राहुल गांधी और केजरीवाल चुनावों से पहले दिखे एक साथ: आज की पांच बड़ी ख़बरें

  • 14 फरवरी 2019
राहुल गांधी इमेज कॉपीरइट Getty Images

लोकसभा चुनावों के मद्देनज़र विपक्ष के शीर्ष नेताओं ने बुधवार को दिल्ली में एक बैठक की, जिसमें साझा न्यूनतम कार्यक्रम पर सहमति बनी.

इस बैठक में भाजपा नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन के ख़िलाफ़ लड़ने की रणनीति तय की गई. बैठक एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के आवास पर हुई, जिसमें चुनावों से पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल पहली बार एक साथ देखे गए.

इससे पहले पिछले साल नवंबर के महीने में दिल्ली में आयोजित एक किसान रैली में दोनों नेता एक मंच पर देखे गए थे. ये गैर-राजनीतिक रैली थी.

बैठक के बाद राहुल ने कहा, "हम भाजपा को हराने के लिए साथ मिलकर काम करेंगे."

वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि सभी पार्टियां चुनाव से पहले गठबंधन करेंगे. अरविंद केजरीवाल ने भी बैठक के सकारात्मक करार दिया है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

जम्मू-कश्मीरः निजी स्कूल में विस्फोट, 25 बच्चे घायल

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में एक निजी स्कूल में चरमपंथियों के विस्फोट में 25 बच्चे घायल हो गए.

घायल बच्चियों को पास के अस्पताल ले जाया गया, जिनमें से कुछ की हालात गंभीर बताई जा रही है.

बुधवार की दोपहर स्कूल में विस्फोट के बाद सुरक्षा बलों ने पूरे इलाक़े को घेर कर तलाशी अभियान शुरू कर दिया.

इस हमले की ज़िम्मेदारी अभी तक किसी ने नहीं ली है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पटना मेट्रो को मंजूरी, पीएम 17 को करेंगे शिलान्यास

पटना मेट्रो प्रोजेक्ट को बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट ने मंजूरी दे दी. 17 फ़रवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका शिलान्यास करेंगे.

करीब 32 किलोमीटर के इस प्रोजेक्ट पर 13,411 करोड़ रुपए खर्च होंगे. पटना मेट्रो का निर्माण दो कॉरिडोर में होगा.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना मेट्रो के कैबिनेट की मंजूरी मिलने पर खुशी जताते हुए प्रधानंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया है.

योजना के मुताबिक यह प्रोजेक्ट 2024 तक पूरा हो जाएगा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

एएमयू के 14 छात्रों पर देशद्रोह का आरोप

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय परिसर में देश विरोधी नारे लगाने के आरोप में एएमयू छात्रसंघ अध्यक्ष सलमान इम्तियाज सहित 14 लोगों पर केस दर्ज किया गया है.

इन पर देशद्रोह की धाराएं लगाई गई हैं. सांसद असदुद्दीन ओवैसी के दौरे के विरोध में छात्र गुटों में झड़प हो गई थी, जिसके बाद भाजयुमो के तहरीर पर यह कार्रवाई की गई है.

भाजयुमो जिलाध्यक्ष मुकेश सिंह की ओर से दी गई तहरीर में आरोप लगाया गया है कि विश्वविद्यालय परिसर में देश विरोधी नारे लगाए गए.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

रूस पर प्रतिबंध लगाने के लिए अमरीकी संसद में बिल पेश

अमरीका में रिपब्लिकन और डेमोक्रेटिक पार्टी के सिनेटरों ने एक साथ एक बिल पेश किया है, जो रूस के ऊर्जा और बैंकिंग क्षेत्रों पर प्रतिबंध लगा देगा.

अमरीका का कहना है कि रूस को यूक्रेन में कथित आक्रामकता, सीरिया में राष्ट्रपति असद के समर्थन और 2016 में अमरीकी राष्ट्रपति चुनावों में हस्तक्षेप के लिए सख्त जवाब दिया जाना जरूरी है.

रिपब्लिकन सिनेटर लिंडसे ग्राहम का कहना है कि राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की अमरीकी लोकतंत्र को कमजोर करने की कोशिश के चलते ये उपाय अपनाए गए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार