'मोदी सिर्फ़ नेहरू जैकेट पहनकर नेहरू नहीं बन सकते': प्रेस रिव्यू

  • 30 दिसंबर 2018
इमेज कॉपीरइट Getty Images

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने उन सभी वादों को पूरा करने में विफल रहे हैं जो उन्होंने 2014 के लोकसभा चुनावों के पहले किए थे.

गुजरात के साबरकांठा में एक रैली को संबोधित करते हुए पटेल ने कहा, "जब आप झूठे वादे करके और झूठ फैलाकर 2014 में सत्ता में आए तो आपने नहीं सोचा होगा कि आप केवल चार साल में अलोकप्रिय हो जाएंगे. लोगों का अब बीजेपी से मोहभंग हो गया है. इसलिए कांग्रेस तीन राज्यों में विधानसभा चुनाव जीती."

पटेल ने कहा, "जब 2014 में आप सत्ता में आए तो आपने सोचा कि आप हमेशा शासन करेंगे. यह आपका घमंड था. आपने यह एहसास नहीं किया कि अगर जनता आपको सत्ता में ला सकती है तो वह आपको बाहर भी कर सकती है."

मोदी पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा, "आप (मोदी) केवल 'नेहरू जैकेट' पहनने से जवाहर लाल नेहरू नहीं बन सकते. इसी तरह आप विदेशी दौरों पर जाकर इंदिरा गांधी भी नहीं बन सकते. आप डिजाइनर जैकेट और कुर्ते पहनने से राजीव गांधी नहीं बन सकते. ऐसे नेताओं की जमात में शामिल होने के लिए, आपको उनकी तरह त्याग करना होता है. क्या आपमें ऐसा करने का साहस है?"

राज्यसभा में पास नहीं होने देंगे 'तीन तलाक़'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक सांसद और कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा है कि उनकी पार्टी मौजूदा स्वरूप में तीन तलाक़ विधेयक को राज्यसभा में पास नहीं होने देगी. उन्होंने कहा कि इसके लिए उन सभी दलों का साथ लिया जाएगा जिनके साथ मिलाकर इस विधेयक को गिराया जा सके.

उन्होंने कहा कि लोकसभा में जब यह विधेयक पेश किया गया, तब 10 विपक्षी पार्टियां खुलकर एकसाथ आई थीं. यहाँ तक कि कई मुद्दों पर सरकार का समर्थन करने वाली अन्नाद्रमुक और तृणमूल कांग्रेस ने भी इसका विरोध किया था.

लोकसभा ने गुरुवार को मुस्लिम महिला (विवाह संरक्षण अधिकार) विधेयक 2018 को मंज़ूरी दे दी थी. इस विधेयक के अगले हफ्ते राज्यसभा में पेश होने की उम्मीद है.

तीन तलाक़ बिल लोकसभा में पास, कांग्रेस का बहिष्कार

करतारपुर में हर दिन सिर्फ़ 500 सिख श्रद्धालु

इमेज कॉपीरइट GURINDER BAJWA/BBC

टाइम्स ऑफ़ इंडिया के मुताबिक पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर में आने वाले भारतीय तीर्थयात्रियों के लिए 14 सिफारिशें की हैं.

पिछले महीने भारत और पाकिस्तान की सरकारों ने इस कॉरिडोर के अपने-अपने क्षेत्र में निर्माण की आधारशिला रखी थी. सिफ़ारिशों के तहत ग्रुप में कम-से-कम 15 श्रद्धालु हों, उन्हें अपने पास वैध पासपोर्ट, प्रासंगिक सुरक्षा निकासी दस्तावेज रखने होगा. साथ ही भारत को तीर्थयात्रियों के आने की सूचना तीन दिन पहले देनी होगी.

परमिट सिर्फ़ करतारपुर की यात्रा के लिए जारी किया जाएगा. एक दिन में 500 से अधिक तीर्थयात्रियों को परमिट नहीं दिया जाएगा. साथ ही करतारपुर गलियारा सुबह 8 से शाम 5 बजे तक खुला रहेगा.

करतारपुर फेरबदल प्रस्ताव दिलचस्पः ब्लॉग

नए साल पर सुबह 5 बजे तक खुले रहेंगे बार

इमेज कॉपीरइट Getty Images

टाइम्स ऑफ़ इंडिया के मुताबिक महाराष्ट्र सरकार ने आदेश जारी कर मुंबई में 31 दिसंबर की रात को पब, बार, होटल खुले रखने को कहा है, ताकि लोग नए साल पर पार्टी वगैरह कर सकें.

31 दिसंबर की शाम को शहरों में लोग पार्टी करते हैं और नए साल का स्वागत करते हैं. ऐसे में अक्सर लोगों की मांग रहती है कि देर तक होटल और बार खुले रहें.

मुंबई पुलिस के डीसीपी और पीआरओ मंजूनाथ सिंगे ने बताया है कि 31 दिसंबर की रात मुंबई में 40 हज़ार सुरक्षाकर्मी तैनात किए जाएंगे, ताकि किसी भी गड़बड़ी की आशंका को खत्म किया जा सके.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार