गोवा में कांग्रेस ने पेश किया सरकार बनाने का दावा

  • 16 मार्च 2019
गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर इमेज कॉपीरइट twitter.com/manoharparrikar

भारत में लोकसभा चुनाव की सरगर्मियों के बीच गोवा में एक बार फिर राजनीतिक हलचल तेज़ हो गई है.

कांग्रेस ने एक बार फिर राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश किया है.

कांग्रेस ने राज्यपाल को चिट्ठी लिखकर बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार को अल्पमत में बताते हुए इसे तुरंत भंग करने की मांग की है.

इस चिट्ठी में राज्यपाल से कहा है कि राज्य की इकलौती सबसे बड़ी पार्टी होने के कारण कांग्रेस को सरकार बनाने का न्योता दिया जाए.

कांग्रेस ने ख़त मे यह भी लिखा है, "गोवा को राष्ट्रपति शासन के आधीन लाने की किसी भी तरह की कोशिश अवैध होगी और इसे चुनौती दी जाएगी."

इमेज कॉपीरइट twitter.com/goacm
Image caption गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की सेहत इन दिनों ठीक नहीं है

क्या है चिट्ठी में

गोवा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस विधायक दल के नेता चंद्रकांत बाबू कावलेकर की ओर से राज्यपाल मृदुला सिन्हा को लिखी चिट्ठी का विषय है- सरकार बनाने का दावा.

राज्यपाल को भेजी गई इस चिट्ठी में चार बिंदुओं में बात रखी गई है. पहले बिंदु में लिखा गया है कि भारतीय जनता पार्टी के विधायक फ्रांसिस डीसूज़ा के निधन के बाद राज्य में मनोहर पर्रिकर के नेतृत्व में चल रही सरकार ने विश्वास मत खो दिया है.

आगे लिखा है, "हमें लगता है कि बीजेपी की संख्या और कम हो सकती है, ऐसे में अल्पमत में आई सरकार को जारी नहीं रखना चाहिए."

इमेज कॉपीरइट GOAVIDHANSABHA.GOV.IN
Image caption गोवा में कांग्रेस के पास सबसे अधिक 14 सीटें हैं

दूसरे बिंदु में कहा गया है कि कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी है और अभी बहुमत में है और इसे सरकार बनाने के लिए बुलाया जाए.

तीसरे पॉइंट में चेताया गया है कि संविधान को दरकिनार करते हुए सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करने के बजाय राष्ट्रपति शासन लगाने की कोशिश करना अलोकतांत्रिक होगा और इसे चुनौती दी जाएगी.

आख़िर में लिखा गया है कि 'इसलिए हम राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश करते हैं और मांग करते हैं कि मौजूदा बीजेपी सरकार को भंग करके हमें सरकार बनाने के लिए बुलाया जाए.'

क्या है स्थिति

गोवा में अभी कांग्रेस के पास सबसे ज़्यादा 14 सीटें हैं. 40 सीटों वाली गोवा विधानसभा में अभी 37 सदस्य हैं, 3 सीटें खाली हैं.

सत्ताधारी बीजेपी के पास 13 सीटें हैं. उसे तीन-तीन सीटों वाली गोवा फ़ॉरवर्ड पार्टी और महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी का समर्थन हासिल है.

एनसीपी के पास एक सीट है जबकि तीन अन्य निर्दलीय विधायक बीजेपी गठबंधन का समर्थन कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूबपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार