'पुलवामा हमला सुरक्षा में बड़ी चूक का नतीजा' : पांच बड़ी खबरें

  • 18 फरवरी 2019
सेना इमेज कॉपीरइट Getty Images

रिसर्च एडं एनालिसिस विंग (रॉ) के पूर्व प्रमुख विक्रम सूद ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुआ हमला बिना सुरक्षा चूक से नहीं हो सकता.

विक्रम सूद ने कहा कि, ''मुझे नहीं पता ये हमला कैसे हुआ, लेकिन ऐसी घटनाएं बिना सुरक्षा में बड़ी चूक के संभव नहीं है. जाहिर तौर पर इस हमले को अंजाम एक व्यक्ति नहीं दे सकता ये एक पूरे समूह ने मिलकर किया है.''

भारत को इस पर क्या जवाब देना चाहिए, यह पूछे जाने पर उन्होंने कहा,''यह कोई बॉक्सिंग मैंच नहीं है.मुक्के के बदले मुक्का नहीं चलेगा.प्रधानमंत्री कह चुके हैं कि अपनी मर्ज़ी से चुने गए समय और स्थान पर हमला करेंगे.''

14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर एक फिदायीन हमला हुआ था. इसमें 40 से ज़्यादा जवान मारे गए और कई घायल हुए थे. इस घटना की ज़िम्मेदारी जैश ए मोहम्मद ने ली है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

हमें सुरक्षा की ज़रूरत नहीं-अलगाववादी

पुलवामा हमले के बाद जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने हुर्रियत कांफ़्रेंस के प्रमुख मीरवाइज़ उमर फ़ारूख सहित पांच अलगावादी नेताओं को दी जाने वाली सुरक्षा वापस ले ली है.

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए हुर्रियत के प्रवक्ता ने कहा है, ''अलगाववादी नेताओं ने कभी सुरक्षा की मांग नहीं की. हमने बार-बार कहा है कि सरकार इसे वापस ले सकती है.''

प्रशासन की ओर से जारी निर्देश मे कहा गया था कि इन अलगाववादी नेताओं को दी गई सुरक्षा और गाड़िया रविवार शाम तक वापस ले ली जाएंगी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

देश 'जॉबलेस-ग्रोथ' से 'जॉब लॉस ग्रोथ' की ओर- मनमोहन सिंह

देश की अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर मोदी सरकार को असफ़ल बताते हुए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा, '' देश में रोजगार पैदा होने के बजाय रोजगार के नुकसान में वृद्धि की स्थिति बन गई है.''

दिल्ली स्कूल ऑफ़ मैनेजमेंट के दीक्षांत समारोह में छात्रों को संबोधित करते हुए सिंह ने कहा, '' 'अब तक जो 'जॉबलेस ग्रोथ' था, वह अब और बिगड़कर ''जॉबलॉस ग्रोथ' बन गया है. ग्रामीण लोगों पर बढ़ते कर्ज़ और शहरी अव्यवस्था के चलते आकांक्षी युवाओं में असंतोष पैदा हो रहा है. ''

उन्होंने आगे कहा, '' औद्योगिक वृद्धि दर उतनी तेजी से नहीं बढ़ पा रही है जितनी जरूरत के मुताबिक बढ़ना चाहिये. औद्योगिक क्षेत्र में सरकार के अतिरिक्त रोजगार के अवसर पैदा करने के प्रयास भी विफल रहे हैं.''

साल 2004 से 2014 तक देश के प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह ने कहा, ''हम तेजी से बदलती दुनिया में रह रहे हैं. एक तरफ हम तेजी से दुनिया की अर्थव्यवस्था के साथ जुड़ रहे हैं और विश्व बाजारों में पहुंच रहे हैं और दूसरी तरफ घरेलू स्तर पर हमारे समक्ष व्यापक आर्थिक और सामाजिक चुनौतियां खड़ी हैं.''

इमेज कॉपीरइट Getty Images

किताबों में पढ़ाया जाएगा पुलवामा हमला

राजस्थान सरकार जल्द ही पुलवामा हमले को किताबों एक अध्याय को तौर पर शामिल कर सकती है.

राज्य के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने पाठ्यपुस्तक समीक्षा समिति को सुझाव दिया है कि किताबों के पाठ्यक्रम को रिवाइज़ किया जाए.

14 फ़रवरी को पुलवामा हमले में राजस्थान के पांच सीआरपीएफ़ जवान मारे गए जिनके बलिदान के बारे में राज्य की किताबों में अब पढ़ाया जाएगा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

पाकिस्तान दौरे पर सऊदी प्रिंस

दो दिवसीय पाकिस्तान दौरे पर आए सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने पाकिस्तान के साथ बीस अरब डॉलर के आर्थिक समझौतों की घोषणा की है. इनमें तेल रिफ़ायनरी में आठ अरब डॉलर का निवेश भी शामिल है.

उन्होंने इसे आर्थिक सहयोग की शुरुआत बताते हुए कहा कि ये ऐतिहासिक रूप से सहयोगी इन दोनों मुसलिम देशों को और करीब ले आएगा. पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था इस समय बदहाली के दौर में है और सऊदी क़र्ज़ देकर पाकिस्तान की मदद कर रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक,ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार