्ती में दोषी करार दिया.

इस मामले में साल 2000 में चार्जशीट पेश की गई थी. इस मामले में सजा पर बहस 24 दिसंबर को होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार