लगता है 2024 में चुनाव नहीं होगा- साक्षी महाराज: पांच बड़ी खबरें

  • 16 मार्च 2019
साक्षी महाराज इमेज कॉपीरइट PTI

बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने लोकसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान से एक महीने पहले भविष्यवाणी की है.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक उन्नाव से सांसद साक्षी महाराज ने कहा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद देश में चुनाव की ज़रूरत नहीं होगी, इसके लिए मैं मोदी की सुनामी को धन्यवाद देता हूं.

उन्नाव में उन्होंने कहा, '' मोदी नाम की सुनामी है. देश में जागृति आई है. मुझे लगता है कि इस चुनाव के बाद 2024 में चुनाव नहीं होगा. केवल यही चुनाव है. इस देश के लिए प्रत्याशी जितवाने का काम करें. ''

कांग्रेस प्रवक्ता जीशान हैदर ने बीबीसी से कहा कि साक्षी महाराज ने बीजेपी की मंशा को सामने ला दिया है.

उन्होंने कहा, " जिस तरह से नरेंद्र मोदी और अमित शाह आज भारतीय जनता पार्टी को चला रहे हैं . सारे संस्थान ख़त्म किए जा रहे हैं. साक्षी महाराज ने अब ये साफ कर दिया है कि अगर भारतीय जनता पार्टी फिर से आ गई तो इस देश में तानाशाही होगी. किसी संस्थान का कोई मतलब नहीं होगा."

देश में लोकसभा चुनाव की तारीखों का एलान किया जा चुका है.

11 अप्रैल को पहले चरण के मतदान होंगे. इस बार कुल सात चरणों में मतदान होंगे और 23 मई को वोटों की गिनती की जाएगी.

इमेज कॉपीरइट TWITTER/AMIT SHAH

'अज़हर पर फ़ैसले में शामिल थीं सोनिया'

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर 'कंधार हाईजैक' मामले का राजनीतिकरण करने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि मसूद अज़हर को छोड़ने के फ़ैसले में मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी शामिल थीं.

अमित शाह ने कहा, '' कंधार हाईजैक के तुरंत बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने इस विषय पर चर्चा के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाई थी. इस बैठक में सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह भी शामिल थे. देश की जनता की भावना को देखते हुए और विमान में फंसे लोगों की सुरक्षा के लिए सभी राजनीतिक दलों ने मिलकर मसूद अज़हर को छोड़ने का फ़ैसला लिया था. ''

इमेज कॉपीरइट ALKA LAMBA FACEBOOK PAGE

'कांग्रेस का प्रस्ताव मिला तो गर्व होगा'

आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल और शीर्ष नेतृत्व से नाराज़ चल रहीं पार्टी विधायक अलका लांबा कांग्रेस में शामिल होने की योजना बना रही हैं. उन्होंने कहा है, 'ये मेरे लिए गर्व की बात होगी अगर मुझे कांग्रेस से प्रस्ताव दिया जाए.'

अलका लांबा ने कहा है, ''मेरे पास अब तक कोई ऐसा प्रस्ताव कांग्रेस की ओर से नहीं आया है. अगर मुझे ऐसा प्रस्ताव दिया जाएगा तो ये मेरे लिए गर्व की बात होगी. मैंने 20 साल उस पार्टी में बिताए हैं. निर्णय कांग्रेस को लेना है.''

इससे पहले उन्होंने ट्वीट किया था, '' 5 साल पहले दिल्ली में बीजेपी को हराने के लिये मैंने कांग्रेस का 20 साल पुराना साथ छोड़ा, बीजेपी हारी. आज जब देश में बीजेपी को हराने की बारी आई है तो 5 साल का साथ छोड़ना गलत कैसे? आज देख कर ख़ुशी हो रही है कि आप और मैं दोनों काँग्रेस के हाथ मजबूत करते हुए बीजेपी को हारता हुआ देखना चाहते हैं. ''

इमेज कॉपीरइट TWITTER/@NARENDRAMODI

'गुजरात मार्केटिंग कंपनी बन गई है'

गुजरात में बीजेपी की नेता रेशमा पटेल ने शुक्रवार को पार्टी से इस्तीफा देते हुए आरोप लगाया कि यह पार्टी एक 'मार्केटिंग कंपनी'बन गयी है और इसके सदस्य 'सेल्स पर्सन' बन गये हैं. पटेल ने कहा है कि वह आगामी लोकसभा चुनाव पोरबंदर सीट से लड़ेंगी.

उन्होंने ये भी साफ़ किया है कि वह कांग्रेस में शामिल नहीं होंगी और निर्दलीय चुनाव लड़ेंगी. रेशमा पटेल पटेल आरक्षण आंदोलन से जुड़ी थीं. दिसंबर 2017 में विधानसभा चुनावों से पहले वो बीजेपी में शामिल हो गयी थीं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

क्राइस्टचर्च हमला: अभियुक्त की कोर्ट में पेशी

न्यूज़ीलैंड के क्राइस्टचर्च में दो मस्जिदों पर हमला करके कम से कम 49 लोगों की जान लेने वाले 28 वर्षीय ब्रेंटन टेरैंट को अदालत में पेश किया गया है, जहां उन्होंने कुछ नहीं कहा. इस हमले के बाद प्रधामंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने देश के बंदूक क़ानूनों को बदलने का वादा किया है. उन्होंने बताया कि संदिग्ध के पास बंदूक रखने का लाइसेंस था और उसने हमले में पांच बंदूकों का इस्तेमाल किया.

क्राइस्टचर्च शहर में ध्वज आधे झुका दिए गए हैं और कई खेल और मनोरंजन आयोजनों को रद्द कर दिया गया है. मेयर का कहना है कि हमले ने शहर को हमेशा के लिए बदल दिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

मिलते-जुलते मुद्दे

संबंधित समाचार