राहुल गांधी अनिल अंबानी पर हमला बोल रहे कपिल सिब्बल कर रहे बचाव

  • 13 फरवरी 2019
कपिल सिब्बल इमेज कॉपीरइट Getty Images

कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी एक तरफ़ हर दिन फ़्रांस से रफ़ाल लड़ाकू विमान सौदे में उद्योगपति अनिल अंबानी पर हमला बोलते हैं तो दूसरी तरफ़ पार्टी के ही वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में एक अन्य मामले में अनिल अंबानी का बचाव कर रहे हैं.

मंगलवार को तो कपिल सिब्बल ने कुछ ज़्यादा ही पेशेवर अंदाज़ दिखाया. सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में अनिल अंबानी के वकील के तौर पर बचाव करते दिखे तो कोर्ट से बाहर रफ़ाल मामले में राहुल गांधी की तर्ज़ पर हमला भी बोला.

एरिक्सन इंडिया ने सुप्रीम कोर्ट में अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशन के ख़िलाफ़ कोर्ट की अवमानना की याचिका दाख़िल की है.

इसी मामले में सिब्बल अनिल अंबानी के वकील हैं. एरिक्सन इंडिया ने कोर्ट से कहा है कि उसके आदेश के बावजूद अंबानी की कंपनी ने 550 करोड़ रुपए का भुगतान नहीं किया है.

मंगलवार को कपिल सिब्बल और मुकुल रोहतगी ने सुप्रीम कोर्ट में अनिल अंबानी के पक्ष में दलील दी और कहा कि उन्होंने किसी भी तरह से कोर्ट की अवमानना नहीं की है.

अनिल अंबानी RCom को दिवालिया बनाने पर क्यों मजबूर हुए

इमेज कॉपीरइट Getty Images

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को अंबानी से अदालत में पेश होने के लिए कहा है. 2014 में एरिक्सन इंडिया ने रिलायंस कम्युनिकेशन के साथ सात सालों के लिए ऑपरेशन और मैनेजमेंट को लेकर एक समझौते पर हस्ताक्षर किया था.

एरिक्सन इंडिया का कहना है कि रिलायंस कम्युनिकेशन ने उसके 1,500 करोड़ रुपए का भुगतान नहीं किया. एरिक्सन ने भारत के सुप्रीम कोर्ट से कहा कि आरकॉम के मालिक को जेल भेजा जाए क्योंकि अदालत ने 7.9 करोड़ डॉलर के भुगतान का जो आदेश दिया था, उसका उल्लंघन किया गया है.

आरकॉम पर एरिक्सन का कुल बक़ाया 15.8 करोड़ डॉलर का है. एरिक्सन की इस अपील के बाद आरकॉम ने सुप्रीम कोर्ट में 1.86 करोड़ डॉलर जमा किया ताकि आंशिक भुगतान किया जा सके.

कोर्ट में सुनवाई से ठीक पहले कपिल सिब्बल ने रफ़ाल मामले में सरकार और अनिल अंबानी के ख़िलाफ़ ट्वीट किया. मंगलवार को ही राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रफ़ाल मामले में अनिल अंबानी के बिचौलिए की तरह काम कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

राहुल ने ये आरोप भी लगाए कि मोदी जब 36 रफ़ाल लड़ाकू विमान के सौदे के लिए फ़्रांस गए थे तो उसके ठीक 10 दिन पहले अनिल अंबानी ने पेरिस में फ़्रांस के रक्षा मंत्री से मुलाक़ात की थी.

राहुल ने कहा कि रक्षा मंत्री और विदेश मंत्री को रफ़ाल सौदे का पता नहीं था लेकिन अनिल अंबानी को पता था.

2017 में भी कपिल सिब्बल के कारण कांग्रेस की असहज स्थिति पैदा हो गई थी. वो सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक़ के विरोध में ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की तरफ़ से बचाव के लिए वकील के तौर पर पेश हुए थे.

इसके पहले वो शारदा चिट फंड स्कैम में ममता बनर्जी सरकार के वकील बने थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार