पुलवामा में मारे गए सैनिकों के शव के पास बैठ मुस्कुरा रहे थे आदित्यनाथ योगी?

  • फ़ैक्ट चेक टीम
  • बीबीसी न्यूज़
योगी

इमेज स्रोत, SM Viral Post

कुछ लोगों का दावा: 'जब पूरा देश पुलवामा के चरमपंथी हमले में मारे गए जवानों का शोक मना रहा था, उस समय उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी तिरंगे में लिपटे शवों के पास बैठकर मुस्कुरा रहे थे'.

इस दावे के साथ सीएम योगी, बीजेपी नेता मोहसिन रज़ा, बिहार के गवर्नर लाल जी टंडन और यूपी के कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन का 30 सेकेंड का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफ़ी शेयर किया जा रहा है.

फ़ेसबुक और ट्विटर पर इस वीडियो को सैकड़ों बार शेयर किया जा चुका है. इसे शेयर करने वालों का एक ही मक़सद है- 'ये दिखाना कि बीजेपी नेता कितने असंवेदनशील हैं'.

इमेज स्रोत, SM Viral Post

यू-ट्यूब और कई चैटिंग ऐप्स पर भी 14 फ़रवरी के पुलवामा हादसे से जोड़कर आदित्यनाथ योगी का ये वीडियो शेयर किया जा रहा है.

भारत प्रशासित कश्मीर के पुलवामा में हुए चरमपंथी हमले में 45 से ज़्यादा जवान मारे गए थे और कई अन्य जवान घायल हो गए थे.

लेकिन अपनी पड़ताल में हमने पाया कि जिस वीडियो के आधार पर बीजेपी नेताओं के इस घटना के प्रति गंभीर न होने की बात की जा रही है, वो पुराना है और पुलवामा हमले से उसका वास्ता नहीं है.

इमेज स्रोत, @MYOGIADITYANATH

अब हक़ीक़त...

आदित्यनाथ योगी और अन्य बीजेपी नेताओं के मुस्कुराने का ये वीडियो पिछले साल का है, जब उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री एनडी तिवारी का अंतिम संस्कार हुआ था.

कद्दावर नेता एनडी तिवारी का देहांत 18 अक्तूबर 2018 को दिल्ली में हुआ था. वो 93 वर्ष के थे.

इमेज स्रोत, Getty Images

एनडी तिवारी के अंतिम संस्कार में यूपी के सीएम आदित्यनाथ योगी बीजेपी नेता मोहसिन रज़ा से ऐसी क्या बात कह रहे थे कि चारों नेता पार्थिव शरीर के पास बैठे खिलखिला उठे, इसकी जानकारी तो सार्वजनिक तौर पर उपलब्ध नहीं है. लेकिन बीजेपी और उनके नेताओं की इस हरक़त पर पार्टी की काफ़ी किरकिरी हुई थी.

ये वीडियो साल 2018 में भी वायरल हुआ था और लोगों ने आदित्नाथ योगी की भावभँगिमा की आलोचना की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)