चुनाव 2019 बड़ी ख़बरें: 28 जनवरी से 3 फरवरी तक

  • 4 फरवरी 2019
इमेज कॉपीरइट TWITTER/YOGI

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हेलिकॉप्टर को पश्चिम बंगाल में उतरने की इजाज़त नहीं दिए जाने के मामले ने तूल पकड़ लिया है.

योगी आदित्यनाथ को पश्चिम बंगाल के बालुरघाट में रविवार को रैली करनी थी.

लेकिन इजाज़त नहीं मिलने पर योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ से ही फोन के ज़रिए रैली को संबोधित किया.

योगी आदित्यनाथ ने कहा, ममता बनर्जी सरकार ने मुझे आने और आप लोगों से मिलने की इजाज़त नहीं दी. बंगाल की टीएमसी सरकार ने मुझे ने घबराकर मुझे आने नहीं दिया. इस वजह से मोदी जी के डिजिटल इंडिया के माध्यम से आपके बीच पहुंचना पड़ा है. बंगाल की ममता सरकार लोकतंत्र विरोधी और जनतंत्र विरोधी सरकार है. अराजकता को बढ़ावा देने वाली सरकार है.''

योगी आदित्यनाथ ने ममता बनर्जी पर आरोप लगाते हुए कहा, ''ये सरकार बीजेपी के डर से घबरा गई है. इसलिए ममता बनर्जी सरकार ने अमित शाह की रथ यात्रा को रोका और अब मुझे रोक रहे हैं.''

योगी को रैली की इजाज़त नहीं दिए जाने की बीजेपी ने निंदा की है. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने चुनाव आयोग से इस मामले में संज्ञान लेने की अपील की है.

इमेज कॉपीरइट Twitter/INC

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को बिहार में जन आकांक्षा रैली की.

राहुल गांधी ने इस मौक़े पर कहा, ''कुछ दिन पहले बजट में ऐलान किए गए. बीजेपी नेताओं ने कहा- ऐतिहासिक निर्णय लिए हैं, किसानों के लिए ऐतिहासिक काम किया है. ये कहकर पांच मिनट उन्होंने धड़ाधड़, धड़ाधड़ तालियां बजाईं. मोदी जी ने भी ताली बजाई. पता है क्या ऐतिहासिक काम किया. हिंदुस्तान के किसानों को 17 रुपये दिन के दिए. किसान के परिवार के एक व्यक्ति को साढ़े तीन रुपये देकर पूरी बीजेपी धड़ाधड़ धड़ाधड़ तालियां बजाती है.''

राहुल गांधी ने कहा, ''चौकसी, अंबानी विजय माल्या को हज़ारों करोड़ रुपये ये सरकार देती है और किसानों को साढ़े तीन रुपये दिन के देती है और मोदी जी मुस्कुराते हैं.''

इस रैली में विपक्ष की एकजुटता भी नज़र आई. मंच पर शरद यादव, तेजस्वी यादव जैसे नेता भी मौजूद रहे. हाल ही में जिन तीन राज्यों में कांग्रेस की सत्ता आई है, उनके मुख्यमंत्री कमलनाथ, अशोक गहलोत और भूपेश बघेल भी इस रैली में शामिल हुए.

इमेज कॉपीरइट Inc/Twitter

राहुल गांधी ने कहा, ''हम गठबंधन के सारे लोग मिलकर पहले लोकसभा चुनाव और फिर बिहार चुनाव में जीतने जा रहे हैं. हम सब मिलकर आपके अधिकारों की लड़ाई लड़ेंगे.''

इमेज कॉपीरइट TWITTER @BJP4India

अपने एक दिवसीय जम्मू-कश्मीर दौरे पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू में कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस किसानों के आंखों में धूल झोंक रही है.

उन्होंने कहा कि, "ये ईमानदारी से काम नहीं करने वाले. अगर मान भी लिया जाए कि ये ईमानदारी से काम करेंगे तो कर्नाटक, राजस्थान जैसे राज्यों में इसका लाभ केवल 20 से 30 फ़ीसदी किसानों को होगा."

मोदी ने बजट में पेश अपनी योजना की तारीफ करते हुए कहा, "हम जो योजना लाए हैं ये देश भर के 12 करोड़ किसानों को मिलेगा. मतलब कि हर गांव में 100 में 90-95 किसान इसके हकदार बनेंगे."

02 फरवरी, 2019

इमेज कॉपीरइट AFP

चंद महीने बचे हैं, मोदी जाने को तैयार नहीं: ममता

आम चुनाव से पहले पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस और केंद्र की सत्ताधारी पार्टी बीजेपी में टकराव थमने का नाम नहीं ले रहा.

शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी ने पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर की रैली में प्रदेश की मुख्यमंत्री पर जमकर निशाना साधा था.

ममता ने भी पीएम मोदी को जवाब देने में देरी नहीं की.

टीवी चैनलों से ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री के हमले का जवाब देते हुए कहा कि केंद्र की सरकार चंद महीनों की मेहमान है पर अब भी इसके लिए मानसिक रूप से तैयार नहीं है.

ममता ने ये भी कहा कि वो सिटिजनशिप बिल का विरोध करती हैं.

इमेज कॉपीरइट Twitter

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पश्चिम बंगाल में बीजेपी के चुनावी अभियान की शुरुआत करते हुए पहले तो पश्चिम बंगाल की स्थिति को ख़राब बताया लेकिन अंत में उन्होंने टीएमसी से नागरिकता बिल पर संसद में समर्थन देने की मांग की.

24 परगना ज़िले के ठाकुरनगर में आयोजित इस रैली में बड़े जन समूह को उमड़ा देख कर मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत में कहा, "आज की रैली का दृश्य देखकर मुझे समझ आ गया है कि दीदी हिंसा पर क्यों उतर आयी हैं. हमारे प्रति बंगाल की जनता के प्यार से डरकर लोकतंत्र के बचाव का नाटक करने वालें लोग निर्दोष लोगों की हत्या करने पर तुले हुए हैं."

उन्होंने कहा, "ये देश का दुर्भाग्य रहा कि आज़ादी के बाद भी अनेक दशकों तक गांव की स्थिति पर उतना ध्यान नहीं दिया गया, जितना देना चाहिए था. यहां पश्चिम बंगाल में तो स्थिति और भी ख़राब है."

इस दौरान वो बजट में की गई घोषणाओं का लगातार बखान करते रहे.

अंत में मोदी ने कहा, "आपको मैं विश्वास दिलाना चाहता हूं. हिंदुस्तान आज़ाद होने के बाद... उस समय देश के टुकड़े कर कर के देश को आज़ाद किया गया. जो लोग जहां थे उन्हें लगा कि वहां भी गुजारा कर लेंगे. लेकिन सांप्रदायिक दुर्भावना से वहां पर लोगों पर जुल्म, अत्याचार हुए और परिणामस्वरूप लोगों को वहां से यहां हिंदुस्तान आना पड़ा."

"अफ़गानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश से कभी हिंदुओं को, कभी सिखों को, कभी जैनों को, कभी पारसियों को आना पड़ा. समाज के ऐसे लोगों के लिए हिंदुस्तान के सिवाय कोई जगह नहीं है. ऐसे लोगों को हिंदुस्तान में सम्मानपूर्वक रहने का अधिकार मिलना चाहिए या नहीं. इसलिए हम नागरिकता क़ानून लाए हैं. मैं टीएमसी से अपील करता हूं कि नागरिकता क़ानून का संसद में समर्थन करें."

प्रधानमंत्री की एक और रैली दुर्गापुर में होगी. इस दौरान मोदी राज्य में 300 किलोमीटर रेलवे लाइन के विद्युतीकरण किए जाने को लाँच करेंगे.

बीते 19 जनवरी को राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विपक्ष की महारैली का आयोजन किया था, जिसमें 24 राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया था.

राहुल गांधी इमेज कॉपीरइट Getty Images

01 फरवरी, 2019

शुक्रवार की शाम कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में 'सेव द नेशन सेव द डेमोक्रेसी' नाम के एक कार्यक्रम में शामिल हुए.

इसमें लोकतांत्रिक जनता दल पार्टी के शरद यादव, तेलुगुदेशम पार्टी के चंद्रबाबू नायडू और नैशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के शरद पवार समेत विपक्षी दलों के कई नेता मौजूद थे.

कार्यक्रम के बाद प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने कहा कि देश के कई लोगों के मन में ईवीएम बनाने वालों को लेकर शंका है. और हम चाहते हैं कि लोगों का चुनावी प्रक्रिया में भरोसा बढ़े.

उन्होंने कहा, "इस संबंध में हमारे कुछ प्रस्ताव हैं जिनके साथ हम सोमवार शाम 530 बजे चुनाव आयोग के पास जाएंगे."

प्रेस कांफ्रेंस के दौरान एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, "किसान, रोज़गार और संस्थाओं पर जो आक्रमण हो रहे हैं- इन तीन मुद्दों पर चुनाव होगा, साथ ही रफ़ाल भ्रष्टाचार के मुद्दे पर भी चुनाव होगा."

राहुल गांधी ने कहा कि "मिस्टर मोदी और उनकी सरकार के ऊपर आने वाले कुछ महीनों में सर्जिकल स्ट्राइक होने वाले हैं."

31 जनवरी, 2019

पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष इमेज कॉपीरइट SANJAY DAS/BBC
Image caption पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष

पश्चिम बंगाल में बीजेपी को रैली करने से रोकने पर ख़फ़ा राज्य के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने राज्य की तृणमूल सरकार पर तीखा वार करते हुए कहा है कि आगामी लोकसभा चुनाव के नतीजे के दिन वो सर्जिकल स्ट्राइक पार्ट-2 का इंतज़ार करे.

दिलीप घोष ने कहा, "टीएमसी ने रोड़ा अटकाने का काम शुरू किया है, लिहाजा हमने यह फ़ैसला किया है कि हम इसकी शिकायत केंद्रीय गृह मंत्रालय और चुनाव आयोग से करेंगे. अगर टीएमसी को लगता है कि वो इस तरह की चुनावी रणनीति से हार से बच जाएगी तो यह उनकी भूल है. तृणमूल सर्जिकल स्ट्राइक पार्ट-2 का इंतजार करे, जो आगामी लोकसभा चुनाव के नतीजे के दिन ही होगा."

टीएमसी एक अपरिपक्व पार्टी की तरह काम कर रही है. ये अपनी ही कब्र खोद रही है क्योंकि बड़ी संख्या में लोग इस उत्सुकता से बाहर ये देखने आ रहे हैं कि टीएमसी हमारी रैली को क्यों रोक रही है."

प्रोटोकॉल के अनुसार बीजेपी नेताओं को पुलिस पायलट कार देने का नियम है. लेकिन पुलिस पायलट कार के देर से पहुंचने के कारण पार्टी के नेता जनसभा में नहीं पहुंच पा रहे हैं.

दिलीप घोष ने ये भी कहा कि स्थानीय प्रशासन ने नैहाटी में उन्हें जनसभा करने की अनुमति नहीं दी और जनसभा का स्थान बदल दिया.

अरविंद केजरीवाल इमेज कॉपीरइट Getty Images

केजरीवाल: हरियाणा में भाजपा को कांग्रेस नहीं हरा सकती

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि हरियाणा में कांग्रेस बीजीपे को नहीं हरा सकती है. जींद विधानसभा उपचुनाव के नतीजे आने के बाद केजरीवाल ने ये बातें कहीं.

गुरुवार को जींद विधानसभा उपचुनाव के नतीजे आए जिसमें बीजेपी के कृष्ण मिड्ढा ने जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के उम्मीदवार दिग्विजय चौटाला को 12935 वोटों से हरा दिया.

जबकि कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला तीसरे नंबर पर रहे.

इसके बाद अपनी प्रतिक्रिया देते हुए केजरीवाल ने ट्वीट किया, ''जींद उपचुनाव के नतीजों से तो साबित हो गया है कि हरियाणा में भाजपा को कांग्रेस नहीं हरा सकती. नया राजनैतिक विकल्प ही भाजपा को उखाड़ कर फेंक सकता है.''

नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट AFP

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर हमला किया है. इस बार उन्होंने नेशनल सैम्पल सर्वे ऑर्गनाइज़ेशन (एनएसएसओ) के बेरोज़गारी के आंकड़े को मुद्दा बनाया है.

एनएसएसओ बेरोज़गारी के आंकड़े जारी करने वाली संस्था है.

सेंट्रल स्टैटिकल ऑर्गनाइज़ेशन (सीएसओ) के दो वरिष्ठ अधिकारियों ने दो दिन पहले ही इस्तीफ़ा दिया था. उस समय ये बात कही जा रही थी कि सरकार नहीं चाह रही थी कि बेरोज़गारी के आंकड़े को सार्वजनिक किया जाए, जिसके विरोध में अंतरिम अध्यक्ष और एक सदस्य ने इस्तीफ़ा दे दिया था.

लेकिन गुरुवार को मीडिया में एनएसएसओ की रिपोर्ट लीक हो गई. रिपोर्ट के अनुसार भारत में साल 2017-18 में बेरोज़गारी की दर छह फ़ीसद हो गई है पिछले 45 वर्षों में सबसे ज़्यादा है.

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है, ''फ़्यूहरर( जर्मनी के हिटलर के लिए इस्तेमाल होने वाला शब्द) ने हर साल दो करोड़ रोज़गार पैदा करने का वादा किया था. लेकिन पांच साल के बाद रोज़गार पैदा करने के मामले में लीक हुई रिपोर्ट बताती है कि ये तो एक राष्ट्रीय आपदा है. नमो के लिए जाने का समय आ गया है.''

30जनवरी, 2019

नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट AFP

मोदी ने कहा नोटबंदी के फ़ायदे नौजवानों से पूछो

बीजेपी के स्टार कैम्पेनर और पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने गृह राज्य गुजरात के प्रमुख व्यापारिक शहर सूरत में एक जनसभा को संबोधित किया है.

उन्होंने कहा, "लोग मुझसे पूछते हैं कि नोटबंदी से क्या फ़ायदा हुआ, उन्हें इसका जवाब युवाओं से मांगना चाहिए, सरकार के फ़ैसले से ज़मीन-जायदाद में लगा काला धन निकल आया, कीमतें गिरीं. अब नोटबंदी और रियल स्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी (रेरा) जैसे कदमों की वजह से युवा अपना मकान ख़रीदने का सपना पूरा कर सकते हैं."

मोदी ने सूरत एयरपोर्ट पर एक और टर्मिनल बनाने की योजना का शिलान्यास किया.

मोदी जी को रात में अनिल अंबानी दिखते हैं- राहुल गांधी

राहुल गांधी इमेज कॉपीरइट PA

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर रफ़ाल मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला किया है.

राहुल बुधवार को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में इंडियन यूथ कांग्रेस की 'युवा क्रांति यात्रा' को संबोधित कर रहे थे.

राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी को रात में अनिल अंबानी की तस्वीर दिखाई देती है, उन्हें नींद नहीं आती है. राहुल ने कहा कि मोदी ने अपने 15 दोस्तों को 3.5 लाख करोड़ रुपए का क़र्ज़ा माफ़ कर दिया लेकिन किसानों का क़र्ज़ माफ़ नहीं करते.

राहुल ने उद्योग जगत को आश्वस्त करने की कोशिश करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी बिज़नेस कर रहे लोगों के ख़िलाफ़ नहीं हैं, कांग्रेस पार्टी अनिल अंबानी, मेहुल चोकसी और नीरव मोदी जैसे लोगों के ख़िलाफ़ है.

राहुल ने मोदी पर हमला करते हुए कहा कि चाढ़े चार सालों में मोदी ने न तो रोज़गार दिए और न ही किसानों के लिए कुछ किया उलटा तीस हज़ार करोड़ रुपए चुराकर अपने दोस्त अनिल अंबानी की जेब में डाल दिए.

गठबंधन सरकारें ठीक से काम नहीं कर सकतीं: मोदी

नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट EPA

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि गठबंधन सरकारें ठीक से काम नहीं कर सकतीं.

सूरत में एक कार्यक्रम के दौरान मोदी ने लोगों से अपील की कि वे बहुमत की सरकार बनाएँ ताकि वो सरकार कड़े फ़ैसले ले सके.

मोदी ने कहा कि एनडीए की सरकार ने ये साबित किया है कि बहुमत की सरकार गठबंधन सरकार के मुक़ाबले बेहतर काम कर सकती है.

उन्होंने कहा कि विपक्षी पार्टियाँ इसलिए एकजुट हुई हैं, क्योंकि वे मोदी से नफ़रत करती हैं.

राहुल गांधी की सादगी की तारीफ होनी चाहिए: बीजेपी नेता

राहुल गांधी इमेज कॉपीरइट Getty Images

लंबे समय से बीमार चल रहे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का हालचाल पूछने गोवा पहुंचे राहुल गांधी की एक बीजेपी नेता ने प्रशंसा की है.

गोवा विधानसभा के डिप्टी स्पीकर और बीजेपी विधायक माइकल लोबो ने कहा कि गोवा और देशभर के लोगों को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की सादगी और विनम्रता की तारीफ करनी चाहिए.

लोबो ने ये भी कहा कि गोवा और देश को ऐसे ही नेताओं की ज़रूरत है.

पर्रिकर से मुलाकात के एक दिन पहले ही राहुल गांधी ने रफाल मुद्दे से जुड़े तथाकथित ऑडियो टेप को लेकर बयान दिया था.

इस टेप में गोवा के ही एक मंत्री दावा कर रहे हैं कि रफाल डील से जुड़ी फाइलें पर्रिकर के पास हैं.

शरद पवार इमेज कॉपीरइट TWITTER @Sharad Pawar

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा है कि लोकसभा चुनावों से पहले विपक्षी पार्टियों के प्रस्तावित महागठबंधन के प्रधानमंत्री के उम्मीदवार के बारे में सोचने की ज़रूरत नहीं है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक इस बारे में पूछ जाने पर उन्होंने कहा, "हमने 2004 चुनावों से पहले किसी उम्मीदवार का नाम घोषित नहीं किया था. लेकिन हम दस साल तक सफल सरकार चलाने में कामयाब रहे."

गौरतलब है कि शरद पवार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की कोलकाता में आयोजित महारैली में शामिल हुए थे.

29जनवरी 2019

इमेज कॉपीरइट Reuters

प्रियंका के आने के बाद कांग्रेस 2G से 3G बनीः अमित शाह

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने पश्चिम बंगाल के पूर्वी मिदनापुर में आयोजित एक जनसभा में प्रियंका गांधी के राजनीति में औपचारिक प्रवेश को लेकर गांधी परिवार पर तंज कसा है.

पीटीआई के मुताबिक़ अमित शाह ने अपने भाषण में कहा, 'यूपीए सरकार दस सालों तक सत्ता में रही. इस दौरान 2G यानी सोनिया और राहुल गांधी की सरकार थी. तब वे 12 लाख करोड़ के घोटाले करने में सक्षम थे. ऐसे में अब जब प्रियंका गांधी के रूप में तीसरा G आ गया है तो कौन जानता है कि वे कितना बड़ा घोटाला करेंगे.'

इमेज कॉपीरइट Twitter/BJP4India

कहां गया 'अमार शोनार बांग्ला'?

अमित शाह ने रवींद्रनाथ टैगोर, विवेकानंद से लेकर बंकिम चंद्र चटर्जी का नाम लेकर सवाल किया कि शोनार बांग्ला आख़िर कहां खो गया है.

उन्होंने कहा, "मैं यहां मिदनापुर आकर यहां के सपूत और अमर शहीद खुदीराम बोस को प्रणाम करना चाहता हूं जिन्होंने अंग्रेजों के ख़िलाफ़ लड़ते लड़ते अपने जीवन का बलिदान भारत माता के लिए कर दिया. वंदे मातरम लिखने वाले बंकिम चंद्र भी यहीं रहे हैं. ये जो भूमि है उसने देश का नेतृत्व किया है. सांस्कृतिक नेतृत्व किया, आर्थिक नेतृत्व किया और राजनीतिक नेतृत्व किया. इस पश्चिम बंगाल की भूमि को आज क्या हो गया है? हमारा शोनार बांग्ला कहां खो गया है. देश भर में फैले बंगाली आज शोनार बांग्ला को ढूंढ़ रहे हैं."

अमित शाह ने ममता बनर्जी को रोहिंग्या के मुद्दे पर भी घेरने की कोशिश की.

अमित शाह ने अपने भाषण में कहा, "मैं ममता जी से पूछना चाहता हूं कि क्या वह नागरिकता संशोधन अधिनियम का राज्यसभा में स्वागत करेंगी या नहीं. वह इस बारे में पश्चिम बंगाल के लोगों के बताएं. वे घुसपैठियों और रोहिंग्या का स्वागत करते हैं लेकिन यहां पर उन शरणार्थियों के लिए कोई जगह नहीं है जो अपनी जान बचाने के लिए आए हैं."

मायावती ने राहुल गांधी के वादे की उड़ाई खिल्ली

इमेज कॉपीरइट AFP

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती ने न्यूनतम आय गारंटी पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसा है.

ओडिशा में एक रैली के दौरान मायावती ने कहा, "क्या ये वादा भी ग़रीबी हटाओ या मौजूदा सरकार के काला धन, 15 लाख और अच्छे दिन के वादे की तरह फ़र्ज़ी है."

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को छत्तीसगढ़ में आयोजित अपनी किसान रैली में लोगों से ये वादा किया कि 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद अगर उनकी सरकार बनी तो वो सभी ग़रीबों के लिए एक न्यूनतम आमदनी सुनिश्चित करेंगे.

अपने भाषण में उन्होंने कहा, "कांग्रेस पार्टी ने निर्णय ले लिया है कि हिंदुस्तान के हर ग़रीब व्यक्ति को 2019 के बाद कांग्रेस पार्टी वाली सरकार गारंटी करके न्यूनतम आमदनी देने जा रही है. इसका मतलब देश के हर ग़रीब व्यक्ति के बैंक अकाउंट में कांग्रेस सरकार न्यूनतम आमदनी देने जा रही है. देश में न कोई भूखा रहेगा, न कोई ग़रीब रहेगा."

अमित शाह ने कहा, कांग्रेस और बीजू जनता दल एक ही सिक्के के दो पहलूचुनाव 2019 बड़ी ख़बरें: 28 जनवरी से 3 फरवरी तक

इमेज कॉपीरइट EPA

चुनाव 2019 बड़ी ख़बरें: 28 जनवरी से 3 फरवरी तक

चुनाव 2019 बड़ी ख़बरें: 28 जनवरी से 3 फरवरी तक

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने ओडिशा में पार्टी का चुनावी अभियान शुरू कर दिया है.

उन्होंने चार लोक सभा सीटों- कटक, जाजपुर, जगतसिंहपुर और केंद्रपाड़ा और इन लोकसभा सीटों के अधीन आने वाले 28 विधानसभा सीटों के करीब 30 हज़ार बूथ कार्यकर्ताओं को संबोधित किया है.

अपने संबोधन में अमित शाह ने कहा है, "कांग्रेस और बीजू जनता दल एक ही सिक्के के दो पहलू हैं. अगर दोनों में से कोई भी सरकार में आता है तो ओडिशा की ग़रीबी दूर नहीं होगी. दोनों दल राज्य का विकास नहीं करा सकते."

अपने बच्चों को प्यार नहीं करते तो मोदी जी को वोट करें: अरविंद केजरीवाल

इमेज कॉपीरइट Getty Images

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को सरकारी स्कूलों में 11,000 क्लासरूम के निर्माण का शिलान्यास किया. इस कार्यक्रम में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी ज़ुबानी हमला किया.

न्यू फ़्रेंड्स कॉलोनी के सर्वोदय विद्यालय में बच्चों और परिजनों को संबोधित करते हुए उन्होंने परिजनों से पूछा कि वे तय करें कि वे किसे अधिक प्रेम करते हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को या अपने बच्चों को.

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा, "अगर आप अपने बच्चों को प्यार करते हैं तो उन्हें वोट कीजिए जो आपके बच्चों के लिए काम कर रहे हैं और अगर आप अपने बच्चों को प्यार नहीं करते हैं तो आप मोदी जी को वोट दीजिए. मोदी जी एक क्लासरूम या स्कूल तक नहीं बनवाया है. आपको राष्ट्र के लिए प्रेम और मोदी के लिए प्रेम में से एक को चुनना होगा."

केजरीवाल के उपमुख्यमंत्री सिसोदया ने छात्रों से कहा कि वे अपने परिजनों को धन्यवाद कहें कि उन्होंने आम आदमी पार्टी को वोट दिया.

उन्होंने कहा, "अगर आपके परिजन 'आप' (2015) को वोट नहीं देते तो पार्टी आपके और दिल्ली के लिए कैसे काम करती."

28 जनवरी 2019

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK/RAHULGANDHI

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ के रायपुर में आयोजित किसान आभार सम्मेलन में मिनिमम इनकम गारंटी योजना की घोषणा की है.

राहुल गांधी ने कहा, "साल 2019 में जीतने के बाद कांग्रेस सरकार मिनिमम इनकम गारंटी यानी न्यूनतम आमदनी योजना शुरू करेगी. इसका मतलब ये है कि हिंदुस्तान के हर ग़रीब व्यक्ति के बैंक अकाउंट में एक निश्चित राशि न्यूनतम आमदनी के रूप में हिंदुस्तान की सरकार देने जा रही है.

"मतलब, हिंदुस्तान में न कोई भूखा रहेगा और न कोई ग़रीब रहेगा. कांग्रेस सरकार ये छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान से लेकर हर प्रदेश में करेगी. हम दो हिंदुस्तान नहीं चाहते हैं. एक हिंदुस्तान होगा जिसमें कांग्रेस पार्टी की सरकार न्यूनतम आमदनी देने का काम कांग्रेस सरकार करेगी."

इमेज कॉपीरइट INCChhattisgarh

राहुल गांधी ने अपने इसी भाषण में कहा है कि कांग्रेस सरकार का ये कदम अपने आप में ऐतिहासिक है और दुनिया की किसी सरकार ने ये क़दम नहीं उठाया है.

रफ़ाल पर राहुल का वार

राहुल गांधी ने रफ़ाल के मुद्दे पर बीजेपी सरकार को घेरते हुए कहा, "रफ़ाल दुनिया का सबसे बड़ा डिफेंस कॉन्ट्रेक्ट है. इससे लाखों युवाओं को रोजगार मिल सकता था. हवाई जहाज़ अगर बेंगलुरु, ओडीशा या शायद छत्तीसगढ़ में बनाए जाते तो लाखों युवाओं को रोज़गार मिलता. लेकिन नरेंद्र मोदी ने अनिल अंबानी को रोजगार देने के लिए फ्रांस के राष्ट्रपति से कहा कि एचएएल को नहीं मिलेगा, छत्तीसगढ़ के युवाओं को नहीं मिलेगा, अनिल अंबानी और फ्रांस के युवाओं को मिलेगा."

अमित शाह पहुंचे हिमाचल

अमित शाह ने हिमाचल प्रदेश के उना में पहुंचकर पन्ना प्रमुख सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि वह देवभूमि को नमन करना चाहते हैं.

अमित शाह ने गठबंधन पर तंज कसते हुए कहा, "'एक हौव्वा खड़ा किया है, गठबंधन...गठबंधन...गठबंधन. अरे भइया, जो दो-चार छूटे हैं उनको मिला दो, हमें आपत्ति नहीं है."

इसके साथ ही अमित शाह ने कहा, "जिस परिवार का इतिहास घोटालों में भरा हुआ रहा हो वो आज हम पर आधारहीन आरोप लगा रहे हैं. पर मैं उनको बताना चाहता हूं कि जनता आपके झूठ को अच्छे से जानती है."

जींद में विधानसभा चुनाव जारी

हरियाणा की जींद विधानसभा सीट और राजस्थान की रामगढ़ विधानसभा सीट पर सोमवार को उप-चुनाव हो रहे हैं.

जींद सीट पर हो रहे मतदान पर सभी की नज़रें टिकी हुई हैं क्योंकि इस सीट से कांग्रेस प्रवक्ता और कैथल विधानसभा सीट से विधायक रणदीप सिंह सुरजेवाला उम्मीदवार हैं. 2014 से हरियाणा में बीजेपी की सरकार है और इस उप-चुनाव को सत्तारुढ़ सरकार पर जनता का मूड नापने के तौर पर भी देखा जा रहा है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

जींद में तक़रीबन 1.72 लाख मतदाता हैं और मतदान सुबह सात बजे शुरू हो गया है जो शाम पांच बजे तक चलेगा. जींद सीट के लिए 21 उम्मीदवार मैदान में हैं.

इस सीट पर सुरजेवाला के अलावा बीजेपी के कृष्ण मिड्ढा, इंडियन नेशनल लोकदल (आईएनएलडी) से उम्मेद सिंह रेडू और जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) से दिग्विजय चौटाला उम्मीदवार हैं.

यह सीट आईएनएलडी के क़ब्ज़े में थी पिछले साल अगस्त में विधायक हरिचंद मिड्ढा के निधन के बाद यह खाली हुई थी. इस चुनाव में आईएनएलडी ने उनके बेटे को उम्मीदवार बनाया है.

मतदान के दौरान तीन हज़ार सुरक्षाकर्मियों को लगाया गया है. इस सीट के लिए मतगणना 31 जनवरी को होगी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

रामगढ़ सीट पर भी मतदान

वहीं, राजस्थान में नई सरकार बनने के तकरीबन डेढ़ महीने के अंदर ही एक सीट पर उप-चुनाव हो रहे हैं. यह सीट अलवर ज़िले की रामगढ़ सीट है.

इस सीट पर सत्तारुढ़ कांग्रेस, बीजेपी और बसपा के बीच लड़ाई है. सात दिसंबर को बीएसपी उम्मीदवार लक्ष्मण सिंह की मौत के बाद यह सीट खाली हुई थी.

बसपा ने इस सीट से पूर्व केंद्रीय मंत्री नटवर सिंह के बेटे जगत सिंह के उम्मीदवार बनाया है. वहीं, कांग्रेस ने शफ़िया ज़ुबैर ख़ान और बीजेपी ने सुखवंत सिंह को उम्मीदवार बनाया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार