प्रेस रिव्यू: राजस्थान में गुर्जरों को पांच प्रतिशत आरक्षण का बिल पास

  • 14 फरवरी 2019
गुर्जर आंदोलन इमेज कॉपीरइट AFP

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के मुताबिक राजस्थान सरकार ने गुर्जर समेत 5 जातियों को पांच प्रतिशत आरक्षण देने संबंधी बिल पास कर दिया है.

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी बैंसला ने कहा कि विधेयक का अध्ययन करने के बाद ही आंदोलन खत्म करने का फैसला होगा.

इस बिल के पास होने के साथ ही राज्सथान में आरक्षण सीमा 50 प्रतिशत के पार चली गई है जो की सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विपरीत है. कोर्ट ने आरक्षण की अधिकतम सीमा 50 फीसदी तय की थी.

राज्य में कई दिनों से आरक्षण के लिए गुर्जर समुदाय धरने पर बैठा था. गुर्जर राज्य में नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में पांच फीसदी आरक्षण की मांग कर रहे थे.

धरने के चलते रेल यातायात भी प्रभावित हो गया था और कई ट्रेन रद्द हुई थीं.

अर्पित होटल में बंद था एमरजेंसी गेट

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक दिल्ली के अर्पित होटल मामले में दर्ज हुई एफआईआर में होटल में सुरक्षा में कई चूक पाई गई हैं.

एफआईआर के मुताबिक होटल में पहले फ्लोर पर सिर्फ एक एमरजेंसी गेट था, जो की बंद था. साथ ही होटल में दो रसोई अवैध रूप से चल रही थीं. इनमें से एक छत पर बनी थी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

होटल गेस्टहाउस के तौर पर पंजीकृत था इसलिए उसमें रसोई बनाने की इजाजत नहीं थी.

इसके अलावा छत पर प्लास्टिक के टुकड़े और आग पकड़ने वाले कई सामान थे.

करोल बाग के अर्पित होटस में लगी आग में करीब 17 लोगों की जान चली गई. अखबार लिखता है कि इस होटल में जिस वक़्त आग लगी तो 60 मेहमान और 12 कर्मचारी मौजूद थे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

एसी से रुक रहा मानसिक विकास

हिंदुस्तान अख़बार की ख़बर के अनुसार क्लासरूम में लगे एसी का बच्चे के मानसिक विकास पर असर पड़ता है.

अख़बार लिखता है कि डिजाइन एप्लीकेशन ऑफ होम इकोनॉमिक्स व भारतीय प्रदूषण नियत्रंण एसोसिएशन यानि आईपीसीए के अध्ययन में यह जानकारी दी गई है.

अध्ययन के अनुसार एसी कक्षाओं में प्रभावी वेंटीलेशन की व्यवस्था न होने के कारण औसतन दो हजार पीपीएम तक कार्बनडाइऑक्साइड का उत्सर्जन पाया गया है. वहीं, पूरी तरह से बंद कमरों में ये स्तर पांच हजार पीपीएम तक दर्ज किया गया है.

इस वजह से ​बच्चों को नींद आने के साथ-साथ उनका प्रदर्शन भी प्रभावित हो रहा है. जुलाई 2016 से फरवरी 2017 के दौरान 738 बच्चों पर किए गए इस अध्ययन को 'इंडोर इनवायरंमेंट क्वालिटी एशिया' कांफ्रेंस में जारी किया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार