#Balakot एयर स्ट्राइक में जैश के 250 आतंकवादी मारे गए: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह

  • 4 मार्च 2019
अमित शाह इमेज कॉपीरइट EPA

भारत ने 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के चरमपंथी कैम्प पर एयर स्ट्राइक करने का दावा किया था. लेकिन भारत की ओर से आधिकारिक तौर पर अबतक ये नहीं बताया गया कि इस हमले में कितने चरमपंथी मारे गए.

लेकिन रविवार को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने अपनी एक रैली में दावा किया कि एयर स्ट्राइक में "250 से ज़्यादा" आतंकवादी मारे गए थे.

वो सत्तारूढ़ पार्टी के पहले नेता हैं जिन्होंने इस हमले में चरमपंथियों की मौत के आंकड़े को लेकर बयान दिया है.

हालांकि कोयंबटूर में सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस में भारतीय वायुसेना के अध्यक्ष बीएस धनोआ ने कहा, "ऐसे हमलों में हम कितने लोग मरे, ये नहीं गिन सकते थे. ये हमारा काम नहीं है. हम केवल यह गिन पाते हैं कि कितने टारगेट को निशाना बनाया. हमें जो टारगेट मिला, उसे हमने हिट किया."

उन्होंने ये भी कहा कि हम अगर जंगल में बम गिरा आते तो पाकिस्तानी फ़ाइटर प्लेन हमारा पीछा क्यों करते.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

अहमदाबाद में एक जनसभा में अमित शाह ने गुजराती में कहा, "उरी के बाद हमारे सुरक्षाबल पाकिस्तान गए और सर्जिकल स्ट्राइक की. उन्होंने हमारे सैनिकों की मौत का बदला लिया. पुलवामा के बाद हर कोई सोच रहा था कि सर्जिकल स्ट्राइक नहीं होगी, क्या होगा? लेकिन मोदी के नेतृत्व में सरकार ने 13 दिन बाद एयर स्ट्राइक की और 250 से ज़्यादा आतंकियों को मार दिया."

बीजेपी भारतीय वायुसेना की स्ट्राइक का राजनीतिकरण करने की बात से इनकार करती रही है.

अमित शाह के दावे पर सवाल

इससे पहले शनिवार को बीजेपी के अन्य नेता और केंद्रीय मंत्री एसएस आहलूवालिया ने मीडिया पर "अपुष्ट आंकड़े" देने का आरोप लगाया था. उनका कहना था कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी या सरकार के किसी प्रवक्ता या अमित शाह ने कोई आंकड़ा नहीं दिया है तो मीडिया क्यों अपुष्ट आंकड़े चला रहा है.

मीडिया रिपोर्ट्स में करीब 300 चरमपंथियों के मारे जाने का दावा किया जा रहा है. इस बीच अमित शाह के दावे पर विपक्ष सवाल उठा रहा है.

अमित शाह के इस बयान के बाद कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने बीजेपी प्रमुख पर एयर स्ट्राइक का राजनीतिक फायदा लेने का आरोप लगाया.

उन्होंने ट्वीट किया, "वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारी आरजीके कपूर ने कहा था कि चरमपंथियों की मौत का कोई आंकड़ा देना जल्दबाज़ी होगी. लेकिन अमित शाह कह रहे हैं कि एयर स्ट्राइक में 250 चरमपंथी मारे गए. क्या ये एयर स्ट्राइक का राजनीतिक फ़ायदा उठाने की कोशिश नहीं है?"

14 फ़रवरी को सीआरपीएफ के काफ़िले पर आत्मघाती हमला हुआ था जिसमें 40 से अधिक जवान मारे गए. इस हमले की ज़िम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी.

इमेज कॉपीरइट AFP

जिसके बाद भारत ने जवाबी कार्रवाई करते हुए जैश-ए-मोहम्मद के पाकिस्तान स्थित कैम्प पर हमला करने का दावा किया था.

पाकिस्तान ने इस हमले में किसी के हताहत होने की बात से इनकार किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार