पाकिस्तान में भारत के पायलट और दुर्घटनाग्रस्त विमानों की फ़र्ज़ी तस्वीरें वायरल

  • 27 फरवरी 2019
पाकिस्तान इमेज कॉपीरइट SM Viral Posts

पाकिस्तान में स्थानीय मीडिया के हवाले से कुछ तस्वीरें और मोबाइल वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किये जा रहे हैं और इन्हें 'भारतीय वायु सेना पर पाकिस्तानी फ़ौज की जवाबी कार्रवाई' का बताया जा रहा है.

लेकिन बीबीसी की पड़ताल में हमने इन सभी दावों को ग़लत पाया है और ये भी कि इन पुरानी तस्वीरों का भारत और पाकिस्तान के बीच बुधवार को हुई कथित सैन्य कार्रवाई से कोई वास्ता नहीं है.

पाकिस्तान की फ़ौज के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ़ गफ़ूर ने बुधवार सुबह प्रेस कॉन्फ़्रेंस कर कहा कि पाकिस्तान की वायु सेना ने बुधवार सुबह भारत प्रशासित कश्मीर में छह ठिकानों पर हवाई हमले किए.

इसके बाद पाकिस्तान की सेना ने कहा कि उन्होंने दो भारतीय पायलटों को गिरफ़्तार कर लिया है और भारत के दो फ़ाइटर विमान मार गिराए हैं. गिरफ़्तार किए गए एक पायलट का वीडियो पाकिस्तान फ़ौज ने सोशल मीडिया पर जारी किया है.

इमेज कॉपीरइट SM Viral Post

14 फ़रवरी को भारत प्रशासित कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ़ के काफ़िले पर हुए आत्मघाती हमले के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया है. इस हमले में भारत के 40 से ज़्यादा जवान मारे गए थे.

इसी सिलसिले में भारत सरकार ने मंगलवार को दावा किया था कि पुलवामा हमले के लिए ज़िम्मेदार जैशे-मोहम्मद के पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर स्थित ठिकानों को भारतीय वायु सेना ने निशाना बनाया है. इस हमले में जैशे-मोहम्मद की कितनी क्षति हुई, इसकी निष्पक्ष सूत्रों से पुष्टि नहीं हो पाई है.

पाकिस्तान की फ़ौज द्वारा हमले का दावा सामने आने के बाद से ही #Pakistaniarmyzindabad, #Pakistanairforceourpride और #Pakistanstrikesback जैसे हैशटैग ट्विटर पर ट्रेंड कर रहे हैं.

लेकिन इन हैशटैग्स के साथ कुछ पुरानी तस्वीरें और वीडियो फ़ेसबुक के साथ-साथ ट्विटर पर शेयर किए जा रहे हैं.

इनका बुधवार के घटनाक्रम से कोई लेना-देना नहीं है, फिर भी पाकिस्तानी मीडिया ने टीवी और ऑनलाइन ख़बरों में इन वायरल तस्वीरों को इस्तेमाल किया है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

घायल पायलट का वीडियो

पाकिस्तान के कई ट्विटर यूज़र्स ने भारत के एक गंभीर रूप से घायल पायलट का वीडियो शेयर किया है.

ख़ून में सने इस पायलट को पाकिस्तान की सेना द्वारा गिरफ़्तार किए गए भारतीय पायलट का वीडियो बताते हुए शेयर किया जा रहा है.

लोगों ने इस वीडियो के साथ दावा किया है कि पाकिस्तानी फ़ोर्स ने भारतीय पायलट को जीवित पकड़ लिया है.

ये बात सही है कि पाकिस्तान की सेना ने दो भारतीय पायलटों को जीवित पकड़ लेने का दावा किया है. लेकिन पाकिस्तान में वायरल हो रहा ये वीडियो इस दावे के साथ फ़िट नहीं बैठता.

वायरल वीडियो भारतीय वायु सेना में विंग कमांडर विजय शेल्के का है जो 19 फ़रवरी 2019 को बेंगलुरु एयर शो से पहले दो सूर्यकिरण विमानों के टकराने से घायल हो गए थे.

उनके बचाव के लिए बेंलगुरु के कुछ स्थानीय लोग मौक़े पर पहुँचे थे. इस दौरान उनमें जो बातचीत हुई, उसे भी वायरल वीडियो में सुना जा सकता है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

विमान क्रैश का फ़ोटो

भारतीय विमान के क्रैश की ये तस्वीर सैकड़ों बार सोशल मीडिया पर पोस्ट की गई है.

इस तस्वीर को न सिर्फ़ पाकिस्तान के लोगों ने, बल्कि स्थानीय मीडिया ने भी अपनी ख़बरों में इस्तेमाल किया है.

पाकिस्तान के कुछ मीडिया संस्थानों ने इसे सरकारी एजेंसी द्वारा जारी की गई दुर्घटनाग्रस्त विमान की तस्वीर बताया है.

लेकिन भारतीय फ़ाइटर विमान की ये तस्वीर साल 2015 की है और इसका पाकिस्तान से कोई कनेक्शन नहीं है.

भारतीय वायु सेना का ये विमान तकनीकी ख़राबी के कारण ओडिशा के मयूरभंज ज़िले में 3 जून 2015 को गिरा था.

इस दुर्घटनाग्रस्त विमान की कई तस्वीरें फ़ोटो एजेंसी गेटी पर उपलब्ध हैं.

इमेज कॉपीरइट Twitter
Image caption पाकिस्तान के अख़बार एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने इस पुरानी तस्वीर को आज का बताकर इस्तेमाल किया है

एक और पुरानी फ़ोटो

इसी तरह की एक और तस्वीर है जिसे पाकिस्तानी मीडिया और सोशल मीडिया पर काफ़ी शेयर किया जा रहा है.

लोगों ने इस वायरल तस्वीर के साथ दावा किया है कि भारतीय वायु सेना का एक विमान पाकिस्तान की सीमा में गिरा और एक इमारत से जा टकराया.

लेकिन ये वायरल तस्वीर पाकिस्तान की नहीं, बल्कि राजस्थान के जोधपुर की है.

तस्वीर में दिख रहा भारतीय फ़ाइटर विमान- मिग 27 था जो कि जोधपुर में 13 जून 2016 को गिरा था.

इससे जुड़ी तमाम तस्वीरें और ख़बरें भी इंटरनेट पर मौजूद हैं.

(ऐसी ख़बरें, वीडियो, तस्वीरें या दावे आपके पास भी आते हैं, जिनपर आपको शक़ है तो उनकी सत्यता जाँचने के लिए आप +91-9811520111 पर व्हाट्सऐप पर उन्हें BBC News को भेजें या यहाँ क्लिक करें.)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार